एनआईए ने शुरू की देविंदर की जांच

श्रीनगर। दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किए गए जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी देविंदर सिंह की जांच शुरू हो गई है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी, एनआईए ने देविंदर सिंह के खिलाफ आर्म्स एक्ट, विस्फोटक पदार्थ रखने सहित गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून, यूएपीए की कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। गौरतलब है कि डीएसपी देविंदर सिंह की आतंकवादियों के साथ गिरफ्तारी के बाद जम्मू कश्मीर सरकार ने जम्मू और श्रीनगर हवाईअड्डों की सुरक्षा केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, सीआईएसएफ को सौंपने का आदेश दिया है। जम्मू कश्मीर के गृह विभाग की ओर से पुलिस महानिदेशक को भेजे गए आदेश में कहा गया है कि दोनों संवेदनशील हवाईअड्डों की सुरक्षा 31 जनवरी तक सीआईएसएफ को सौंप दी जाए। गौरतलब है कि देविंदर सिंह हवाईअड्डे की सुरक्षा में ही बतौर डीएसपी तैनात था। उसे पिछले शनिवार को जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में एक गाड़ी से हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों- नवीद बाबा और आतिफ व आतंकी संगठनों के लिए काम करने वाले एक वकील के साथ गिरफ्तार किया गया। देविंदर सिंह पर आतंकवादियों को देश के दूसरे हिस्सों तक पहुंचाने में मदद करने का आरोप है। इस बीच जम्मू कश्मीर के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह को दिया गया शेर ए कश्मीर का पदक छीन… Continue reading एनआईए ने शुरू की देविंदर की जांच

जम्मू कश्मीर पुलिस में कई देवेन्द्र सिंह

हमे यह सोचने की ज्यादा जरूरत नहीं है कि जम्मू-कश्मीर के डीएसपी देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी पर कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने बेतुका बयान क्यों दिया कि देविंदर सिंह यदि देविंदर खान होता तो आरएसएस के समर्थकों की प्रतिक्रिया कहीं ज्यादा तीखी होती! लोकसभा में उन की अब तक की कारगुजारी यह साबित करती है कि वह हर बात को हिन्दू -मुस्लिम करके और प्रधानमंत्री पर मर्यादाहीन टिप्पणियाँ कर के कांग्रेस की ही छवि खराब कर रहे हैं | इसलिए अधीर रंजन चौधरी अगर कोई समझदारी वाला बयान देते तो सोचना पड़ता कि यह कैसे हुआ। समझदारी होती कि अगर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलामनबी आज़ाद यह सवाल उठाते कि पिछले 18 साल से देवेन्द्र सिंह को कौन राजनीतिक संरक्षण दे रहा था? हिजबुल के 2 आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुए डीएसपी (निलम्बित)  देवेंदर सिंह को किसी न किसी का तो राजनीतिक आश्रय जरुर था। नहीं तो दिसम्बर 2001 में संसद पर आतंकी हमले के बाद ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाता। तब केंद्र में वाजपेयी सरकार थी और जम्मू कश्मीर में फारूख अब्दुला मुख्यमंत्री थे। फारूख का बेटा उमर अब्दुल्ला केंद्र की वाजपेयी सरकार में मंत्री था। तब एनआईए की स्थापना नहीं हुई थी… Continue reading जम्मू कश्मीर पुलिस में कई देवेन्द्र सिंह

डोडा में हिज्बुल मुजाहिद्दीन का एक आतंकवादी ढेर

सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले में बुधवार को हिज्बुल मुजाहिद्दीन के एक आतंकवादी को मार गिराया।
रक्षा सूत्रों ने यहां बताया

और लोड करें