डा. पद्मावतीः गॉडमदर आफ कार्डियोलाजी

बात उन दिनों की है जब मैं 1980 में पत्रकारिता के सिलसिले में नौकरी करने दिल्ली आया ही था। एक दिन मेरे एक परिचित का जो कि आला कंपनी में बड़े अधिकारी थे, फोन आया। उन्होंने मुझे बताया कि उनकी कंपनी के एक आला अधिकारी को दिल का दौरा पड़ा है