जनवरी में बढ़ी विनिर्माण क्षेत्र की रफ्तार

देश के विनिर्माण क्षेत्र की रफ्तार जनवरी में तेजी से बढ़ी और इसका आईएचएस मार्किट भारत विनिर्माण खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) बढ़कर 57.7 पर पहुँच गया।

जून में सेवा क्षेत्र में आई और गिरावट : रिपोर्ट

नये ऑर्डरों में कमी और कमजोर कारोबारी धारणा के बीच देश के सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में इस साल मई की तुलना में जून में गिरावट दर्ज की गई और कंपनियों ने

अप्रैल में विनिर्माण क्षेत्र में ऐतिहासिक गिरावट

पूरे देश में लॉकडाउन के कारण गत अप्रैल में देश के विनिर्माण क्षेत्र में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट देखी गयी और आईएचएस मार्किट द्वारा जारी खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) लुढ़ककर

दिसंबर में विनिर्माण क्षेत्र ने पकड़ी रफ्तार

नये ऑर्डरों में पाँच महीने की सबसे बड़ी तेजी और कंपनियों द्वारा उत्पादन तथा भर्ती बढ़ाने से देश के विनिर्माण क्षेत्र ने गत दिसंबर में एक बार फिर रफ्तार पकड़ी