कोरोना संक्रमण के बीच अब इस संदिग्ध बीमारी ने बढ़ाई चिंता, यहां 50 लोगों की मौत

अबुजा। जहां पूरा विश्व इस वक्त कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है और अब तक लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि करोड़ों लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, अब नाइजीरिया में एक संदिग्ध बीमारी ने डाॅक्टरों के होष उड़ा दिए है। इस बीमारी ने कहर बरपा रखा है। इस बीमारी से नाइजीरिया में… Continue reading कोरोना संक्रमण के बीच अब इस संदिग्ध बीमारी ने बढ़ाई चिंता, यहां 50 लोगों की मौत

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 मामले 8.39 करोड़ हुए

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 8.39 करोड़ तक पहुंच गई है, जबकि मौतें 18.2 लाख से अधिक हो गई हैं। यह जानकारी जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ने शनिवार को दी।

श्विक स्तर पर कोविड-19 के आंकड़े 7.67 करोड़ से अधिक

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 7.67 करोड़ से अधिक हो गई है, जबकि संक्रमण से होने वाली मौतें 16.9 लाख से अधिक हो गई है।

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 मामले 7.16 करोड़ हुए

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 7.16 करोड़ से अधिक हो गई है, जबकि घातक संक्रमण से हुई मौतें 16 लाख का आंकड़ा पार कर चुकी हैं।

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले हुए 4.44 करोड़

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 4.44 करोड़ हो गई है, जबकि संक्रमण से होने वाली मृत्यु बढ़कर 1,173,270 हो गई है।

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 4.15 करोड़ हुए

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या बढ़कर 4.15 करोड़ हो गई है, जबकि संक्रमण से होने वाली मौतें 1,135,880 हो गई हैं।

त्योहार भूलें, घर बैठें

यदि आप मनुष्य हैं तो मोदी सरकार के झांसे में कतई नहीं आएं। न फिल्म देखने सिनेमा हॉल जाएं और न बच्चों को स्कूल भेजें। आज से नवरात्रि है तो घर बैठ कर पूजा-पाठ करें। न मंदिर की लाइन में खड़े होना चाहिए और न रामलीला आयोजन करें या उसे देखने वरावण दहन में जाएं।

आधी रोटी खाएं पर पहले बचें।

न आएं सरकार के बहकावे में। त्योहारी सीजन में न धंधा बनना है और न कमाई होनी है इसलिए बेहतरी है जीवन को पूरी तरह आधी रोटी की न्यूनतम जरूरत में दो-तीन साल के लिए बांध दें। भूल जाएं कि भारत जल्दी‘नॉर्मल दिनों’ में लौट आएगा और लोग घरों से निकलेंगे, सिनेमा ह़ॉल मे फिल्म देखने जाएंगे या पैसे ले कर निकलेंगे और त्योहारी खरीदारी होगी।

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.77 करोड़ के पार

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 3.77 करोड़ का आंकड़ा पार कर गई है, जबकि संक्रमण से हुई मौतों की संख्या 1,078,860 से अधिक हो गई हैं।

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.64 करोड़ हुए

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 3.64 करोड़ तक पहुंच गई है, जबकि संक्रमण से होने वाली मौतें 1,060,860 से अधिक हो गई हैं। यह जानकारी जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने शुक्रवार को दी।

सऊदी अरब ने भी भारतीय उड़ानों पर रोक लगाई

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की वजह से दुनिया के देशों ने भारत की उड़ानों पर पाबंदी लगानी शुरू कर दी है। हांगकांग के बाद अब सऊदी अरब ने भारत की उड़ानों पर पाबंदी लगाई है।

भारत में सामने आए 61 हजार नए कोविड-19 मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में बीते 24 घंटे में सोमवार को 61,407 ताजा कोरोनावायरस मामले सामने आए हैं, जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले

सभी राज्य संख्या छिपा रहे हैं!

कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच ऐसा लग रहा है कि सारे राज्य संख्या छिपा रहे हैं और इसके लिए सभी एक जैसी होशियारी कर रहे हैं। सारे राज्यों ने कोविड-19 से होने वाली मौतों की संख्या तय करने और उन्हें सार्वजनिक करने के लिए एक कमेटी बना रखी है।

अफ्रीकाः कोरोना की गहरी मार

कोरोना वायरस से दुनिया भर में फैले आतंक और अफरातफरी के बारे में एक समझ यह भी है कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि इस बीमारी का कहर धनी देशों पर टूटा।

कोरोना का सबक क्या होगा

कोरोना वायरस का संकट देर-सवेर टल जाएगा। जो, आधुनिक, विकसित और सभ्य देश हैं उनके यहां चार-छह महीने में संकट खत्म होगा और भारत जैसे विकासशील या पिछड़े देशों में इसे खत्म होने में डेढ़-दो साल भी लग सकते हैं।

अभी ये कथा ना बताएं

पहली नजर में भारत सरकार से आई ये जानकारी राहत देने वाली लगती है कि भारत में लॉकडाउन होने के बाद कोरोना वायरस से पीड़ित नए मरीजों की संख्या दोगुनी होने की रफ्तार काफी गिर गई है।

कोरोना के इस काल में हम क्या करें?

हमारे केंद्र और राज्यों की सरकारें कोरोना से लड़ने में कसर नहीं छोड़ रही हैं लेकिन हम एक अरब 38 करोड़ लोग घरों में बैठे-बैठे क्या कर रहे हैं ? यदि हम डाक्टरों, नर्सों, पुलिसवालों, ड्राइवरों, भोजन बनाने और बांटनेवालों को छोड़ दें तो बाकी करोड़ों लोग क्या कर रहे हैं ?वे उदासी के समुद्र… Continue reading कोरोना के इस काल में हम क्या करें?

जांच बढ़ने के बाद असली आकलन होगा!

भारत में कोरोना वायरस का पीक कब आएगा और तब देश की स्थिति क्या होगी, इसे लेकर भी खूब अटकलें लगाई जा रही हैं। कई जानकार मान रहे हैं कि पूरे देश में मई में पीक आएगा। हो सकता है ऐसा हो पर यह अंदाजा नहीं लग रहा है कि पीक के समय भारत में कितने केसेज होंगे और कितनी मौतें होंगी।

इटली, दक्षिण कोरिया में फैला संक्रमण

बीजिंग/शंघाई। चीन में फैले घातक कोरोना वायरस का संक्रमण अब दुनिया के कई दूसरे देशों में फैलने लगा है। चीन और जापान के समुद्र तट पर खड़े लक्जरी जहाज के अलावा दक्षिण कोरिया में इसका संक्रमण काफी तेजी से फैला है और इटली में भी दो लोगों की मौत हो गई है। इस बीच चीन… Continue reading इटली, दक्षिण कोरिया में फैला संक्रमण