Uttarakhand : कोरोना काल के बाद खोला गया धरती का पहला शिव मंदिर, कारोबारियों के चेहरे पर आई राहत की सांस

अल्मोड़ा |  पिछले वर्ष 2020 से देशभर के सभी मंदिर बंद है। गत लर्ष से लॉकडाउन का दौर ज़ारी है। कुछ समय के लिए मंदिर और सभी पयर्टन स्थल खोले भी गए थे लेकिन कोरोना फिर अपना भयावह रूप लेकर आया और सभी दर्शनीय स्थल बंद करने पड़े। लेकिन अब कोरोना की दूसरी लहर कम हो रही है। और उत्तराखंड में सभी मंदिर धीरे-धीरे खुल रहे है। हाल ही में महादेव का प्रसिद्ध मंदिर जागेश्वर धाम ( Uttarakhand Almoda Jageshwar Dham ) भक्तों और पुजारियों के लिए खोल दिया गया है। जागेश्वर धाम विश्व प्रसिद्ध है और यहां हर वर्ष लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ता है। कुछ समय पहले जब लॉकडाउन में रियायत मिली तो यात्रा आदि से जुड़े प्रतिबंधों और गाइडलाइनों के चलते श्रद्धालुओं की संख्या काफी कम ही दिखाई दी। कोरोना के बुरे माहौल के बाद अब सभी जगह खुशियां लौटने लगी है। इस मंदिर में कुछ पाबंदिया अभी भी लगी है। कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए भक्तों को मंदिर में जाने की अनुमति मिलेगी। मंदिर के खुलते ही भक्तों और पुजारियों द्वारा कोरोना की भयावह महामारी से निजात दिलाने की प्रार्थना की गई। also read: Char Dham Yatra Start : इस तारीख से श्रद्धालुओं… Continue reading Uttarakhand : कोरोना काल के बाद खोला गया धरती का पहला शिव मंदिर, कारोबारियों के चेहरे पर आई राहत की सांस

Corona Alert: CM उद्धव ठाकरे की बढ़ सकती है परेशानी, टास्क फोर्स ने कहा-अगले 2 से 4 सप्ताह में आ सकती है तीसरी लहर

मुंबई | देश में एक ओर लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या घट रही है. इसे देखते हुए राज्यों में अब लॉकडाउन पर भी छूट दी जाने लगी. लेकिन महाराष्ट्र से एक बार फिर से डराने वाली खबर सुनने को मिली है. महाराष्ट्र में कोरोना नियंत्रण और रोकथाम के लिए बनाए गए टास्क फोर्स ने अंदेशा लगाया है कि अगले दो से 4 हफ्तों में कोरोना की तीसरी जगह आ सकती है . टास्क फोर्स का कहना है कि तीसरी लहर में कुल मामलों की संख्या दूसरी लहर के एक्टिवेशन केस से भी दोगुनी हो सकती है. इसके साथ ही फोर्स का यह भी मानना है कि तीसरी लहर में महाराष्ट्र में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 80 लाख तक पहुंच सकती है जिसमें से 10% युवा और बच्चे हो सकते हैं. बच्चों के प्रभावित होने की सूचना नहीं टास्क फोर्स के इस अनुमान के बाद एक बार फिर से महाराज से सरकार हरकत में आ गई है. हालांकि राहत वाली बात यह है कि इस रिपोर्ट में यह नहीं कहा गया है कि कोरोना की तीसरी लहर से बच्चे ज्यादा प्रभावित होने वाले हैं. इसके विपरीत रिपोर्ट में कहा गया है कि तीसरी लहर का कोई खास प्रभाव… Continue reading Corona Alert: CM उद्धव ठाकरे की बढ़ सकती है परेशानी, टास्क फोर्स ने कहा-अगले 2 से 4 सप्ताह में आ सकती है तीसरी लहर

अजब – गजब : कोरोना माता के मंदिर को पुलिस ने तोड़ा, दर्शन के लिए  गाइडलाइन में लिखा – दूर से ही करें दर्शन वरना…

प्रतापगढ़ : भारत में अंधविश्वास के कारण हर साल सैकड़ों लोगों की जान चली जाती है. इसके बाद भी लोग समझने को तैयार नहीं है. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से सामने आया है. यहां सड़क के किनारे कोरोना माता का एक मंदिर का निर्माण कर दिया गया था. सिर्फ इतना ही नहीं मंदिर के निर्माण के साथ ही श्रद्धालु लगातार मंदिर में सुबह शाम पूजा भी कर रहे थे. बताया जा रहा है कि इस मंदिर निर्माण को अभी ज्यादा दिन नहीं हुए थे. किसी स्थानीय व्यक्ति ने पुलिस को जब इस बारे में सूचना दी तो पुलिस ने आकर लोगों को वहां से खदेड़ दिया और मंदिर भी तोड़ डाला. हालांकि इस संबंध में प्रतापगढ़ जिला प्रशासन के किसी भी पुलिसकर्मी ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया. दीवार पर लिखी थी दर्शन की गाइडलाइन बता दें कि मंदिर की दीवार पर दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं के लिए विशेष गाइड लाइन लिखी गई थी. इस गाइड लाइन में लिखा गया था कि मास्क लगाएं, बार-बार हाथ धोए, सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए माता के दर्शन करें वरना….. मंदिर के विषय में स्थानीय लोगों से पूछताछ करने पर उन्होंने कहा कि मंदिर में पुजारी… Continue reading अजब – गजब : कोरोना माता के मंदिर को पुलिस ने तोड़ा, दर्शन के लिए गाइडलाइन में लिखा – दूर से ही करें दर्शन वरना…

Puri Rath Yatra 2021:  इस बार भी बिना भक्तों के नगर भ्रमण के लिए निकलेंगे भगवान जगन्नाथ

भुवनेश्वर |  कोरोना काल में ये दूसरा मौका है जब श्रद्धालुओं के बिना ही रथ यात्रा का आयोजन किया जा रहा है. ओडिशा में 12 जुलाई को निर्धारित वार्षिक रथ यात्रा को लेकर एक माह पहले ही इस बात की घोषणा कर दी है. राज्य सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि इस साल भी श्रद्धालुओं को उत्सव में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं होगी. यह उत्सव कोविड-19 संबंधी प्रोटोकॉल के सख्त अनुपालन के बीच केवल पुरी में आयोजित होगा. विशेष राहत आयुक्त (SRC) पी के जेना ने कहा कि पिछले साल उच्चतम न्यायालय की ओर से दायर सभी दिशा-निर्देशों का इस अवसर पर अनुष्ठानों के दौरान अक्षरश: पालन करना होगा. रथ यात्रा के नगर में होगा कर्फ्यू पी के जेना ने कहा कि इस साल भी, भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा पुरी में बिना श्रद्धालुओं के होगी. प्रशासन ने राज्य के अन्य हिस्सों में इस तरह के समारोहों के आयोजन पर प्रतिबंध लगाया है. एसआरसी ने कहा कि केवल चयनित कोविड निगेटिव और टीके की दोनों खुराकें ले चुके सेवकों को ही ‘स्नान पूर्णिमा’ और अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लेने की अनुमति होगी. जेना ने कहा कि रथ यात्रा के दिन इस पवित्र नगर में कर्फ्यू लगाया जाएगा, पिछले वर्ष… Continue reading Puri Rath Yatra 2021: इस बार भी बिना भक्तों के नगर भ्रमण के लिए निकलेंगे भगवान जगन्नाथ

केजरीवाल सरकार अब घर तक पहुंचाएगी शराब, होम डिलिवरी को दी मंजूरी

देश की राजधानी दिल्ली में रहने वाले लोगों को अब शराब के लिए परेशान होने की जरूरत नहीं रह जाएगी, कोरोना के संक्रमण के कारण लोगों को अब घर से बाहर निकलने की जरूरत नहीं रहेगी.

डिजिटल मीडिया को 15 दिन की डेडलाइन

नई दिल्ली। मनोरंजन के लिए ओवर द टॉप यानी ओटीटी प्लेटफॉर्म चला रही कंपनियों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म चलाने वाली कंपनियों के साथ साथ भारत सरकार ने डिजिटल मीडिया पर भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। सरकार ने सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेटफॉर्म्स के साथ साथ डिजिटल मीडिया को भी 15 दिन की समय सीमा देते हुए कहा है कि वे बताएं कि उन्होंने सरकार के नए दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए क्या किया है। सरकार ने डिजिटल मीडिया कंपनियों से कई तरह की जानकारी भी मांगी है। इससे न्यूज पोर्टल चलाने वालों को खासी परेशानी हो सकती है। बहरहाल, सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने गुरुवार को डिजिटल मीडिया सहित ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को 15 दिन की समय सीमा दी है। इसके तहत ऐसी कंपनियों को यह बताना होगा कि उन्होंने नए दिशा-निर्देशों को लेकर क्या किया है। गौरतलब है कि केंद्र की मोदी सरकार ने 25 फरवरी को सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेटफॉर्म्स के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए थे और नियमों को सख्त किया था। सरकार ने फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सऐप जैसी सोशल मीडिया कंपनियों को नए दिशा-निर्देशों को लागू करने के लिए तीन महीने का समय दिया था। 25 मई को केंद्र सरकार की समय सीमा समाप्त… Continue reading डिजिटल मीडिया को 15 दिन की डेडलाइन

हम नहीं सुधरेंगे ! रिपोर्ट में हुआ खुलासा- 50 प्रतिशत लोग अब भी नहीं पहनते मास्क, इनमें भी 14 फीसदी ही सही तरह से करते हैं मास्क का प्रयोग

New Delhi: देश में कोरोना की दूसरी लहर के कारण अब भी हालात खतरे के निशान के पास है. कोरोना के मामलों में कुछ कमी जरूर आई है लेकिन इसके बाद भी मौतें कम होने का नाम नहीं ले रही है. कोरोना के इस कहर के बीच एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आयी है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) के अनुसार अभी भी देश में लापरवाहों की कोई कमी नहीं है. रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में 50 फीसदी लोग मास्क नहीं पहनते हैं. इतना ही नहीं जो 50 फीसदी लोग मास्क पहनते हैं उनमें से मात्र 14 प्रतिशत लोग ही सही तरीके से मास्क पहनते हैं. मतलब साफ है कि देश की 86 फीसदी आबादी अभी कोरोना को निमंत्रण दे रही है. मंत्रयल के  संयुक्त सचिव द्वारा साझा किए गए एक रिपोर्ट के आधार पर इस बात का खुलासा हुआ है. कोरोना की रुटीन ब्रीफिंग करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि देश में केवल 100 में सात लोग की सही तरीके से मास्क पहनते हैं. जबकि बाकी लोग मास्क को ठुड्डी और मुंह पर पहनते हैं. लोगों को परवाह नहीं का मौत के मामलों में हम है अव्वल स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने… Continue reading हम नहीं सुधरेंगे ! रिपोर्ट में हुआ खुलासा- 50 प्रतिशत लोग अब भी नहीं पहनते मास्क, इनमें भी 14 फीसदी ही सही तरह से करते हैं मास्क का प्रयोग

Rajasthan: कोरोना संक्रमण के बीच गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 10 से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन

Rajasthan: राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है. वैश्विक महामारी कोरोना की दूसरी लहर से राजस्थान देश के सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में शामिल है. अब संक्रमण  की इस कड़ी को तोड़ने के लिए राज्य सरकार ने 10 से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन लागू करने का निर्णय लिया है.  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में गुरुवार रात वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया. राज्य में 10 मई सुबह पांच बजे से 24 मई सुबह पांच बजे तक यह लॉकडाउन जारी रहेगा.  विवाह समारोह भी 31 मई तक आयोजित नहीं होंगे . इस दौरान सभी प्रकार के धार्मिक स्थल बंद रहेंगे.  गांवों में मनरेगा के काम बंद रहेंगे.  इस दौरान निजी और रोडवेज बसों को भी बंद किया जाएगा. एक जिले से दूसरे जिले में आवागमन बंद रहेगा. घर पर शादी करने की अनुमति होगी लेकिन 11 से ज्यादा मेहमानों शादी में शामिल नहीं हो सकेंगे.  कोर्ट मैरिज की अनुमति भी होगी. विवाह स्थल मालिकों, टैन्ट व्यवसायियों, कैटरिंग संचालकों और बैण्ड-बाजा वादकों आदि को एडवांस बुकिंग राशि आयोजनकर्ता को लौटानी होगी या बाद में आयोजन करने पर समायोजित करनी होगी. जारी की गई नयी गाइडलाइन    … Continue reading Rajasthan: कोरोना संक्रमण के बीच गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 10 से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन

Corona Alert: स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहली बार बच्चों के लिए जारी की Covid-19 की अलग गाइडलाइन, जानें क्या है मुख्य बातें

New Delhi: देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए पहली बार स्वास्थ्य मंत्रालय ने बच्चों के लिए कोविड-19 की अलग गाइडलाइन्स जारी की है. कोरोना से देश में हाहाकार मचा हुआ है. अब कोरोना से बच्चे भी काफी तेजी से संक्रमित हो रहे हैं. यहीं कारण है कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने बच्चों में बढ़ते कोरोना  को देखते हुए चिंता जताई है. इसके साथ ही बच्चों की देखभाल के लिए मंत्रायल ने एक अलग गाइडलाइन जारी की है.  देश में अब प्रतिदिन 4 लाख के करूब मामले सामने आ रहे हैं. लगभग सभी अभिभावकों को ऐसे हालातों में अपने बच्चों की चिंता सताती है. ये चिंता भी जायज है क्योंकि बच्चों के लिए संक्रमित होने पर पूरे परिवार को संक्रमण का खतरा होता है.ऐसे में बच्चों का खास ख्याल रखा जाना भी उतना ही जरूरी है. क्या है बच्चों के लिए  कोविड गाइडलाइन्स वैसे बच्चे जिनमें कोरोना संक्रमण तो है लेकिन उनमें बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं, ऐसे बच्चों के लिए किसी तरह के इलाज का सुझाव नहीं दिया गया है.  हालांकि, उनमें संभावित लक्षणों पर नजर रखने की बात जरूर कही गई है.  स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से दो डॉक्यूमेंट जारी किए गए हैं जिसमें… Continue reading Corona Alert: स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहली बार बच्चों के लिए जारी की Covid-19 की अलग गाइडलाइन, जानें क्या है मुख्य बातें

stay home stay safe..अब सरकार घर बैठे बनवाकर देगी ड्राइविंग लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस की वैद्यता बढ़ाकर 30 जून हुई

कोरोना ने पूरे देश में आतंक मचा रखा है। कई राज्य की सरकार ने लॉकडाउन, वीकेंड कर्फ्यु, नाइट कर्फ्यु जैसी पाबंदियां लगा रखी है। सरकार जनता से अपील कर रही है कि कोई भी बिना काम घर से बाहर ना निकले। सरकार ने भी इस बात का ख्याल रखा है कि लोगों के ज्यादातर काम घर बैठे हो जाएं तो बेहतर है। इसी कड़ी में लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू करवाने है तो किसी को ड्राइविंग लाइसेंस है। इसके लिए आपको RTO जाकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। कोरोना काल में आप यह काम घर बैठ कर भी कर सकते है। सड़क और परिवहन मंत्रालय ड्राइविंग लाइसेंस को बनवाने और उसके रीन्यूअल के लिए नई गाइडलाइंस लेकर आया है। इसे भी पढ़ें जानें, क्यों 18+ उम्र के के लोगों  के लिए वैक्सीनेशन है मुश्किल  ऑनलाइन हो सकेगी पूरी  प्रकिया नए नियम के मुताबिक Learner’s license पाने की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। यानी एप्लीकेशन से लेकर लाइसेंस की प्रिंटिंग तक पूरा प्रोसेस ऑनलाइन होगा। इसके साथ ही इलेक्ट्रॉनिक सर्टिफिकेट और डॉक्यूमेंट्स का इस्तेमाल मेडिकल सर्टिफिकेट्स, लर्नर लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस सरेंडर और उसके रीन्यूअल के लिए किया जा सकेगा। RC रीन्यूअल के लिए भी सहूलियत ध्यान देने वाली बात ये है कि… Continue reading stay home stay safe..अब सरकार घर बैठे बनवाकर देगी ड्राइविंग लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस की वैद्यता बढ़ाकर 30 जून हुई

कोविड वैक्सीन के बाद सेक्स कितना सेफ ?  जानें, क्या कहते हैं  एक्सपर्ट्स

New Delhi: कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बरसा रही है. देश में हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे है. ऐसे में अब लोगों को कोरोना की वैक्सीन से ही उम्मीद है. कोरोना की वैक्सीन को लेकर अफवाहों का बाजार भी काफी गर्म रहा है. लोगों के मन में अभी भी वैक्सीन को लेकर कई तरह का संशय है.सोशल मीडिया पर हाल में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा इस बात की हो रही है कि  क्या कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद सेक्स करना सुरक्षित है? या इससे कई तरह की परेशानियां हो सकती है.  बता दें कि इस बारे में अब तक स्वास्थय मंत्रालय की ओर से अब तक कोई  दिशानिर्देश जारी नहीं किए गए हैं. लेकिन जब हमने इस बारे में जानकारी हासिल करनी चाही तो ये बात सामने आई. क्या कहा मेडिकल एक्सपर्ट्स ने कोरोना की वैक्सीन लेने के बाद सेक्स को सुरक्षित बताने के सवाल को जब हमने कुछ एक्सपर्ट से पूछा तो उनका कहना था कि  वैक्सीन लेने के बाद हमें कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. एक्सपर्ट्स का कहना है कि पुरुष और महिलाओं को वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद गर्भनिरोधक का इस्तेमाल करना चाहिए. इसके साथ ही  फैमिली प्लानिंग से… Continue reading कोविड वैक्सीन के बाद सेक्स कितना सेफ ?  जानें, क्या कहते हैं  एक्सपर्ट्स

राजधानी में सारे शिक्षण संस्थान बंद

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सभी स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। दिल्ली सरकार ने अगले आदेश तक सारे स्कूल की सभी कक्षाओं और सभी कॉलेजों को बंद कर दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण, दिल्ली में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल, सभी क्लासेज के लिए अगले आदेश तक बंद किए गए हैं। आदेश के मुताबिक, नौवीं से 12वीं क्लास के किसी बच्चे को किसी भी काम के लिए स्कूल नहीं बुलाया जाएगा। बाकी क्लास के लिए तो पहले ही स्कूल बंद हैं। अगले आदेश तक पाबंदी जारी रहेगी। ऑनलाइन क्लास के बारे में कुछ नहीं कहा गया, यानी वे जारी रहेगी। गौरतलब है कि दिल्‍ली के स्कूलों में 9वीं से 12वी के बच्चे बोर्ड और सीबीएसई पाठ्यक्रम के चलते स्कूल जा रहे थे। लेकिन अब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आदेश से साफ है कि अब किसी भी क्लास का कोई भी बच्चा स्कूल नहीं जाएगा।

आज से बदल जाएंगे कोरोना के नियम

कोरोना वायरस के संक्रमण से फैली महामारी की रफ्तार घटने के बाद अब इसके दिशा-निर्देशों में एक के बाद एक लगतार छूट दी जा रही है। एक फरवरी से कोरोना से जुड़े और भी कई नियम बदल जाएंगे।

कल से पूरी क्षमता से चलेंगे सिनेमाघर

कोरोना के कारण प्रभावित चल रहा सिनेमाघरों का बिजनेस अब फिर पटरी पर लौटेगा। देश भर में पूरी क्षमता के साथ सिनेमाघरों के संचालन को मंजूरी मिली है।

वैक्सीनेशन केंद्र सरकार के गाइडलाइन के अनुरूप हो : योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य को भारत सरकार की गाइडलाइन्स तथा क्रम के अनुरूप संचालित करने के निर्देश दिए हैं।

और लोड करें