कोरोना तो एक बहाना है!

पचास साल से भी ज्यादा समय में ऐसा पहली बार हो रहा है कि इस बार गणतंत्र दिवस के मौके पर कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष या शासनाध्यक्ष बतौर मुख्य अतिथि गणतंत्र दिवस परेड में शामिल नहीं हो रहा है।