ये तरीका अस्वीकार्य है

असल बात यह है कि प्राचीन भारत की इन दोनों महान उपलब्धियों के कारोबारियों ने उन्हें बाजारू ढंग से पेश किया है। मसलन, ये उदाहरण देखिए। योग एक संपूर्ण दर्शन है, जिसमें आसन उसका सिर्फ एक हिस्सा है। जबकि रामदेव जैसे गुरुओं ने सिर्फ योगासन को योग बता कर इसका कारोबार किया है। खुद को योग गुरु बताने वाले रामदेव को अब यह जरूर अहसास हुआ होगा, भारत में ये विवेकहीनता का दौर जरूर है, लेकिन उसका यह अर्थ नहीं है कि सबका विवेक मर गया है। एक खास राजनीतिक विचारधारा से जुड़ कर और उचित या अनुचित- सत्ताधारियों का संरक्षण हासिल कर उन्होंने अपना बड़ा कारोबार खड़ा कर लिया है, इसका अर्थ नहीं है कि पूरा समाज उनकी बेतुकी बातों को या को आंख मूंद कर स्वीकार कर लेगा या फिर उसके खिलाफ ना बोलने में ही अपनी भलाई समझेगा। अब जिस तरह मेडिकल डॉक्टरों ने अपनी आवाज उठाई है, वो इसी बात का प्रमाण है। टीवी चैनलों पर रामदेव की जिस तरह इन डॉक्टरों ने क्लास लगाई है, वह रामदेव की कल्पना से भी बाहर होगा। असल बात यह है कि रामदेव को ये भ्रम है कि वे आयुर्वेद के ज्ञाता हैं और इस ज्ञान धारा की नुमाइंदगी… Continue reading ये तरीका अस्वीकार्य है

रामदेव पर हजार करोड़ का मुकदमा

नई दिल्ली। एलोपैथी चिकित्सा पद्धति और डॉक्टरों के खिलाफ पतंजलि समूह के रामदेव की ओर से दिए गए अनाप-शनाप बयान के मामले को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, आईएमए आसानी से नहीं छोड़ने वाला है। आईएमए ने रामदेव के ऊपर एक हजार करोड़ रुपए के मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है। एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी भी लिखी है और रामदेव के ऊपर कार्रवाई की मांग की है। दूसरी ओर रामदेव का एक वीडियो सोशल मीडिया वायरल हो रहे है, जिसमें वे कहते दिखाई दे रहे हैं कि किसी का बाप भी उन्हें गिरफ्तार नहीं कर सकता है। बहरहाल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की उत्तराखंड शाखा ने बुधवार को रामदेव के ऊपर एक हजार करोड़ रुपए का मानहानि का केस दर्ज कराया है। एसोसिएशन ने यह केस सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे रामदेव के उस वीडियो के आधार पर किया है, जिसमें वे एलोपैथी को बकवास और दिवालिया साइंस कह रहे हैं। दूसरी ओर आईएमए की राष्ट्रीय ईकाई ने इस मसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्‌ठी लिखी है। प्रधानमंत्री को लिखी चिट्ठी में कहा गया है कि पतंजलि के मालिक रामदेव के वैक्सीनेशन पर गलत सूचना के प्रचार को रोका जाना चाहिए। एक वीडियो में उन्होंने दावा किया कि… Continue reading रामदेव पर हजार करोड़ का मुकदमा

बाबा रामदेव का संजू बाबा वाला स्टाइल: किसी के बाप में दम हो तो बाबा को अरेस्ट करे….

New Delhi: IMA और बाबा रामदेव का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. बाबा रामदेव ने अपना बयान वापस लेते हुए माफी तो मांग ली थी लेकिन अब एक बार फिर से बाबा रामदेव चर्चाओं में आ गए हैं. इस बार बाबा रामदेव के चर्चा में आने का कारण एक वीडियो बना हुआ है. वायरल हो रहे वीडियो में बाबा रामदेव यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि किसी के बाप में दम हो तो गिरफ्तार कर ले. हालांकि वीडियो के बारे में अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिल सकी है कि ये वीडियो कब का है. वायरल हो रहा है वीडियो में बाबा रामदेव यह भी करते हुए दिखाई दे रहे हैं कि सोशल मीडिया पर कुछ भी चलने दिया जाता है. वीडियो में बाबा रामदेव कह रहे हैं कि सोशल मीडिया में लोग शोर मचा रहे हैं कि इन्हें अरेस्ट करो. लेकिन किसी के बाप में दम नहीं जो बाबा रामदेव को गिरफ्तार कर सके. IMA ठोकेगा 1000 करोड़ का दावा बता दें कि बाबा रामदेवरा आईएमएस विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब आई है मैंने कहा है कि बाबा रामदेव को 15 दिन के भीतर माफी मांगने होगी अगर वे… Continue reading बाबा रामदेव का संजू बाबा वाला स्टाइल: किसी के बाप में दम हो तो बाबा को अरेस्ट करे….

भारत की डाक्टरी पर बाबा का डंक

डाक्टर थे समाज के प्रतिष्ठित लोग…उन पर रामदेव जैसों की हिम्मत नहीं हुआ करती थी पर डाक्टरों ने भी वायरस-महामारी के आगे ताली-थाली की ध्वनि और मोबाइल टार्चो, दियों की रोशनी के प्रभावों की नई व्याख्याएं सुनकर, अपने मरीज को छोड़कर खुले में बाहर आकर ताली बजाते हुए थे…तब भला रामदेव ऐसे डाक्टरों और एलोपैथी की क्यों परवाह करें? यह भी पढ़ें: राहुल, कांग्रेस की जीती है विचारधारा! जब पानी सिर से ऊपर गुजर गया और उनके घर वाले भी मजाक उड़ाते हुए टर्र…टर्र करके हंसने लगे तब डाक्टरों में थोड़ी हिम्मत आई। भारत का सबसे सम्मानित पेशा कभी इतने उपहास का विषय बन जाएगा, किसने सोचा था। मगर यह अचानक नहीं हो गया। न ही गलती अकेले बाबा रामदेव की है। डाक्टर जो कभी सबसे संगठित और स्वाभिमानी वर्ग हुआ करता था उसके अंदर ही ऐसे लोग नेता बन गए जिन्होंने खुद किसी भी हद तक झुकने और अपने मेडिकल प्रोफेशन की इज्जत गिराने में शर्म महसूस नहीं की। आईएमए के अध्यक्ष रहे डा के के अग्रवाल अब नहीं रहे। कोरोना ने ही उनकी जान ली। वे बहुत मीडिया फ्रेंडली डाक्टर थे। मृत्यु के बाद उन्हें मीडिया ने याद भी दिल से किया। कुछ उन बातों का जिक्र भी… Continue reading भारत की डाक्टरी पर बाबा का डंक

IMA ने की बाबा रामदेव पर केस चलाने की मांग ,कहा- सरकार ने की नहीं की कार्रवाई तो हम करेंगे मुकदमा

New Delhi | देश में कोरोनी की रफ्तार में कुछ कमी आयी है. लेकिन अभी भी खतरा पूरी तरह से टला नहीं है. कोरोना काल में बाबा रामदेव (Baba Ramdeo) शुरू से घेरे जाते रहे हैं. कभी अपने बयानों के कारण तो कभी विवादित टिप्पणी करने पर. अब एक बार फिर से बाबा रामदेव की परेशानी बढ़ने वाली है.  इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने स्वास्थ्य मंत्री डॉ- हर्षवर्धन से योग गुरु बाबा रामदेव पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की मांग की है.  एसोसिएशन ने योग गुरु बाबा रामदेव के सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के उस बयान पर आपत्ति जाहिर की है, जिसमें उन्होंने ऐलोपैथी चिकित्सा पद्धति के खिलाफ बयान दिए हैं. योग गुरु रामदेव के इस बयान को लेकर एसोसिएशन ने स्वास्थ्य मंत्री से मांग की है कि या तो वह सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में बाबा रामदेव के आरोपों को मानकर देश की आधुनिक चिकित्सा पद्धति को भंग करें या फिर योग गुरु पर महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज कर मुकदमा चलाए. . @IMAIndiaOrg urges health minister .@drharshvardhan to take action under #EpidemicAct against Yoga Guru for vitriolic accusation on modern medicines .@fpjindia pic.twitter.com/281dN7rodo — Sanjay Jog (@SanjayJog7) May 22, 2021 एलोपैथी चिकित्सा प्रणाली… Continue reading IMA ने की बाबा रामदेव पर केस चलाने की मांग ,कहा- सरकार ने की नहीं की कार्रवाई तो हम करेंगे मुकदमा

इसे बेनकाब करना जरूरी है

हालांकि इससे होगा कुछ नहीं, फिर भी एक विशेषज्ञ और नागरिक के तौर पर अपना एतराज जताने के लिए ये सही कदम उठाया गया है। ऐसे कदमों से इतना तो होता ही है कि ऐसे मसलों पर लोगों का ध्यान जाता है। साथ ही ऐसी सोच क्यों खतरनाक और असंवेदनशील है, उसके तर्क समाज में जाते हैं। ऐसे अमानवीय नजरिए को बेनकाब करना एक जरूरी काम है, जिसे करने के लिए जो भी आगे आता है, उसका मनोबल बढ़ाया जाना चाहिए। इसीलिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के उपाध्यक्ष डॉ नवजोत सिंह दहिया ने जो मामला दर्ज कराया है, उस पर चर्चा अवश्य की जानी चाहिए। दहिया ने कोरोना मरीजों और डॉक्टरों का मजाक उड़ाने वाली बाबा रामदेव की टिप्पणियों पर कड़ी आपत्ति जताते हुए जालंधर पुलिस में केस दर्ज कराया है। उन्होंने रामदेव उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था। उसमें बाबा रामदेव कह रहे थे कि ‘चारों तरफ ऑक्सीजन ही ऑक्सीजन का भंडार है, लेकिन मरीजों को सांस लेना नहीं आता है। इसलिए वे नकारात्मकता फैला रहे हैं कि ऑक्सीजन की कमी है।’ इसे लेकर ही दहिया ने केस दायर किया है। कहा है कि इस तरह… Continue reading इसे बेनकाब करना जरूरी है

ये सरकार सुनती नहीं

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल लांसेट ने भारत में कोरोना महामारी की स्थिति पर लिखे अपने संपादकीय में आज की हालत के लिए सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है। जाहिर है, उसमें बताए गए कारणों और तर्क को भारत सरकार स्वीकार नहीं करेगी। इसलिए उसमें जो आज की गंभीर हालत से निकलने के लिए सुझाव दिए गए हैं, उस पर भी गौर नहीं करेगी। विदेशी मीडिया की टिप्पणियों पर भारत सरकार के अधिकारियों की सीधी प्रतिक्रिया होती है कि हमें उपदेश की जरूरत नहीं है। और देश में अगर कोई कहे, तो उसे सरकार विरोधी समझ कर उस पर हमला बोल दिया जाता है। बहरहाल, अब ऐसे “सरकार विरोधियों” की सूची में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन भी शामिल हो गया है। उसने मांग की है कि स्वास्थ्य मंत्रालय नींद से जागे और कोविड-19 महामारी के कारण बढ़ती जा रहीं चुनौतियों से निपटने के लिए कदम उठाए। आईएमए विशेषज्ञों की संस्था है। अब उसने कहा है कि महामारी की दूसरी लहर सामने थी, लेकिन सरकार ने उससे निपटने के लिए जरूरी कदम नहीं उठाए। आईएमए के बयान में कहा गया है- ‘कोविड-19 महामारी की दूसरी खौफनाक लहर के कारण पैदा संकट से निपटने में स्वास्थ्य मंत्रालय की ढिलाई और अनुचित… Continue reading ये सरकार सुनती नहीं

शाह ने डॉक्टरों की सुरक्षा का दिया आश्वासन

 गृह मंत्री अमित शाह ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डॉक्टरों और विशेष रूप से इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ( केंद्रीयआईएमए) के साथ बातचीत कर

सेना पाकिस्तान को करारा जबाव देने के लिए तैयार रहे: राजनाथ

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को देहरादून में जवानों को पाकिस्तान को करारा जबाव देने के लिए तैयार रहने का आह्वान किया।

और लोड करें