कोरोना: फिया फाउंडेशन ने डेढ़ करोड़ का सुरक्षा किट दिया

फिया फाउंडेशन ने कोरोना वायरस के मरीजों के उपचार में क्रियाशील स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा के लिए करीब डेढ़ करोड़ रुपये मूल्य का व्यक्तिगत सुरक्षा किट आज झारखंड सरकार को प्रदान किया।

रांची में विकसित की जा रही स्थानीय पीपीई किट

कोरोना वायरस से संक्रमित संदिग्धों की पहचान करने के लिए झारखंड सरकार के स्वास्थ्य कर्मी लोगों के बीच जाकर उनका नमूने इकट्ठा कर रहे हैं और आपूर्ति में कमी को देखते हुए

झारखंड सरकार ने आंगनवाड़ी कर्मियों का मानदेय बढ़ाया

रांची। झारखंड सरकार ने आंगनवाड़ी कर्मियों का मानदेय शनिवार को बढ़ा दिया। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आंगनवाड़ी सेविकाओं का मासिक मानदेय 5900 रुपए से बढ़ाकर 6400 रुपए तथा आंगनवाड़ी सहायकों का मासिक मानदेय 2950 रुपए से बढ़ाकर 3200 रुपए करने की घोषणा की। मिनी आंगनवाड़ी केंद्रों में कर्मियों का मासिक मानदेय 4200 रुपए से बढ़ाकर 4700 रुपए कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुल 73,074 आंगनवाड़ी कर्मियों को इस वृद्धि का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि पिछले 18 सालों में झारखंड में असंगठित क्षेत्र में 13 लाख श्रमिकों का पंजीकरण हुआ और पिछले एक महीने में राज्य श्रम विभाग द्वारा उतने ही और श्रमिक पंजीकृत किये गये जिससे उनकी संख्या 26 लाख हो गयी। उन्होंने कहा, ‘‘जैसे हम सत्यमेव जयते कहते हैं, उसी तरह हमें श्रममेव जयते भी कहना चाहिए क्योंकि निर्माण पूंजी बढ़ाने में सहायक होता है जिससे राज्य समृद्ध बनता है। इसे भी पढ़ें : बिहार उपचुनाव के बाद विधानसभा की तस्वीर बदली

और लोड करें