रुपया 29 पैसे मजबूत

घरेलू स्तर पर शेयर बाजारों के हरे निशान में लौटने और दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के कमजोर पड़ने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में आज भारतीय मुद्रा 29 पैसे की मजबूती में 73.61 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई।

रुपया 32 पैसे टूटा

घरेलू स्तर पर शेयर बाजारों में रही तेज गिरावट और दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर की मजबूती के दबाव में अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में भारतीय मुद्रा

रुपया तीन पैसे मजबूत

घरेलू शेयर बाजारों में रही तेजी के बीच अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया आज तीन पैंसे की मजबूती के साथ 74.90 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर स्थिर बंद हुआ। भारतीय

डॉलर के मुकाबले रुपए में मजबूती

नई दिल्ली। देसी करेंसी रुपए में बुधवार को डॉलर के मुकाबले मजबूती आई। डॉलर के मुकाबले रुपया पिछले सत्र यानी सोमवार की क्लोजिंग के मुकाबले 27 पैसे की बढ़त के साथ 73.81 रुपए प्रति डॉलर के भाव पर खुलने के बाद 73.89 रुपए प्रति डॉलर पर कारोबार कर रहा था। हालांकि आरंभिक कारोबार के दौरान रुपया 73.97 से लेकर 72.81 के बीच बना रहा। बाजार के जानकार बताते हैं कि दुनिया की बड़ी आर्थिक ताकतें मौजूदा परिस्थितियों से निपटने के लिए राहत पैकेज ला सकती हैं और इस संबंध में विचार किया जाने लगा है, जिसके कारण प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर कमजोर हुआ है और भारतीय करेंसी में भी मजबूती आई है। बता दें कि कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय बाजार में उथल-पुथल और कच्चे तेल को लेकर छिड़ी कीमत जंग के कारण विगत दिनों डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होकर 74 रुपए प्रति डॉलर को पार कर गया था। यह खबर भी पढ़ें:- भारी उतार-चढ़ाव के बाद स्थिर बंद हुआ रुपया मतलब एक डॉलर का मूल्य 74 रुपए से अधिक हो गया था, लेकिन बुधवार को देसी करेंसी में मजबूती दर्ज की गई। इससे पहले सोमवार को रुपया 29 पैसे टूटकर 74.08 रुपये प्रति डॉलर… Continue reading डॉलर के मुकाबले रुपए में मजबूती

भारी उतार-चढ़ाव के बाद स्थिर बंद हुआ रुपया

मुंबई। मजबूत डॉलर और विदेशी निवेशकों की बिकवाली के दबाव के बीच अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपए में बुधवार को भारी उतार-चढ़ाव देखा गया और अंतत: वह पिछले दिवस के 73.19 रुपए प्रति डॉलर पर स्थिर रहा। भारतीय मुद्रा तीन दिन में 158 पैंसे (दो फीसद से अधिक) टूट चुकी है। पिछले दिवस यह 43 पैसे लुढ़ककर 73.19 रुपए प्रति डॉलर पर बंद हुई थी जो आठ महीने का निचला स्तर है। शेयर बाजार की शुरुआती तेजी के दम पर रुपया नौ पैसे की बढ़त में 73.10 रुपए प्रति डॉलर पर खुला और 72.91 रुपए प्रति डॉलर तक पहुंच गया। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर का सूचकांक आज 0.3 फीसदी से ज्यादा मजबूत हुआ। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में करीब दो प्रतिशत की तेजी और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के भारतीय पूंजी बाजार से 52.44 करोड़ डॉलर निकालने से रुपया दबाव में रहा और एक समय 73.64 रुपए प्रति डॉलर तक लुढ़क गया। हालांकि बैंकों में माध्यम से रिजर्व बैंक के डॉलर खरीदने से एक बार फिर इसने वापसी की और 73.19 रुपए प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

रुपया 15 पैसे लुढ़का

मुंबई। विदेशों में अमेरिकी मुद्रा में रही मजबूती का असर गुरुवार को घरेलू मुद्रा बाजार में भी देखने को मिला और रुपया 15 पैसे टूटकर चार सप्ताह से अधिक के निचले स्तर 71.38 रुपए प्रति डॉलर पर आ गया। पिछले कारोबारी दिवस पर भारतीय मुद्रा 13 पैसे की मजबूती के साथ 71.23 रुपए प्रति डॉलर पर रही थी। अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में गुरुवार को रुपए पर आरंभ से ही दबाव रहा। यह चार पैसे की गिरावट में 71.27 रुपए प्रति डॉलर पर खुला और यही इसका दिवस का उच्चतम स्तर रहा। दुनिया की अन्य छह प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर सूचकांक के चौथाई फीसदी तक चढ़ने से कारोबार की समाप्ति तक भारतीय मुद्रा 71.38 रुपए प्रति डॉलर तक लुढ़क गयी। यह रुपए का 04 दिसंबर 2019 के बाद का निचला स्तर है।

रुपया 14 पैसे मजबूत

मुंबई। निवेश धारणा मजबूत रहने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया बुधवार को 13 पैसे की मजबूती के साथ एक सप्ताह से अधिक के उच्चतम स्तर 71.23 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया। पिछले कारोबारी दिवस पर भारतीय मुद्रा पाँच पैसे फिसलकर 71.36 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई थी। रुपया सोमवार को छह पैसे की बढ़त में 71.30 रुपए प्रति डॉलर पर खुला। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की पूजी निकासी के कारण रुपए पर शुरुआती दबाव रहा और यह 71.38 रुपए प्रति डॉलर के दिवस के निचले स्तर पर उतर गया। एफपीआई ने सोमवार भारतीय पूंजी बाजार से 35.42 करोड़ डॉलर की निकासी की। मजबूत निवेश धारणा के दम पर वापसी करते हुये रुपया 71.23 रुपये तक मजबूत हुआ और इसी स्तर पर बंद हुआ। यह 23 दिसंबर के बाद का उच्चतम बंद भाव है।

रुपया 6 पैसे टूटा

विदेशी निवेशकों के भारतीय पूँजी बाजार से पैसा निकालने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया छह पैसे टूटकर करीब ढाई सप्ताह के निचले स्तर 71.18 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया।

और लोड करें