देवगौड़ा परिवार का ड्रामा चालू है

कर्नाटक में पिछले 20 साल में अनेक नाटक हुए हैं। लगभग हर बार नाटक के केंद्र में देवगौड़ा परिवार होता है। जब राजनीतिक नाटक नहीं चल रहे होते हैं तब भी परिवार का नाटक चलता रहता है।