आलिया, रणबीर लंदन में मना रहे छुट्टियां

बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर और आलिया भट्ट इन दिनों लंदन में छुटि्यां मना रहे हैं। हाल ही में आलिया और रणबीर एक-दूसरे के साथ क्वॉलिटी टाइम बिताने के लिए लंदन पहुंचे हैं, हालांकि इस ट्रिप पर दोनों अकेले नहीं बल्कि उनके साथ कोई और भी है।

लंदन में नए दक्षिण एशिया का सपना

लंदन के दस दिन के प्रवास में ‘दक्षिण एशियाई लोक संघ’ (पीपल्स यूनियन ऑफ साउथ एशिया) का मेरा विचार जड़ पकड़ता लगता है। पड़ौसी देशों के ही नहीं, ब्रिटेन और इजरायल के भद्र लोगों ने भी सहयोग का वादा किया है। उनका कहना था कि इस तरह के क्षेत्रीय संगठन दुनिया के कई महाद्वीपों में काम कर रहे हैं लेकिन क्या वजह है कि दक्षिण एशिया में ऐसा कोई संगठन नहीं है, जो इसके सारे देशों के लोगों को जोड़ सके।

लंदन में अकेला ‘दुश्मन’

लंदन में आजकल ‘ब्रेक्सिट’ यानि ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से ‘एक्सिट’ (निकलने) की धूम मची हुई है। नेता लोग एक-दूसरे पर प्रहार कर रहे हैं। बड़े-बड़े प्रदर्शन हो रहे हैं। जब 11 अक्तूबर को हम ब्रिटिश संसद भवन में आयोजित कार्यक्रम में गए थे तो सड़कें बंद थीं।

लंदन में बातें और मुलाकातें

मेरा लंदन आना कई बार हुआ लेकिन इस बार लंदन को जैसे देख रहा हूं, पहले कभी नहीं देखा। पहले जब भी लंदन आना हुआ, सारा दिन अपने भारतीय उच्चायोग (या दूतावास) में बैठे-बैठे बीत जाता था। दिन भर लोग मिलने आते थे और रात को होटल या घर में जाकर सो जाते थे लेकिन इस बार कई पुराने मित्रों से मिलने का अवसर मिला और नए मित्रों से भी।

मुक्केबाज पैट्रिक डे का निधन हुआ

चार्ल्स कॉनवेल के खिलाफ हुए मैच में सिर पर चोट लगने के बाद अमेरिका के मुक्केबाज पैट्रिक डे का देहांत हो गया। ‘द गार्जियन’ के अनुसार, 27 वर्षीय डे को 12 अक्टूबर को शिकागो में हुई सुपर-वॉल्टरवेट बाउट में 10वें राउंड में नॉकआउट झेलना पड़ा और उसके बाद कोमा में चले गए।

लंदन की ताजा एक झलक 

अब से ठीक 50 साल पहले मैं लंदन पहली बार आया था। उस समय यहां गांधीजी की जन्म शताब्दि (1969) मन रही थी। कई देशों के गांधी भक्त इकट्ठे हुए थे। उनमें मैं सबसे छोटा था लेकिन मुझे भी उस सम्मेलन में बोलने के लिए कहा गया था। इस बार शायद 8-10 साल बाद मेरा लंदन आना हुआ है। वह सिर्फ गांधीजी के डेढ़ सौ साल मनाने के लिए।

आर्चर को इंग्लैंड के टी-20 विश्व कप जीतने की उम्मीद

इंग्लैंड टीम के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर का मानना है कि उनकी टीम अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप को जीतकर दो विश्व कप जीतने का इतिहास रच सकती है।