गुजरात सरकार को हाईकोर्ट की फटकार

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में कोरोना वायरस के संक्रमण से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। कोरोना की वजह से लोगों को हो रही परेशानी को लेकर गुजरात हाई कोर्ट ने राज्य सरकार को कड़ी फटकार लगाई और सरकार के कामकाज पर तीखी टिप्पणी की। हाई कोर्ट ने यह भी कहा कि गुजरात के लोगों न अस्पताल में बेड्स मिल रहे हैं और न दवाएं मिल रही हैं, लोगों को लग रहा है कि वे भगवान भरोसे जी रहे हैं। अदालत ने यह भी कहा कि लोगों का भरोसा कम हो गया है। एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने सोमवार को कहा कि प्रदेश और लोग जिस तरह की दिक्कतें झेल रहे हैं, वह सरकार के दावे से बहुत अलग है। चीफ जस्टिस विक्रम नाथ और जस्टिस भार्गव करिया की बेंच ने कहा कि लोगों को लगने लगा है कि वे अब भगवान भरोसे हैं। एडवोकेट जनरल कमल त्रिवेदी ने सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के बारे में अदालत को बताया। लेकिन अदालत ने ज्यादातर दलीलों को मानने से इनकार कर दिया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई सुनवाई में अदालत ने एडवोकेट जनरल से कहा- आप जो दावा कर रहे हैं,… Continue reading गुजरात सरकार को हाईकोर्ट की फटकार

गुजरात High Court की सलाह के बाद राज्य के 20 शहरों में रात का कर्फ्यू

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ाने के कारण गुजरात में 3-4 दिनों के लिए Lockdown या Curfew लगाने की गुजरात हाईकोर्ट (Gujarat High Court) की सलाह के बाद, गुजरात सरकार ने घोषणा कर कहा कि रात के Curfew को 20 अन्य शहरों में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक 30 अप्रैल तक लगाया जाएगा।

गुजरात हाईकोर्ट के आकलन से हड़कंप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के गृह राज्य गुजरात में हड़कंप मचा है। पहले तो कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बनने की वजह से अफरातफरी मची थी और अब हाई कोर्ट के आकलन से हंगामा मचा हुआ है।

और लोड करें