गुंडों को पकड़ने में नाकाम पुलिस

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी, जेएनयू में घुस कर छात्रों और शिक्षकों के साथ मारपीट करने वाले नकाबपोश गुंडों को पकड़ने में दिल्ली पुलिस नाकाम रही है। चार दिन बीतने के बाद भी पुलिस यह दावा ही करती रही कि वह नकाबपोश गुंडों की पहचान कर रही है। सूत्रों के हवाले से पुलिस ने कहा कि कुछ नकाबपोशों की पहचान हो गई है और जल्‍दी ही पुलिस इस मामले में खुलासा करने वाली है। हालांकि कोई नया केस इस मामले में दर्ज नहीं किया गया है और न अब तक कोई गिरफ्तारी हुई है। नकाबपोश गुंडों के हमले में घायल हुई जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने पुलिस में शिकायत की है। उन्होंने कहा है कि उनको जान से मारने की कोशिश की गई। आइशी ने पुलिस को विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि उनके बेहोश हो जाने तक गुंडे उनको मारते रहे थे। आइशी ने यह भी कहा कि वे एक नकाबपोश गुंडे को पहचानती हैं। गौरतलब है कि रविवार को 50 के करीब गुंडे जेएनयू कैंपस में घुसे थे और छात्रों व शिक्षकों से मारपीट की थी। उन्होंने कैंपस में तोड़फोड़ भी की थी। इस बीच छात्रों के प्रति समर्थन जताने के लिए मंगलवार… Continue reading गुंडों को पकड़ने में नाकाम पुलिस

कांग्रेस की फैक्ट फांइडिंग टीम पहुंची जेएनयू

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की एक फैक्ट फाइंडिंग टीम बुधवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय पहुंची। महिला कांग्रेस की अध्यक्षा सुष्मिता देव इस टीम का नेतृत्व कर रही हैं। इस टीम ने जेएनयू में जाकर जख्मी छात्रों, कुछ प्रोफेसरों व अन्य लोगों के बयान दर्ज किए हैं। कांग्रेस की इस टीम का गठन पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने किया है। पूर्व सांसद सुष्मिता देव अपने सहयोगियों के साथ जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के विभिन्न हॉस्टल्स में गईं। यहां उन्होंने कई छात्राओं व हमले में जख्मी छात्रों से बात की। छात्रों से पांच जनवरी की शाम हुई हिंसा का पूरा विवरण लिया गया। कांग्रेस पार्टी के इन सदस्यों ने छात्रों के बयान की लिखित प्रति तैयार की है, जिसके आधार पर यह टीम जेएनयू में हुई हिंसा, हिंसा करने वाले उपद्रवियों, पीड़ित छात्रों, व पूरे घटनाक्रम पर अपनी विस्तृत रिपोर्ट तैयार करेगी। इसे भी पढ़ें : बिहार में भाजपा अकेले चुनाव जीतने में सक्षम: संजय पासवान कांग्रेस के अलावा डीएमके सांसद कनिमोझी भी बुधवार को जेएनयू पहुंचीं। कनिमोझी ने यहां जख्मी छात्रों से मुलाकात की। छात्रों से मुलाकात के बाद कनिमोझी ने कहां की जेएनयू में हुई वारदात किसी सदमे से कम नहीं है। कनिमोझी ने कहा कि हॉस्टल में एबीवीपी… Continue reading कांग्रेस की फैक्ट फांइडिंग टीम पहुंची जेएनयू

दीपिका का जेएनयू जाना उनका लोकतांत्रिक अधिकार: जावड़ेकर

फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के मंगलवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में जाने को लेकर उठे विवाद के बीच सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कहा कि विश्वविद्यालय परिसर में जाना अभिनेत्री का लोकतांत्रिक अधिकार है।

जामिया में तनाव बढ़ाने के लिए जेएनयू में हिंसा हुई: एबीवीपी

नई दिल्ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हुई हिंसा के लिए वाम दलों को जिम्मेदार ठहराया है। विश्वविद्यालय परिसर में सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान एबीवीपी ने दावा किया कि इस हमले में उसके कम से कम 25 कार्यकर्ता घायल हुए हैं, जबकि घटनाक्रम के बाद से उसके 10 कार्यकर्ता लापता हैं। एबीवीपी की जेएनयू शाखा के नेता ललित ने दावा किया, साबरमती हॉस्टल पर हमला किया गया। छात्रों को नए सेमेस्टर में पंजीकरण करने से रोकने के लिए पूरी हिंसा की गई है। उन्होंने एबीवीपी द्वारा पूर्व में ट्वीट किए गए एक कथित वीडियो का जिक्र करते हुए कहा, आइशी (जेएनयूएसयू अध्यक्ष) जब पेरियार हॉस्टल की तरफ गुंडों का नेतृत्व कर रही थी, उसके बारे में वह क्या कहेंगी, जहां थोड़ी ही देर बाद तोड़फोड़ की गई? मनीष जागिड़ नामक छात्र ने आरोप लगाया कि रविवार को वाम दल से जुड़े छात्र पेरियार छात्रावास में पहुंचे और चिल्लाने लगे, ‘कहां है मनीष?’ मनीष 2019 में जेएनयू छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार थे। यह खबर भी पढ़ें:- जेएनयू विवाद : एबीवीपी ने मांगा एचआरडी मंत्री से इस्तीफा रविवार की हिंसा में उनका बाएं हाथ की हड्डी… Continue reading जामिया में तनाव बढ़ाने के लिए जेएनयू में हिंसा हुई: एबीवीपी

सोनिया की जेएनयू में हिंसा की न्यायिक जांच की मांग

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में रविवार रात हुई हिंसा की कड़ी निंदा करते हुए इस घटना की न्यायिक जांच

जेएनयू हिंसा में प्राथमिकी दर्ज

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) परिसर में रविवार को छात्रों और शिक्षकों पर नकाबपोशों द्वारा किए गए हमले को लेकर दिल्ली पुलिस ने सोमवार को एक मामला दर्ज किया है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि अज्ञात हमलावरों के खिलाफ आगजनी और हमला करने का एक मामला दर्ज किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा अज्ञात हमलावरों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है। यह मामला क्राइम ब्रांच को स्थानांतरित कर दिया गया है। अधिकारी ने कहा हमने भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया है। मामला पुलिस अधिकारियों की एक शिकायत पर दर्ज किया गया है। पुलिस को वामपंथी और एबीवीपी छात्रों से भी शिकायतें प्राप्त हुई हैं। अधिकारी ने कहा हम इन छात्रों द्वारा दी गई जानकारियों की पुष्टि कर रहे हैं। इसे भी पढ़ें : हिंसा के लिए कुलपति जिम्मेदार : जेएनयू छात्र संघ पुलिस ने रविवार रात यूनिवर्सिटी में घुसने की कोशिश कर रहे चार बाहरी लोगों को जेएनयू के नॉर्थ गेट पर हिरासत में ले लिया। पुलिस अधिकारी ने कहा उनसे पूछताछ चल रही है और उनकी संलिप्तता की जांच की जा रही है। रविवार को नकाबपोश सैकड़ों लोगों ने जेएनयू परिसर में… Continue reading जेएनयू हिंसा में प्राथमिकी दर्ज

सुरक्षा कारणों से येलो लाइन पर मेट्रो के तीन स्टेशन बंद

दिल्ली मेट्रो ने सुरक्षा कारणों से येलो लाइन के उद्योग भवन, लोक कल्याण मार्ग और केन्द्रीय सचिवालय तीन मेट्रो स्टेशनों को आज दोपहर बंद कर दिया

इंदिरा-नुरुल हसन के दिमाग की उपज था जेएनयू: आरएसएस

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता एवं प्रज्ञा प्रवाह के राष्ट्रीय संयोजक जे नंद कुमार ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय को लेकर जारी विवाद पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सोमवार को कहा

हार्दिक पटेल ने जेएनयू छात्रों के प्रदर्शन का समर्थन किया

पाटीदार समुदाय के नेता हार्दिक पटेल ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रावास शुल्क बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों का आज समर्थन किया।

जेएनयू मार्च : 2 मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी चर्चा में

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने पर दिल्ली पुलिस ने दो मामले दर्ज किए हैं। दोनों एफआईआर अलग-अलग थानों में, अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज करवाई गई हैं।

चार सदस्यीय छात्र दल मांग-पत्र लेकर मानव संसाधन मंत्रालय पहुंचा

दिल्ली की सड़कों पर दिन भर मचे बबाल के बाद जवाहर लाल नेहरू विवि फीस विवाद को लेकर सोमवार रात छात्र, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय पहुंच गए। मांग पत्र के साथ छात्रों को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय (शास्त्री भवन) में कड़ी पुलिस सुरक्षा में पहुंचाया गया।

जेएनयू को ऐसे खत्म करना महापाप!

दो साल पहले की बात है। मैंने घर के लिए उबर ली थी। पूरे रास्ते ड्राइवर चुप और उदासीन बैठा रहा। मुझे एक बार भी ऐसा नहीं लगा कि उससे बात कर रोजमर्रा के जीवन पर उससे कुछ जाना जाए। लेकिन वसंत विहार की ओर जाने वाली सड़क के ठीक दायीं ओर पहुंचते ही वह चिल्लाता हुआ सा बोला- ‘ये देशद्रोही यूनिवर्सिटी है, जिसको बंद कर देना चाहिए’।

नायडू ने किया शिक्षण और अनुसंधान में बदलाव लाने का आह्वान

उप राष्ट्रपति एम. वैकेंया नायडू ने देश को ज्ञान एवं नवाचार का एक अग्रणी केन्द्र बनाने के लिए शिक्षण से लेकर अनुसंधान तक की समूची शिक्षा प्रणाली में व्यापक बदलाव लाने का आह्वान किया है।

और लोड करें