वझे को नही मिली जमानत

देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर से थोड़ी दूरी पर विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो गाड़ी मिलने के विवाद में घिरे पुलिस अधिकारी सचिन वझे की मुश्किलें बढ़ गई हैं

मनसुख हिरेन की हत्या हुई थी!

देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के आगे बम बनाने वाली सामग्री से भरी जो गाड़ी मिली थी उसके मालिक की मौत का राज गहरा गया है।

एंटीलिया के बाहर संदिग्ध गाड़ी का राज गहराया

मुंबई। रिलायंस उद्योग समूह के अध्यक्ष मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर संदिग्ध कार में बम बनाने की सामग्री मिलने और संभावित हमले की साजिश का राज गहरा गया है। एंटीलिया से दो सौ मीटर की दूरी पर जिस स्कॉर्पियो गाड़ी में बम बनाने की सामग्री और कथित तौर पर धमकी देने वाली चिट्ठी मिली थी, उस गाड़ी के मालिक का शव शुक्रवार को बरामद हुआ है। कहा जा रहा है कि गाड़ी के मालिक मनसुख हिरेन ने खुदकुशी कर ली है। पुलिस को शुक्रवार को कलवा क्रीक पर एक शव मिला, जो संदिग्ध स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हीरन का है। अधिकारियों ने बताया कि मनसुख हिरेन ठाणे के व्यापारी थे और क्लासिक मोटर्स की फ्रेंचाइजी चलाते थे। ठाणे के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मनसुख ने कलवा ब्रिज से कूद कर खुदकुशी की है। संदिग्ध हालत में स्कॉर्पियो की जांच में पता चला था कि मनसुख हिरेन ने गाड़ी चोरी हो जाने की शिकायत दर्ज कराई थी। उनकी लाश मिलने से करीब एक घंटे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने विधानसभा में यह मुद्दा उठाया था। फडणवीस ने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वझे की भूमिका को लेकर सवाल उठाया है। उन्होंने विधानसभा में कहा… Continue reading एंटीलिया के बाहर संदिग्ध गाड़ी का राज गहराया

मप्र में अब ‘गरीब और उद्योगपति’ पर तकरार

मध्यप्रदेश में विधानसभा के उप-चुनाव में आम जनता से जुड़े मुद्दों पर कम बल्कि दूसरे मुद्दे भाजपा और कांग्रेस के बीच तकरार का कारण बन रहे हैं।

आरकॉम को 104 करोड़ लौटाने का आदेश

उच्चतम न्यायालय ने जाने-माने उद्योगपति अनिल अंबानी को आज बड़ी राहत देते हुए केंद्र सरकार को स्पेक्ट्रम की बैंक गारंटी के तौर पर रिलायंस कम्युनिकेशंस की ओर से जमा करायी गयी रकम (104 करोड़ रुपये) लौटाने का निर्देश दिया।

और लोड करें