Imran Khan

पाक का ज्यादा भला करें इमरान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर भारत के साथ अपने संबंधों को सहज बनाने की पहल की है।

कब तक टिकेगी सहमति?

ये खबर अचानक आई कि भारत और पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर शांति कायम करने का संकल्प लिया है। पिछले कुछ वर्षों से जैसा माहौल रहा है, उसके बीच ये हैरतअंगेज ही है।

चीन के बाद पाक से भी वार्ता

क्या यह कोई संयोग है या किसी सुविचारित गेम प्लान का हिस्सा है, जो भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में शांति बहाली और सैनिकों की वापसी का समझौता हुआ

कश्मीर से पाक को बड़ा नुकसान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पिछले साल नवंबर में अफगानिस्तान गए थे और अब वे श्रीलंका गए हैं। उनका काबुल जाना तो स्वाभाविक था लेकिन उनके कोलंबो जाने पर कुछ पलकें ऊपर उठी हैं।

पाकिस्तान में प्रगति

पाकिस्तान से इन दिनों सुखद आश्चर्य वाली खबरें आ रही हैं। एक हिंदू मंदिर तोड़ने की घटना के बाद जिस तरह पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर पुनर्निर्माण कराने का आदेश दिया और उसे वहां की सरकार ने स्वीकार किया, वह हैरतअंगेज ही है।

पाकिस्तान में फिर वही कहानी

अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव नतीजे को जिस तरह राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और उनके समर्थक चुनौती दे रहे हैं और भारत में लोकतंत्र को लेकर जैसे सवाल हाल में उठे हैं, उसके बाद यह कहना मुश्किल हो गया है कि किस देश में लोकतांत्रिक परंपराएं अच्छी तरह स्थापित हैं।

मोदी और इमरानः कौन बोला किसकी बोली ?

भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों ने संयुक्तराष्ट्र में जो भाषण दिए, क्या उनकी तुलना की जा सकती है? जब कल सुबह मैंने इमरान खान का भाषण सुना तो मुझे लगा कि शाम को नरेंद्र मोदी अपने भाषण में उसके परखच्चे उड़ा देंगे।

इमरान का अजीब-सा भाषण

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्तराष्ट्र संघ महासभा में ऐसा भारत-विरोधी भाषण दिया, जिसका तगड़ा जवाब अब नरेंद्र मोदी को देना ही पड़ेगा। दुनिया के करोड़ों श्रोताओं को ऐसा लगेगा कि ये दोनों प्रधानमंत्री संयुक्तराष्ट्र को नहीं, एक-दूसरे को भाषण दे रहे हैं।

पाक में सरकार के ऊपर सरकार

पाकिस्तान में पीपल्स पार्टी के नेता बिलावल भुट्टो ने लगभग सभी प्रमुख विरोधी दलों की बैठक बुलाई, जिसमें पाकिस्तानी फौज की कड़ी आलोचना की गई। पाकिस्तानी फौज की ऐसी खुले-आम आलोचना करना तो पाकिस्तान में देशद्रोह-जैसा अपराध माना जाता है।

इमरान ने फिर अलापा राग-कश्मीर

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने फिर कश्मीर राग अलापा है। इस बार उन्होंने इस काम के लिए 5 अगस्त का दिन चुना है, क्योंकि पिछले साल 5 अगस्त को ही भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर की विशेष हैसियत खत्म की थी और उसे दो हिस्सों में बांटकर केंद्र प्रशासित क्षेत्र बना दिया था।
- Advertisement -spot_img

Latest News

आखिरकार हमने समझी पेड़-पौधों की कीमत, शुरुआत हुई बागेश्वर धाम से

बागेश्वर| कोरोना काल हमारे लिए सबसे बुरा दौर रहा है। लेकिन इसने हमें बहुत कुछ सिखा दिया है। कोरोना...
- Advertisement -spot_img