सब ठीक का ‘न्यू नार्मल’

ऐसा नहीं है कि यह हालात एक महीने पहले नागरिकता कानून पास होने के बाद बने हैं। पिछले तीन महीने से यह राष्ट्रीय राजधानी का न्यू नार्मल (सब कुछ सामान्य का नया अर्थ) है। सड़कों का बंद होना, ट्रैफिक डायवर्ट होना, इंटरनेट का बंद होना, मेट्रो स्टेशन का बंद होना अब भारत की राजधानी का न्यू नार्मल है।

आम आदमी के मुद्दों को लेकर सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस : शुक्ला

उत्तर प्रदेश सरकार पर महिला असुरक्षा,किसान और व्यापारियों की बदहाली का आरोप लगाते हुये कांग्रेस ने जल्द ही एक बड़े आंदोलन का ऐलान किया है।