Corona safety: ऐसे घर पर ही कर लें फेफड़ों की जांच, WHO  व ICMR ने भी की है पुष्टि

New Delhi: देशभर में  फैले कोरोना के मामलों को देख अब लोग घर से बाहर नहीं जाना चाह रहे हैं. ऐसे में लोग घर पर ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन की जांच कर रहे हैं. लेकिन इसके बाध भी कई लोग संतुष्त नहीं हो पा रहे हैं. अब विशेषज्ञों ने कोरोना के मरीज को होम आइसोलेशन में रहते हुए ऑक्सीजन लेवल की मॉनिटरिंग करने की सलाह दी है. विशेषज्ञ डॉक्टरों का कहना है कि सामान्य अवस्था में ऑक्सीजन लेवल की माप सही से नहीं हो पाती है. ऑक्सीजन की सही माप का पता छह मिनट चलने के बाद ही लगाया जा सकता है. दरअसल, कई लोग बिना वजह के भी सीटी स्कैन (Hrct Test) करवा रहे हैं. दिल्ली एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने इससे कैंसर के होने का खतरा बताया है. एम्स डायरेक्टर डॉ गुलेरिया  ने कहा कि 1 सीटी स्कैन 300 से 400 एक्स-रे (X-Ray) के बराबर होता है. अत: बिना डॉक्टरी से सलाह लिए और जरूरत के बिना ही सीटी स्कैन करवाने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है (Cancer Risk Increases). 6 मिनट पैदल चल पता करें ऑक्सीजन लेवल   कोरोना से उत्पन्न हालातों को देखते हुए डॉक्टरों का कहना है कि  6 मिनट पैदल चलने के बाद… Continue reading Corona safety: ऐसे घर पर ही कर लें फेफड़ों की जांच, WHO  व ICMR ने भी की है पुष्टि

Director of AIIMS : Remedisivir जादुई दवा नहीं, इलाज में दवाओं की टाईमिंग सही होना भी जरूरी

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि पिछले एक साल में कोविड मैनेजमेंट के जरिए हमने दो अहम…

और लोड करें