भाजपा को मिला कुशल संगठनकर्ता

जगत प्रकाश नड्डा भाजपा के अध्यक्ष हो गए , पिछले छह महीने से उनके पद के आगे चिपका कार्यकारी हट गया है। जिस दिन वह कार्यकारी अध्यक्ष बने थे, उसी दिन तय हो गया था कि वह भाजपा के अगले अध्यक्ष होंगे। वैसे जून 2014 से संकेत मिलने शुरू हो गए थे कि आज नहीं तो कल वह भाजपा के अध्यक्ष बनेंगे। नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद ही तय कर लिया था कि अब पार्टी अध्यक्ष भी उनकी मर्जी का होगा। राजनाथ सिंह चाहते तो अध्यक्ष बने रह सकते थे, लेकिन उन्होंने गृहमंत्री का पद स्वीकार कर के मोदी की मर्जी का अध्यक्ष पद बनाए जाने का रास्ता साफ कर दिया था। तब मोदी के सामने तीन विकल्प थे, ओम माथुर, जे.पी.नड्डा और अमित शाह। तीनों मोदी के साथ काम कर चुके थे। ओम माथुर लम्बा समय गुजरात के प्रभारी रहे , अलबत्ता भाजपा नेतृत्व मोदी की इच्छा से ही उन्हें प्रभारी बनाता रहा था। दूसरा विकल्प जे.पी.नड्डा थे, जिन्हें नितिन गडकरी 2010 में ही महासचिव बना कर दिल्ली ला चुके थे। नरेंद्र मोदी जब भाजपा महासचिव के नाते हिमाचल प्रदेश के प्रभारी थे, तब से उनकी नड्डा से नजदीकी थी। खैर उस समय उन्होंने अमित शाह को… Continue reading भाजपा को मिला कुशल संगठनकर्ता

भाजपा के नए अध्यक्ष की चुनौतियां

सुशांत कुमार– जगत प्रकाश नड्डा भारतीय जनता पार्टी के नए अध्यक्ष बने हैं। वे पिछले छह महीने से ज्यादा समय से कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर काम कर रहे थे। केंद्र में दूसरी बार नरेंद्र मोदी की सरकार बनी तो उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया। उसी समय यह तय हो गया था कि वे पार्टी के नए अध्यक्ष बनेंगे। इसलिए उनका अध्यक्ष बनना कोई चौंकाने वाली घटना नहीं है। भाजपा की राजनीति और उसके संगठन स्वरूप को देखते हुए यह भी कोई हैरान करने वाली बात नहीं है कि प्रदेश की राजनीति से निकल कर आने के दस साल के अंदर कोई नेता राष्ट्रीय अध्यक्ष बन जाए। आखिर नितिन गडकरी भी सीधे महाराष्ट्र की राजनीति से निकल कर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे। नितिन गडकरी ही जेपी नड्डा को हिमाचल प्रदेश से दिल्ली लेकर आए थे। गडकरी जब राष्ट्रीय अध्यक्ष बने उस समय नड्डा हिमाचल प्रदेश सरकार में मंत्री थे। वे मंत्री पद छोड़ कर दिल्ली आए और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव बने। उसके बाद गडकरी तो अध्यक्ष पद से हट गए पर नड्डा की तरक्की जारी रही। वे पहली बार 2012 में राज्यसभा सदस्य बने, 2014 में केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री बने, भाजपा के संसदीय बोर्ड में शामिल… Continue reading भाजपा के नए अध्यक्ष की चुनौतियां

मोदी ने नड्डा को दी बधाई, शाह से तुलना कर दिलाया चुनौती का एहसास

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भाजपा मुख्यालय में ‘जय श्री राम’ के जयकारों के बीच कहा, अमित भाई का कार्यकाल हमेशा याद रहेगा। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष के तौर पर शाह के काम की प्रशंसा कर नवनियुक्त पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा के लिए वैसा ही बेहतर काम करने का संदेश दिया और एहसास दिलाया कि यह किसी चुनौती से कम नहीं है। नड्डा को बड़ी जिम्मेदारी मिलने के बाद उन्हें एक संदेश देते हुए मोदी ने कहा, यह संघर्ष और संगठन ही है, जिसने भाजपा को यहां तक पहुंचाया। भाजपा की विशेषता रही है कि हम एक सुचारु ढंग से चलने वाली व्यवस्था के तहत आगे बढ़ते हैं। हम लंबे अरसे तक मां भारती की सेवा करने के लिए आए लोग हैं। हमें सदियों तक यही काम करना है। जिन अपेक्षाओं से इस पार्टी का जन्म हुआ है, उसे पूरा किए बगैर चैन से बैठना नहीं है। उन्होंने शाह के साथ तुलना को अपरिहार्य बताते हुए और उनकी उपलब्धियों के लिए शाह को श्रेय देते हुए कहा, भाजपा ने थोड़े समय में विस्तार किया, लोगों की आकांक्षाओं को पूरा किया और खुद को समय के साथ बदला। यह खबर भी पढ़ें:- मोदी ने शाह व नड्डा के साथ… Continue reading मोदी ने नड्डा को दी बधाई, शाह से तुलना कर दिलाया चुनौती का एहसास

और लोड करें