kishori-yojna
विपक्ष ने राष्ट्रपति से की शिकायत

विवादित कृषि विधेयकों को लेकर विपक्षी पार्टियों के सांसदों ने बुधवार को संसद भवन परिसर में मोर्चा निकाला। उसके बाद विपक्षी पार्टियों का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिला और उनसे अनुरोध किया कि वे कृषि संबंधी विधेयकों पर दस्तखत नहीं करें। विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति से कहा कि राज्यसभा में ध्वनि मत से पास कराए गए इन विधेयकों पर सदन में दोबारा वोटिंग होनी चाहिए।

राज्यसभा में बनी खराब मिसाल

इन दिनों देश में जिस तरह का राजकाज चल रहा है, संसदीय परंपराओं की जिस तरह से अनदेखी की जा रही है, राजनीतिक फायदे के लिए नियमों-कानूनों का जैसा इस्तेमाल हो रहा है और संवैधानिक संस्थाओं से जैसे मनमाने तरीके से काम लिया जा रहा है उसे देखते हुए किसी भी बात पर हैरानी नहीं होनी चाहिए।

राज्यसभा में जो कुछ हुआ, गलत हुआ : नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यसभा में कृषि विधेयकों के पेश करने के बाद विपक्षी सदस्यों द्वारा उपसभापति हरिवंश के साथ किए गए व्यवहार की निंदा करते हुए कहा कि राज्यसभा में कल जो भी करने की कोशिश की गई, वह बुरा हुआ।

और लोड करें