Corona Vaccine : कोवैक्सीन, कोविशील्ड या फिर स्पुतनिक-वी..किसमें कितना है दम, आइये जानते है..

कोरोना वायरस लोगों का काल बन चुका है। आये दिन बड़ी संख्या में मौत को और संक्रमितों के आंकड़े दर्ज हो रहे है। कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच सरकार ने लोगों को वैक्सीनेट करने की प्रक्रिया भी तेज करने की कोशिश शुरू कर दी है। भारत में बनी दोनों वैक्सीन विदेशों में भी कारगर है।  इन सबके बीच रूस की वैक्सीन स्पुतनिक V को भी भारत में इमरजेंसी यूज की मंजूरी दे दी है और अगले सप्ताह से यह वैक्सीन भी भारत के लोगों को लगनी शुरू हो जाएगी। फिलहाल भारत में सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन- इन दोनों वैक्सीन की डोज लग रही है। लेकिन इन तीनों में से कौन सी वैक्सीन कितनी असरदार है और किसके क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, इस बारे में हम आपको यहां बता रहे हैं….. इसे भी पढ़ें Good News : रूसी वैक्सीन स्पुतनीक-वी का एक डोज मिलेगा 995.4 रुपये में, सबसे पहले प्राइवेट सेक्टर को मिलेगी वैक्सीन तीनों में से किस वैक्सीन की क्षमता कितनी है? प्रभावकारिता यानी वैक्सीन की क्षमता की बात करें तो रूस की स्पुतनिक V 91.6 प्रतिशत असरदार है और बीमारी की गंभीरता को कम करने में इसकी प्रतिक्रिया काफी अधिक है।… Continue reading Corona Vaccine : कोवैक्सीन, कोविशील्ड या फिर स्पुतनिक-वी..किसमें कितना है दम, आइये जानते है..

Corona Vaccine : पैनल ने दिये लोगों के जवाब, आप भी जानें वैक्सीन से जुड़ी जरूरी बातें 

New Delhi : देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है. यहीं कारण है कि लोगों की आस अब टीके से लगी हुई है. इन सबके बीच लोगों को कोरोना के टीके को लेकर कई सवाल हैं जिनका स्पष्ट जवाब अब तक लोगों को नहीं मिल पाया है. कोरोना संक्रमित मरीजों को वैक्सीन की डोज कब लेनी चाहिए और गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं कब कोविड टीका लगवा सकती हैं? ऐसे कई सवाल अक्सर लोगों के मन में उठते हैं. सरकारी पैनल ने गुरुवार को इन सवालों के जवाब देते हुए सिफारिश की है कि कोरोना संक्रमित मरीजों को ठीक होने के 6 महीने बाद ही वैक्सीन की पहली डोज लेनी चाहिए. सूत्रों के मुताबिक, सरकार के राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) ने कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड की दोनों खुराकों के बीच अंतर बढ़ाकर 12-16 हफ्ते यानी करीब 4 महीने करने की सिफारिश की है. हालांकि, कोवैक्सिन की खुराकों के लिए बदलाव की अनुशंसा नहीं की गई है. बता दें कि वर्तमान में कोविशील्ड टीके की दो खुराकें 4-8 हफ्ते के अंतराल पर दी जाती हैं. गर्भवती महिलाएं लगवा सकती हैं दोनों में से कोई भी टीका सरकारी पैनल ने कहा कि गर्भवती महिलाओं को कोविड-19… Continue reading Corona Vaccine : पैनल ने दिये लोगों के जवाब, आप भी जानें वैक्सीन से जुड़ी जरूरी बातें 

Good News: 2 से 18 साल के बच्चों के का होगा क्लीनिकल ट्रायल ,भारत बायोटेक को मिली मंजूरी

New Delhi: कोरोना कू दूसरी लहर से भारत में हर कहीं हाहाकार मचा हुआ है. लेकिन कोरोना के प्रकोप की बाच अब एक बार फिर से राहत वाली खबर भी आई  है.  भारत बायोटेक अपनी कोरोना रोधी वैक्सीन कोवैक्सीन का दो से 18 साल के बच्चों पर जल्द ही दूसरे और तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल शुरू करेगी. कोरोना पर गठित विशेषज्ञों की समिति ने मंगलवार को ट्रायल शुरू करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है. दिल्ली एवं पटना के एम्स और नागपुर स्थिति मेडिट्रिना इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइसेंस समेत देश के विभिन्न केंद्रों पर 525 वालंटियर पर यह ट्रायल किया जाएगा. भारत बायोटेक ने मांगी थी ट्रायल की अनुमति हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने दो से 18 साल के बच्चों पर कोवैक्सीन की सुरक्षा और प्रतिरक्षा का आकलन करने की अनुमति मांगी थी. कोरोना पर गठित केंद्रीय दवा मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने मंगलवार को भारत बायोटेक के आवेदन पर व्यापक विचार विमर्श करने के बाद उसे ट्रायल की मंजूरी दी. एसईसी ने दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल की सिफारिश करते हुए यह शर्त भी रखी है कि भारत बायोटेक तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल शुरू करने… Continue reading Good News: 2 से 18 साल के बच्चों के का होगा क्लीनिकल ट्रायल ,भारत बायोटेक को मिली मंजूरी

कोविड वैक्सीन के बाद सेक्स कितना सेफ ?  जानें, क्या कहते हैं  एक्सपर्ट्स

New Delhi: कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बरसा रही है. देश में हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे है. ऐसे में अब लोगों को कोरोना की वैक्सीन से ही उम्मीद है. कोरोना की वैक्सीन को लेकर अफवाहों का बाजार भी काफी गर्म रहा है. लोगों के मन में अभी भी वैक्सीन को लेकर कई तरह का संशय है.सोशल मीडिया पर हाल में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा इस बात की हो रही है कि  क्या कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद सेक्स करना सुरक्षित है? या इससे कई तरह की परेशानियां हो सकती है.  बता दें कि इस बारे में अब तक स्वास्थय मंत्रालय की ओर से अब तक कोई  दिशानिर्देश जारी नहीं किए गए हैं. लेकिन जब हमने इस बारे में जानकारी हासिल करनी चाही तो ये बात सामने आई. क्या कहा मेडिकल एक्सपर्ट्स ने कोरोना की वैक्सीन लेने के बाद सेक्स को सुरक्षित बताने के सवाल को जब हमने कुछ एक्सपर्ट से पूछा तो उनका कहना था कि  वैक्सीन लेने के बाद हमें कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. एक्सपर्ट्स का कहना है कि पुरुष और महिलाओं को वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद गर्भनिरोधक का इस्तेमाल करना चाहिए. इसके साथ ही  फैमिली प्लानिंग से… Continue reading कोविड वैक्सीन के बाद सेक्स कितना सेफ ?  जानें, क्या कहते हैं  एक्सपर्ट्स

डीसीजीआई भारत बायोटेक के वैक्सीन का एप्रूवल वापस लें : एआईडीएएन

ऑल इंडिया ड्रग एक्शन नेटवर्क (एआईडीएएन) ने कहा है कि वह भारत बायोटेक के कौवैक्सीन को क्लिनिकल ट्रायल मोड के लिए एसईसी द्वारा की गई सिफारिश के बारे में जान कर हैरान है।

कोविड-19: स्वदेशी टीका 15 अगस्त तक उपलब्ध कराने का लक्ष्य

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कोविड-19 का स्वदेशी टीका चिकित्सकीय उपयोग के लिए 15 अगस्त तक उपलब्ध कराने के मकसद से चुनिंदा चिकित्सकीय संस्थाओं और अस्पतालों से कहा है

और लोड करें