Kumbh Mela 2021 : 20 साधु-संत पाए गए पाॅजिटिव, सौ से ज्यादा श्रद्धालु भी आए चपेट में

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण (Coronavirus in India) बेकाबू होने बाद अब हरिद्वार में चल रहे कुंभ मेले (Kumbh Mela 2021) में भी कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। कुंभ मेले में महंतों और साधु-संतों पर भी कोरोना की छाया पड़ गई है। कुंभ मेले (Mahakumbh 2021) में अब तक 20 साधु-संत कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 100 से ज्यादा श्रद्धालु भी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। कुंभ मेले में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि को तबीयत बिगड़ने पर एम्स में भर्ती कराया गया है। इससे पहले शनिवार को श्रीमहंत की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें अखाड़े में ही आइसोलेट किया गया था। इधर, पिछले पांच दिनों में निरंजनी अखाड़े के दस संत भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। श्रीमहंत के संपर्क में आए यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी मंगलवार को लखनऊ में अपनी कोविड जांच कराई है। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने अखाड़े के कई संतों के कोरोना सैंपल लिए हैं। ये भी पढ़ें :- Kumbh Special हरिद्वार में हर की पौड़ी का क्यों है महत्व,आइए जानें इसे ब्रह्मकुंड क्यों कहते हैं….. श्रीमहंत गिरि महाकुंभ से जुड़े कार्यों में सक्रिय भूमिका निभा रहे थे। कुंभ… Continue reading Kumbh Mela 2021 : 20 साधु-संत पाए गए पाॅजिटिव, सौ से ज्यादा श्रद्धालु भी आए चपेट में

Mahakumbh 2021: महाकुंभ में 21 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, कोरोना को लेकर प्रशासन अलर्ट

New DelhI: देशभर में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच महाकुंभ का भी आयोजन किया जा रहा है.  इस बार के महाकुंभ के आयोजन में शुरु से ही राजनीतिक पार्टियों में मतभेद देखा जा रहा था. इसके बाद भी देश उत्तराखंड और केंद्र सरकार ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम का हवाला देते हुए इसे आयोजित करने का फैसला लिया. देशभर में फैले दूसरे लहर के बीच  आज हरिद्वार में  दूसरे शाही स्नान के लिए भारी संख्या में लोग पहुंचे. मेला प्रशासन द्वारा जारी किये गये आंकड़ों के अनुसार 12 बजे तक 21 लाख 7 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं ने हरिद्वार के कुम्भ मेला एरिया में स्नान किया है. आंकड़ों के बाहर आते ही देशभर में इस बात की चर्चा होनी शुरु हो गई है कि क्या इतने ज्यादा लोगों के एक साथ स्नान करने पर कोरोना का प्रसार नहीं होगा. जहां एक ओर लगभग देश के सभी राज्यों में कोरोना संक्रमण को लेकर लोग परेशान है ऐसे में एक बार फिर से इस आयोजन पर सवाल खड़े हे रहे हैं. एक दिन में  उत्तराखंड में  मिले  नए1333 मरीज  बता दें कि एक ओऱ तो राज्य में महाकुंभ का आयोजन किया जा रहा है, तो दूसरी ओर कोरोना के मरीजों की संख्या… Continue reading Mahakumbh 2021: महाकुंभ में 21 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, कोरोना को लेकर प्रशासन अलर्ट

कोरोना पर आस्था का प्रहार! Somvati Amavasya 2021 पर कुंभ के दूसरे शाही स्नान में श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच आज सोमवती अमावस्या (Somvati Amavasya 2021) के दिन हरिद्वार महाकुंभ (Mahakumbh 2021) में दूसरा शाही स्नान हो रहा है। हालांकि कोरोना की वजह से कुंभ स्थल पर कई तरह की पाबंदियां लगाई गईं हैं और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। लेकिन शाही स्नान (Shahi Snan) में लोगों का उत्साह देखने को मिल रहा है। इस शाही स्नान में सबसे पहले तमाम अखाड़ों के साधु-संतों ने आस्था की डुबकी लगाई। अखाड़ों के बाद आम श्रद्धालुओं ने शाही स्नान किया। कोरोना के चलते इस बार आम लोगों के स्नान की अलग व्यवस्था की गई है। हरिद्वार में हर की पौड़ी पर सबसे पहले खास मुहूर्त में विभिन्न अखाड़ों के साधु-संत स्नान करते हैं फिर इसके बाद श्रद्धालुओं को स्नान करने दिया जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अमावस्या या सोमवती अमावस्या के दिन पवित्र नदियों में स्नान करने से भगवान विष्णु की कृपा सदैव बनी रहती है। अमावस्या तिथि पर चंद्रमा की विधिवत पूजा करने से चंद्रदेव का आशीर्वाद मिलता है और जीवन में सुख समृद्धि आती है। ये भी पढ़ें :- UP Panchayat Election: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर यह महिला लड़ रही पंचायत चुनाव स्नान करने से मिलती… Continue reading कोरोना पर आस्था का प्रहार! Somvati Amavasya 2021 पर कुंभ के दूसरे शाही स्नान में श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

Kumbh in Haridwar : महाकुम्भ का श्रीगणेश मां गंगा की पूजा-अर्चना के साथ हुआ, Corona नेगेटिव रिपोर्ट बिना एंट्री नहीं

हरिद्वार | महाकुम्भ-2021 का औपचारिक रूप से श्रीगणेश उत्तराखंड के हरिद्वार में गुरुवार को प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से मां गंगा की वैदिक मंत्रोच्चारण के मध्य पूजा-अर्चना के साथ हुआ। कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को 72 घंटे के अंदर कराई गई कोरोना निगेटिव रिपोर्ट बिना प्रवेश नहीं मिलेगा। यही नहीं हरिद्वार में रिपोर्ट की जांच भी की जा रही है। रिपोर्ट के बिना आने वाले लोगों को हरिद्वार से वापस भेजा जा रहा है। कुम्भ मेला अधिकारी दीपक रावत और पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने संयुक्त रूप से हर की पैड़ी पर सफल आयोजन के लिये मां गंगा, नव ग्रहों एवं अन्य देवी देवताओं की पूजा-अर्चना की। इसके पश्चात अधिकारियों ने मां मंशा देवी और मां चंडी देवी मन्दिरों में भी महाकुम्भ को लेकर पूजा-अर्चना की। मेला अधिकारी दीपक रावत ने इस अवसर पर कहा कि आज से महाकुम्भ मेला पूरी तरह नोटिफाई हो गया है। मां गंगा की पूजा-अर्चना की गई और मां गंगा के आशीर्वाद से महाकुम्भ निर्विघ्न हो ऐसी कामना की गई। सब कुछ सकुशल हो। किसी तरह की दुर्घटना न हो, सभी लोग यहां पर आएं, आनंद से स्नान करें, अच्छे अनुभव लेकर जाएं। Must Read : सस्ता हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितना सस्ता… Continue reading Kumbh in Haridwar : महाकुम्भ का श्रीगणेश मां गंगा की पूजा-अर्चना के साथ हुआ, Corona नेगेटिव रिपोर्ट बिना एंट्री नहीं

Mahakumbh 2021: महाकुंभ की हुई शुरुआत, श्रद्धालुओं को कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही मिलेगा प्रवेश

भारत में होने लगना वाला कुंभ मेला विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है.  महाकुंभ 2021 का आगाज आज से हो चुका है. कुंभ करोड़ों श्रद्धालुओं के लिए आस्था का केंद्र है. कुंभ का मेला 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक चलेगा. लेकिन कोरोना के संक्रमण को देखते हुए इस बार  महाकुंभ में जाने के लिए 72 घंटे पहले की कोरोना का निगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है. भारत में हर 12वें वर्ष चार स्थानों पर कुंभ का आयोजन किया जाता है. कुंभ का आयोजन  हरिद्वार,प्रयागराज,उज्जैन और नासिक में किया जाता है. लेकिन इस वर्ष कुंभ मेले के इतिहास में पहली बार हरिद्वार में बाहरवें वर्ष के बजाय ग्याहरवे वर्ष में किया जा रहा है. 83 वर्षों बाद बना यह संयोग दरअसल, अमृत योग का निर्माण काल गणना के अनुसार होता है. जब कुंभ राशि का गुरु आर्य के सूर्य में परिवर्तित होता है. यानी गुरु, कुंभ राशि में नहीं होंग तब ही कुंभ का आयोजन किया जाता है.  इसलिए इस बार 11वें साल में कुंभ का आयोजन हो रहा है. 83 वर्षों की अवधि के बाद यह अद्भुत संयोग आ रहा है.  इससे पहले इस तरह की घटना वर्ष 1760, 1885 और 1938 में हुई थी. 4 शाही… Continue reading Mahakumbh 2021: महाकुंभ की हुई शुरुआत, श्रद्धालुओं को कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही मिलेगा प्रवेश

और लोड करें