काबुल में महिलाओं पर कोड़े, पंजशीर के लड़ाकों ने बनाई अपनी अलग सरकार

तालिबान की ओर से लगाई जा रही पाबंदियों और पाकिस्तान के दखल के खिलाफ काबुल में लगातार चौथे दिन बुधवार को भी प्रदर्शन हुआ।

तालिबानियों के ठिकानों पर हवाई हमले, कई आतंकी ढेर, धमाकों से गूंज उठा पंजशीर

सोमवार को ऐलान किया था कि तालिबानियों ने पंजशीर पर कब्जा कर लिया है और धमकी दी थी कि अगर किसी ने तालिबानी सरकार बनाने में खलल डाला तो उसके साथ भी पंजशीर की तरह ही निपटा जाएगा।

सर्तकता है बेहद जरूरी

अफगानिस्तान में तालिबान का राज कायम होने को लेकर जो अंदेशे थे, उनमें से कुछ अब सच साबित होने लगे हैँ। लंबे समय बाद अल-कायदा ने वहां अपनी मौजूदगी जताई है।

अमेरिका विरोधी देशों को तालिबान का न्योता

अपगानिस्तान में अलग अलग आतंकवादी गुटों के बीच सहमति नहीं बन पाने की वजह से सरकार का गठन नहीं हो पा रहा है।

Afghnistan Crisis : उपराष्ट्रपति रहे सालेह के घर पर हमला, Panjshir में तालिबान ने मसूद के करीबियों को मार गिराया

अफगानिस्तान में चल रहे घमासान के बीच अब एक ओर खबर सामने आई है कि गनी सरकार में उपराष्ट्रपति रहे अमरुल्ला सालेह के घर पर हेलिकॉप्टर से हमला किया गया है।

तालिबानी लड़कों ने पंजशीर पर भी जमाया कब्जा! Afghanistan में आज तालिबानी सरकार को होगा ऐलान

तालिबानी कमांडर ने कहा कि, हमने पूरे अफगानिस्तान में नियंत्रण कर लिया है। परेशानी पैदा करने वालों को हरा दिया गया है और पंजशीर हमारी कमान में है।

Afghanistan में आज बनने जा रही Taliban सरकार, ईरान की तर्ज पर चलेगा शासन, अखुंदजादा होंगे देश के सर्वोच्च नेता

तालिबानी अफगानिस्तान में ईरान की तर्ज पर सरकार बनाएंगे। तालिबान ने कैबिनेट मंत्रियों के नाम फाइनल कर लिए गए हैं।

तालिबान से क्या बनेगी भारत की बात?

यह लाख टके का सवाल है कि भारत ने तालिबान के साथ जो वार्ता शुरू की है वह किसी मुकाम तक पहुंचेगी या दो-चार दिन की सनसनी बन कर रह जाएगी?

अफगानिस्तान का इस्तेमाल आतंक के लिए न हो!

तालिबान से एक दौर की वार्ता कर चुकी भारत सरकार चाहती है कि अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए नहीं होने दिया जाए।

तालिबान को मान्यता देने की जल्दी नहीं

अमेरिका ने कहा है कि उसे या दुनिया के किसी और देश को तालिबान को मान्यता देने की कोई जल्दबाजी नहीं है, क्योंकि यह कदम पूरी तरह इस बात पर निर्भर करेगा

अलकायदा ने छेड़ा कश्मीर का राग

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी होने के एक दिन बाद ही आतंकवादी संगठन अलकायदा सक्रिय हो गया है और उसने कश्मीर की आजादी की राग भी छेड़ दिया है।

शुभ है भारत-तालिबान संवाद

मुझे खुशी है कि क़तर में नियुक्त हमारे राजदूत दीपक मित्तल और तालिबानी नेता शेर मुहम्मद स्थानकजई के बीच दोहा में संवाद स्थापित हो गया है।

अमेरिका की नियति है लड़ते रहना!

काबुल हवाईअड्डे पर 30 अगस्त की आधी रात को जब हथियारों से लैस पूरे मिलिट्री गियर में अमेरिकी सेना के मेजर जनरल क्रिस डोनह्यू सी-17 ट्रांसपोर्ट विमान में सवार हुए तो वह तस्वीर इतिहास में दर्ज हो गई।

तालिबान ने कहा- हम आजाद

अफगानिस्तान से अमेरिका के आखिरी सैनिक के विदा होने के साथ ही 30 अगस्त की आधी रात को तालिबान ने अफगानिस्तान की आजादी का ऐलान कर दिया।

अफगानिस्तान से जुड़ी दुविधा

भारत सरकार की दुविधा यह है कि उसके अपने घरेलू एजेंडे के तहत तालिबान से संपर्क बनाना माफिक नहीं लगता। लेकिन तालिबान ही अब अफगानिस्तान का शासक है।

और लोड करें