तालिबान को वैधता दिलाने की कोशिशें!

मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने तालिबान की तुलना राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से की है। वे होशियार आदमी हैं और हमेशा अपने धार्मिक विचारों को बौद्धिक मुलम्मा चढ़ा कर पेश करते रहे हैं।

एनसीपी से लड़ाई और संघ से शिव सेना का प्यार!

शिव सेना ने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की तुलना तालिबान से किए जाने के मसले पर संघ का बचाव किया है।

कंगना रनौत ने पलटवार करते हुए जावेद अख्तर पर किया ‘मानहानि का केस’

याचिका में कहा गया कि आशंका है कि पुलिस ने गवाहों को प्रभावित किया और मजिस्ट्रेट को शपथ पत्र के साथ गवाहों के बयान दर्ज करने चाहिए थे ताकि ‘‘यह साबित किया जा सके कि वास्तविक मामला बनाया गया’’ बता दें कि उच्च न्यायालय में अगले सप्ताह रनौत की याचिका पर सुनवाई हो सकती है.

Ghaziabad viral Video Controversy: Swara Bhaskar पर शिकायत दर्ज होने के बाद जावेद अख्तर की आई प्रतिक्रिया, कहा- बेगुनाहों को गिरफ्तार कर…

गाजियाबाद | बुजुर्ग के साथ हुई मारपीट का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. नए आईटी नियमों के तहत जहां ट्विटर पर कार्रवाई की तैयारी की जा रही है वहीं स्वरा भास्कर का नाम भी इस विवाद से जुड़ गया है. बता दें कि इस मामले में बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर टि्वटर इंडिया के मनीष माहेश्वरी सहित आठ लोगों तक अब तक शिकायत दर्ज की जा चुकी है. अब इस पूरे विषय पर जावेद अख्तर का भी रिएक्शन सामने आया है. जावेद अख्तर ने एक ट्वीट करते हुए कहा है कि मैं उन लोगों के बारे में सोच रहा हूं जिन्हें जानते हुए गिरफ्तार किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि बेगुनाह लोगों को मारा जा रहा है जेल में रखा जा रहा है झूठे गवाह बनाया जा रहे हैं. इतना करने के बाद भी अपने घर पर जाकर बच्चों के साथ खेला जा रहा है और परिवार के साथ आंख मिलाई जा रही है. वाह! I really wonder at those who who knowingly arrest innocent people, beat them up , put them in the cell , arrange false proofs and witnesses , Go home , pleasantly interact with their family , play with their children , have… Continue reading Ghaziabad viral Video Controversy: Swara Bhaskar पर शिकायत दर्ज होने के बाद जावेद अख्तर की आई प्रतिक्रिया, कहा- बेगुनाहों को गिरफ्तार कर…

राखी सावंत की बायोपिक बनाना चाहते हैं जावेद अख्तर

बॉलीवुड के जाने-माने गीतकार जावेद अख्तर, राखी सावंत की बायोपिक बनाना चाहते हैं। राखी सावंत ने हाल ही में बिग बॉस 14 में शिरकत कर दर्शकों को एंटरटेन किया है।

मुस्लिम शासन का मूल्याकंन

तारिक फतह पर जावेद अख्तर के हमले के बाद अनेक लोग भारतीय इतिहास में मुस्लिम शासन के गीत गा रहे हैं। यह यहाँ लंबे समय से इतिहास के व्यवस्थित मिथ्याकरण का ही कुफल है। जिन से यह सुधारने की अपेक्षा थी, वे खुद वैचारिक खस्ताहाल हैं।

जावेद अख्तर का मुगलिया रंग

फिल्मी हस्ती जावेद अख्तर भारत में मुगल शासन को खुशहाली का समय मानते हैं। तुलना करते हुए वे अकबर, जहाँगीर को महान और अंग्रेजों को गया-गुजरा बताते हैं। मुख्यतः इसी मतभेद पर वे तारिक फतह को हिन्दू सांप्रदायिकों का ‘प्रवक्ता’ कहते हुए जलील कर रहे हैं। 

जावेद अख्तर और सुब्रमण्यम स्वामी ट्विटर पर भिड़े

भारत भले ही कोरोनावायरस से संघर्ष करने के लिए तैयार हो चुका है, लेकिन ट्विटर पर एक अलग ही लड़ाई चल रही है। शनिवार सुबह को यह लड़ाई किसी और के बीच नहीं, बल्कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी और गीतकार जावेद अख्तर के बीच ट्विटर पर देखी गई।

अभी दिल्ली जला, आगे क्या?

जब दिल्ली में हुई सांप्रदायिक घटनाओं व हिंसा पर नजर डालता हूं तो मुझे दशकों पहले की एक घटना याद हो आती है। उन दिनों पंजाब में आतंकवाद चरम सीमा पर था। नवंबर 1984 कं दंगे हुए कुछ समय ही गुजरा था। मैं एक बार अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में कुछ हथियार बंद खाडकूओं से मिला। जब मैंने उनसे इस बारे में बात की तो उनमें से एक ने मुझसे पलटकर सवाल पूछते हुए कहा कि आप हम लोगों से निर्दोष लोगों के हत्या करने वाले के बारे में पूछ रहे हैं? नवंबर 1984 के दंगे में सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 2733 निर्दोष सिख मारे गए थे। मगर सरकार ने इस घटना पर दुख नहीं जताया। जब दंगे हो रहे थे तो दिल्ली में भीड़ की हिंसा के वक्त भी पुलिस चुपचाप खड़ी तमाशा देख रही थी। क्या इस नरसंहार व पुलिस के रवैए के पीछे सरकार की स्वीकृति नहीं थी? मैंने उनसे काफी देर तक बात की व उनसे हिंसा का रास्ता छोड़ देने की बात समझानी चाही। हाल में जब दिल्ली में भड़की सांप्रदयिक हिंसा के दौरान पुलिस द्वारा उसे रोक पाने में पूरी तरह से नाकाम रहने की स्थिति देखी तो वह वक्त याद हो आया। न… Continue reading अभी दिल्ली जला, आगे क्या?

कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन

दिल्ली में कपिल मिश्रा हिन्दुओं के और ताहिर हुसैन मुसलमानों का चेहरा बन गए हैं। भाजपा कह रही है कि हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा के पीछे आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का हाथ है , जिस के घर में पत्थरों, इटों और तेज़ाब का जाखीरा पकड़ा गया है। आई बी अफसर अंकित शर्मा के घर वालों ने आरोप लगाया है कि हत्या ताहिर हुसैन ने की थी। अंकित शर्मा का शव ताहिर हुसैन के घर के साथ ही गंदे नाले में मिला था| सोशल मीडिया पर एक वीडियो चल रहा है जिसमें उस नाले और ताहिर हुसैन के घर और फेक्ट्री की छत को दिखाया जा रहा है। छत पर ताहिर हुसैन खुद डंडा ले कर खड़ा है| ताहिर हुसैन ने कबूल कर लिया है कि वीडियो में दिख रहा आदमी वही है ,लेकिन उस ने सफाई दी है कि कुछ लोग उस की फेक्ट्री की छत पर चढ़ गए थे , जिन्हें वहां से निकालने के लिए वह छत पर गए थे। ताहिर हुसैन की फेक्ट्री और छत पर पत्थर–ईंट और तेज़ाब पकड़े जाने के बाद उन की फेक्ट्री को सील कर दिया गया है। आम आदमी पार्टी ताहिर के बचाव में आ गई है। सौरभ भारद्वाज… Continue reading कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन

एसआईटी करेगी दंगों की जांच

दिल्ली में चार दिन तक हुए सांप्रदायिक दंगों की जांच अब विशेष जांच टीम, एसआईटी करेगी। क्राइम ब्रांच की इस एसआईटी का नेतृत्व एडिशनल सीपी क्राइम बीके सिंह करेंगे।

आप पार्षद ताहिर पर कसा शिकंजा

आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन पर दिल्ली पुलिस का शिकंजा कस गया है। ताहिर पर करावल नगर इलाके में दंगा भड़काने का आरोप लगा है

और लोड करें