kishori-yojna
हुकुमत की समाप्ति स्वतंत्रता का उदय, जानिए 15 अगस्त को ही क्यों मनाया जाता है आजादी दिवस

कई भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों और राजनेताओं का मानना ​​​​था कि जून 1948 तक इंतजार करना संभव नहीं था। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में अहम किरदार निभाने वाले चक्रवर्ती राजगोपालाचारी ने कहा था कि अगर उन्होंने जून 1948 तक इंतजार किया तो स्थानांतरण मुश्किल हो जाएगा। इसलिए सत्ता परिवर्तन की तारीख को लॉर्ड माउंटबेटन ने अगस्त, 1947 कर दिया।

इन 5 फिल्मों के साथ मनाएं देश की आजादी का जश्न, शेरशाह से लेकर भुज तक सभी एक से बढ़कर एक

जो लोग इस स्वतंत्रता दिवस पर देशभक्ति को महसूस करना चाहते हैं, उनके लिए ‘शेरशाह’ एकदम सही फिल्म है। सिद्धार्थ मल्होत्रा ​​स्टारर से फिल्म 12 अगस्त को अमेजन प्राइम वीडियो पर रिलीज हो गई। कारगिल हीरो शहीद कैप्टन विक्रम बत्रा के जीवन पर आधारित इस फिल्म का निर्देशन विष्णुवर्धन ने किया है। फिल्म में अभिनेत्री कियारा आडवाणी भी हैं।

देश में ’विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर मनाया जाएगा 14 अगस्त, PM Modi ने किया ऐलान

नई दिल्ली | देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने भारत के स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले आज 14 अगस्त का दिन ’विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ (Partition Horrors Remembrance Day) के रूप में मनाने का बड़ा फैसला निर्णय लिया है। पीएम ने कहा कि, 14 अगस्त के दिन नफरत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा था। उनके बलिदान की याद में आज से इस दिन को ’विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के रूप में याद किया जाएगा। ये भी पढ़ें :- हमेशा से ऐसा नहीं दिखता था तिरंगा, अब तक भारत के झंडे में 6 बार हुए है बदलाव – देखें विस्तार से…. PM Narendra Modi ने ट्वीट करके इसकी जानकारी देशवासियों को दी है। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा है कि, देश के बंटवारे के दर्द को कभी भुलाया नहीं जा सकता। नफरत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा और अपनी जान तक गंवानी पड़ी। उन लोगों के संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ’विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ (Partition Vibhisika Memorial Day) के तौर पर मनाने का निर्णय लिया गया है। यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना… Continue reading देश में ’विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर मनाया जाएगा 14 अगस्त, PM Modi ने किया ऐलान

हमेशा से ऐसा नहीं दिखता था तिरंगा, अब तक भारत के झंडे में 6 बार हुए है बदलाव – देखें विस्तार से….

इस साल हिन्दुस्तान आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा हैं। पूरा देश इस दिन हाथों में तिरंगा लिए जश्न मनाएगा। आजादी मिलने के पहले से लेकर अब तक तिरंगा कुल 6 बार बदला जा चुका है। मौजूदा तिरंगा का ये छठवां रूप है।

अंगद-आसन और भरवां खिलौना-भालू

लोक-दबाव अगले दो साल में ऐसे हालात बनाएगा-ही-बनाएगा कि विपक्ष की बिखरी डालियां जटाधारी बरगद की शक़्ल लें। इस बरगद का तना कितना मज़बूत होगा, कितना नहीं, यह मायने नहीं रखता।

खोया, ठहरा, भगवान भरोसे देश!

कल 75वां स्वतंत्रता दिवस। तभी सोचना अनिवार्य है कि भारत का पचहतर वर्षों का सफर कैसा रहा?  क्या सफर दिल-दिमाग की मौजूदा अवस्था में उमंग, उल्लास बनाए हुए है? क्या मंजिल का विश्वास और सुकून है

झूठ में जीना, झूठ में मरना!

भारत ने यों 1947 से ही झूठ में जीना अपनाया हुआ है लेकिन पिछली 15 अगस्त से इस 15 अगस्त का सबसे बडा  अनुभव बतौर कौम झूठ में जीना और झूठ में मरने का है। सौ टका झूठ और दुनिया के नंबर एक झूठे। इसका प्रमाण, अनुभव है 2020-21 की महामारी।

जीने की आजादी मतलब पांच किलो अनाज

भारत का संविधान हर नागरिक को सम्मान के साथ जीने की आजादी देता है। लेकिन आजादी के 75 साल बाद सम्मान से जीने के अधिकार को इस देश ने पांच किलो अनाज की खैरात पर जीने में बदल दिया है।

अमृत महोत्सव के साल में जहर!

देश आजादी का अमृत महोत्सव मनाने जा रहा है। यह अमृत महोत्सव पूरे साल चलेगा। केंद्र और राज्यों की सरकारों ने इसके लिए 18 सौ कार्यक्रम बनाए हैं। राष्ट्रगान के लिए संस्कृति मंत्रालय ने एक वेबसाइट बनाई है, लोगों से अपील की जा रही है कि वे राष्ट्रगान गाकर उसकी वीडियो अपलोड करें।

Punjab Police को बड़ी सफलता, PAK की ओर से ड्रोन के जरिए फैंका गया टिफिन बम बरामद, रखे हुए थे हैंड ग्रेनेड और IED

अमृतसर | Tiffin Bomb Amritsar: भारत का पड़ोसी पाकिस्तान अपनी नापाक हरकातों से बाज नहीं रहा है। भारत के स्वतंत्रता दिवस (Independence Day 2021) पर खलल पैदा करने की लगातार कोशिशों में लगा हुआ है। आज सोवार को पाकिस्तान की एक करतूत फिर सामने आई है। पंजाब के अमृतसर में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर पाकिस्तान की ओर से ड्रोन से टिफिन बम फेंका गया है। ये भी पढ़ें:- दिल्ली में लगे आपत्तिजनक सांप्रदायिक नारे, केस दर्ज , ओवैसी का आया रिएक्शन स्थानीय लोगों ने आसमान से कुछ गिरने की सुनी आवाज पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के जरिए संदिग्ध वस्तु जैसे ही फैंकी गई तो इलाके के स्थानीय लोगों को आसमान से कुछ गिरने की आवाज सुनाई दी जिसके बाद इस संबंध में पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पर पंजाब पुलिस ने बार्डर के पास जब तलाशी की तो सामने आया कि पाकिस्तान द्वारा बार्डर पर फैंकी गई संदिग्ध वस्तु आईईडी टिफिन बम (Tiffin Bomb Amritsar) है। टिफिन में स्प्रिंग और डेटोनेटर सहित 5 हैंड ग्रिनेड भी मिले हैं। ये भी पढ़ें:- जाग गया पाकिस्तान का हिंदू ! पाक के इतिहास में पहली बार अल्पसंख्यकों ने बड़ी संख्या में किया प्रदर्शन, लगाये जय श्री राम के नारे … पाकिस्तान द्वारा जारी ऐसी… Continue reading Punjab Police को बड़ी सफलता, PAK की ओर से ड्रोन के जरिए फैंका गया टिफिन बम बरामद, रखे हुए थे हैंड ग्रेनेड और IED

15th August से पहले आतंकी ड्रोन हमले की फिराक में, सुरक्षा एजेंसियों ने किया अलर्ट जारी

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार, आतंकी 15 अगस्त से पहले 5 अगस्त को देश में आतंकी गतिविधि को अंजाम दे सकते हैं। 5 अगस्त के दिन जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई गई थी, जिसका विरोध हुआ था। ऐसे में ड्रोन के जरिए दिल्ली में बड़े हमले को अंजाम दे सकते हैं।

और लोड करें