देश में COVID 19 से लगातार राहत, लेकिन सता रहा तीसरी लहर का डर, अब सरकार उठा रही ये बड़ा कदम

नई दिल्ली | Corona Latest Update: देश में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) की दूसरी लहर की रफ्तार भले ही कम हो गई है, लेकिन कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) की आशंकाओं के बीच इसके खिलाफ लड़ाई की तैयारी भी तेज गई है। सभी राज्यों की सरकारें कोरोना के कोहराम से सबक लेते हुए अब तीसरी लहर को नियंत्रित करने में लगी हुई हैं। वहीं इसी दौरान देश में पिछले 24 घंटे 60 हजार 471 नए कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा सामने आया है, वहीं इसी दौरान 2 हजार 726 लोगों की संक्रमण से मौत भी हुई है। इसी के साथ 1 लाख 17 हजार 525 लोग कोरोना से जंग जीतकर वापस घर लौटे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, देश में अब तक कोरोना से कुल 29570881 लोग संक्रमित हो चुके हैं। जिनमें से 28280472 लोग रिकवर भी हुए हैं। वहीं देश में अब तक कुल 377031 मरीजों की कोरोना से मौत हुई है। अभी देश में 913378 मरीज कोरोना का इलाज करवा रहे हैं। देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंकाओं को देखते हुए दिल्ली के एम्स (Delhi AIIMS) में आज वैक्सीन के ट्रायल के लिए 6 से 12 साल के बच्चों के… Continue reading देश में COVID 19 से लगातार राहत, लेकिन सता रहा तीसरी लहर का डर, अब सरकार उठा रही ये बड़ा कदम

बच्चों पर वैक्सिन ट्रायल! आज से Delhi AIIMS में 6 से 12 वर्ष आयु के बच्चों की शुरू होगी स्क्रीनिंग

नई दिल्ली | देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से हुई तबाही के बाद अब बच्चों पर तीसरी लहर के दुष्प्रभाव की संभावना को देखते हुए सरकार देश में तेजी के साथ टीकाकरण के दायरे को बढ़ाने पर काम कर रही है। ऐसे में अब बच्चों को टीका लगाने को लेकर लगातार ट्रायल किए जा रहे हैं। दिल्ली एम्स (Delhi AIIMS) में भी आज मंगलवार से 6 से 12 वर्ष की आयु के बच्चों की स्क्रीनिंग शुरू होगी। इस आयु वर्ग के बच्चों पर भारत बायोटैक द्वारा निर्मित स्वदेशी टीका कोवैक्सिन (Covaxin) का ट्रायल किया जाएगा। केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के प्रकोप को देखते हुए 12-18 वर्ष आयु वर्ग के 1 करोड़ 30 लाख बच्चों में 80 प्रतिशत को तेजी से टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। ये भी पढ़ें:- जब मुंह का बिगड़ने लगे स्वाद, तो हो जाए सावधान, इस गंभीर बीमारी के हो सकते हैं लक्षण जानकारी के अनुसार, 12 से 18 साल की उम्र वालों में कोवैक्सिन का क्लिनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है। बीते शनिवार तक जिन बच्चों को वैक्सीन लगाई गई है वो अब तक पूरी तरह से स्वस्थ हैं। ये भी पढ़ें:- Corona New Variant ‘Delta Plus’: कोरोना का नया वेरियंट… Continue reading बच्चों पर वैक्सिन ट्रायल! आज से Delhi AIIMS में 6 से 12 वर्ष आयु के बच्चों की शुरू होगी स्क्रीनिंग

Corona safety: ऐसे घर पर ही कर लें फेफड़ों की जांच, WHO  व ICMR ने भी की है पुष्टि

New Delhi: देशभर में  फैले कोरोना के मामलों को देख अब लोग घर से बाहर नहीं जाना चाह रहे हैं. ऐसे में लोग घर पर ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन की जांच कर रहे हैं. लेकिन इसके बाध भी कई लोग संतुष्त नहीं हो पा रहे हैं. अब विशेषज्ञों ने कोरोना के मरीज को होम आइसोलेशन में रहते हुए ऑक्सीजन लेवल की मॉनिटरिंग करने की सलाह दी है. विशेषज्ञ डॉक्टरों का कहना है कि सामान्य अवस्था में ऑक्सीजन लेवल की माप सही से नहीं हो पाती है. ऑक्सीजन की सही माप का पता छह मिनट चलने के बाद ही लगाया जा सकता है. दरअसल, कई लोग बिना वजह के भी सीटी स्कैन (Hrct Test) करवा रहे हैं. दिल्ली एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने इससे कैंसर के होने का खतरा बताया है. एम्स डायरेक्टर डॉ गुलेरिया  ने कहा कि 1 सीटी स्कैन 300 से 400 एक्स-रे (X-Ray) के बराबर होता है. अत: बिना डॉक्टरी से सलाह लिए और जरूरत के बिना ही सीटी स्कैन करवाने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है (Cancer Risk Increases). 6 मिनट पैदल चल पता करें ऑक्सीजन लेवल   कोरोना से उत्पन्न हालातों को देखते हुए डॉक्टरों का कहना है कि  6 मिनट पैदल चलने के बाद… Continue reading Corona safety: ऐसे घर पर ही कर लें फेफड़ों की जांच, WHO  व ICMR ने भी की है पुष्टि

और लोड करें