kishori-yojna
दिल्ली में टूटती मर्यादाएं

निर्वाचन आयोग ने अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा को भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाने का निर्देश दिया है। दोनों ने दिल्ली विधान सभा के चुनाव के लिए जारी प्रचार के दौरान भड़काऊ भाषण दिए थे। इसके पहले भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा भी ऐसी बात कह चुके थे। उनके खिलाफ भी आयोग ने कार्रवाई की। लेकिन ये तमाम कार्रवाइयां दिखावटी महसूस होती हैं, क्योंकि भाजपा नेताओं को इनसे कोई फर्क नहीं पड़ता। पार्टी के नेता खुलकर सांप्रदायिक प्रचार कर रहे हैं। उनके इस शोर के बीच शासन एवं प्रशासन संबंधी प्रमुख मुद्दे गायब हो गए हैं। आम आदमी पार्टी की इसके लिए तारीफ जरूर करनी होगी कि वहग अपने काम पर वोट मांग रही है। जबकि भाजपा का मुख्य निशाना शाहीनबाग और नागरिकता संशोधन कानून विरोधी आंदोलन है। उसका कहना है कि दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के बहाने नरेंद्र मोदी के खिलाफ विरोध हो रहा है। पार्टी ने कहा है कि दिल्ली का चुनाव में जीतते ही वह शाहीन बाग का रास्ता खुलवा देगी। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2015 में आम आदमी पार्टी (आप) ने अकेले 54 फीसदी वोट के साथ 70 में से 67 सीटें जीती थीं। इसी इतिहास को दोहराने की… Continue reading दिल्ली में टूटती मर्यादाएं

यह ध्रुवीकरण नहीं, धुंआकरण है

एक पुरानी कहावत है कि प्रेम और युद्ध में किसी नियम-कायदे का पालन नहीं होता। मैं सोचता हूं कि यह कहावत सबसे ज्यादा लागू होती है हमारे चुनावों पर! चुनाव जीतने के लिए कौन-सी मर्यादा भंग नहीं होती ? कोई भी प्रमुख उम्मीदवार यह दावा नहीं कर सकता कि उसने चुनाव-अभियान के लिए अंधाधुंध पैसा नहीं बहाया है। चुनाव आयोग द्वारा बांधी गई खर्च की सीमा का उल्लंघन कौन प्रमुख उम्मीदवार नहीं करता ? शराब, नकदी और तरह-तरह के तोहफों का अंबार लगा रहता है। दिल्ली में आजकल जो चुनाव-अभियान चल रहा है, उसमें उक्त मर्यादा-भंग तो हो ही चुका है लेकिन कुछ नेताओं ने ऐसे बोल बोले हैं, जो उनकी अपनी प्रतिष्ठा को तो धूमिल करते ही है, उनकी पार्टी को भी बदनाम करते हैं। वे बयान भारतीय राजनीति को उसके निम्नतम स्तर पर ले जाते हैं। राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर और भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा, दोनों ही युवक मुझे प्रिय हैं। इन दोनों के पिताजी मेरे मित्र रहे हैं। दोनों का व्यक्तित्व आकर्षक है लेकिन मेरी समझ में नहीं आता कि दोनों ने ऐसी बातें कैसे कह दीं, क्यों कह दीं ? ‘देश के गद्दारों को, गोली मारो इन सालों’ को और ‘ये लोग तुम्हारे घरों में घुसकर बलात्कार… Continue reading यह ध्रुवीकरण नहीं, धुंआकरण है

अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर कार्रवाई

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर और भाजपा के सांसद प्रवेश वर्मा के खिलाफ केंद्रीय चुनाव आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भड़काऊ भाषण देने की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए चुनाव आयोग ने भाजपा को निर्देश दिया है कि वह इन दोनों नेताओं को अपने स्टार प्रचारकों की सूची से बाहर करे। इससे पहले चुनाव आयोग ने दोनों नेताओं को 28 जनवरी को नोटिस भेज कर जवाब मांगा था। एक दिन बाद ही चुनाव आयोग ने उन पर कार्रवाई का निर्देश दिया है। चुनाव आयोग का यह आदेश अंतरिम है। दोनों नेताओं को गुरुवार 12 बजे तक जवाब देने का वक्त दिया है। इसके बाद आयोग की बैठक में इन पर अंतिम फैसला लिया जाएगा। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने 27 जनवरी को रिठाला में रैली की थी। इस रैली का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें ठाकुर ने भीड़ से भड़काऊ नारे लगवाए थे। कांग्रेस ने इसे ध्रुवीकरण की कोशिश बताया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भेजकर जवाब मांगा था। पश्चिम दिल्ली से सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे प्रवेश वर्मा ने 28 जनवरी को कहा था- शाहीन बाग में लाखों लोग जमा हैं। दिल्ली… Continue reading अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर कार्रवाई

दीये और तूफान की लड़ाई!

दिल्ली के अरविंद केजरीवाल क्या अभिमन्यु हैं, जो भाजपा के बुने चक्रव्यूह में फंस गए हैं? एक के बाद एक ‘शाहीन बाग’ बनते जाने से ऐसा मानने वालों की संख्या बढ़ रही है कि केजरीवाल सांप्रदायिक व भावनात्मक मुद्दों के जाल में उलझते जा रहे हैं। चुनाव सकारात्मक और आम जनता के सरोकार वाले मुद्दों से भटक कर शाहीन बाग, टुकड़ टुकड़े गैंग के भावनात्मक भंवर में फंस रहा है। ऊपर से भाजपा की ‘19 अक्षौहिणी सेना’ के सामने अकेले केजरीवाल! एक तरफ बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य और परिवहन के मुद्दे तो दूसरी ओर कश्मीर, अनुच्छेद 370, नागरिकता, तीन तलाक के मुद्दे। एक तरफ संसाधनों की भरमार तो दूसरी ओर आम आदमी से चंदे की अपील करता एक नेता। एक तरफ तूफान तो दूसरी ओर एक टिमटिमाता दीया! इस हकीकत को बताने वाली एक तस्वीर देखें फिर दीये और तूफान का फर्क पता चलेगा। सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के रिठाला में सभा की और पूछा कि ‘क्या केजरीवाल टुकड़े टुकड़े गैंग के सदस्य हैं’। उनके साथ दो केंद्रीय मंत्री- गिरिराज सिंह और अनुराग ठाकुर भी थे। बाद में इसी सभा में अनुराग ठाकुर ने नारा लगाया ‘देश के गद्दारों को’ और लोगों ने इसमें जोड़ा… Continue reading दीये और तूफान की लड़ाई!

अनुराग ठाकुर को चुनाव आयोग का नोटिस

नई दिल्ली। दिल्ली में चल रहे विधानसभा चुनाव में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर को चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया है। उन्होंने रिठाला की एक सभा में लोगों से भड़काऊ नारे लगाए थे, जिसकी शिकायत कांग्रेस पार्टी ने चुनाव आयोग से की थी। हालांकि अनुराग ठाकुर ने पूरा नारा नहीं लगाया था। उन्होंने कहा था ‘देश के गद्दारों को’, जिस पर लोगों ने कहा ‘गोली मारो सालों को’। इसी नारे पर चुनाव आयोग ने उनको नोटिस जारी किया है। माना जा रहा है कि भाजपा के सांसद प्रवेश वर्मा को भी चुनाव आयोग से नोटिस जारी किया जा सकता है। गौरतलब है कि पश्चिमी दिल्ली के सांसद प्रवेश वर्मा ने दावा किया था कि दिल्ली में भाजपा की सरकार बनी तो सरकारी जमीनों पर बने सारे मदरसे तोड़ दिए जाएंगे। इसी तरह उन्होंने यह भी कहा था कि दिल्ली में भाजपा जीती तो एक घंटे में शाहीन बाग साफ हो जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि शाहीन बाग के लोग घरों में घुस कर बेटियों, बहनों से बलात्कार कर सकते हैं। कांग्रेस ने इसकी भी शिकायत आयोग से की है। बहरहाल, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने रिठाला में भाजपा उम्‍मीदवार… Continue reading अनुराग ठाकुर को चुनाव आयोग का नोटिस

शाह के बयान से प्रचार में गरमी

नई दिल्ली। दिल्ली में जैसे जैसे चुनाव प्रचार की गरमी बढ़ रही है वैसे वैसे नेताओं के बयानों में भी तल्खी बढ़ रही है। भाजपा, आम आदमी पार्टी और कांग्रेस तीनों शाहीन बाग के मुद्दे पर आक्रामक ढंग से प्रचार कर रहे हैं। भाजपा के नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शाहीन बाग को लेकर शनिवार और रविवार को लगातार दो दिन बयान दिया। रविवार को उन्होंने बाबरपुर में कहा कि लोगों को यहां इतनी जोर से ईवीएम का बटन दबाना चाहिए कि करंट शाहीन बाग में लगे। उनके बयान को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने उनको निशाना बनाया है। केजरीवाल ने उनसे शाहीन बाग पर बयानबाजी बंद करने की अपील करते हुए कहा कि उन्हें शाहीन बाग जाना चाहिए और वहां प्रदर्शन कर रहे लोगों से रास्ता खाली कराना चाहिए। केजरीवाल ने कहा कि शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन की वजह से आम लोगों को बड़ी परेशानी हो रही है। इससे पहले रविवार बाबरपुर विधानसभा क्षेत्र में आयोजित एक रैली में नागरिकता कानून के खिलाफ शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर अमित शाह ने निशाना साधा। उन्होंने कहा- बटन तब इतने गुस्से के साथ दबाना कि बटन यहां… Continue reading शाह के बयान से प्रचार में गरमी

और लोड करें