MP CG Assembly Elections 2023

  • ‘फाइट’ तो बतौर धारणा दिमाग में ड्रील!

    भोपाल। ये परसेप्शन का मामला है, भैये। आप चुनाव मैनेजमेंट न करें, कोई बात नहीं। चुनावी गणित पक्ष में न हो, तब भी चलेगा। जनता से केमिस्ट्री न होतो कोई फर्क नहीं पड़ेगा।मगर हां, ज़रूरी है धारणा याकि लोगों में वह परसेप्शन पैदा करना जो वोटिंग के दिन तक कायम रहे। फिजूल है यह सोचना कि धारणा सही है या गलत? मैं पिछले दो हफ़्तों से घूम रही हूँ। पहले छत्तीसगढ़ और उसके बाद मध्यप्रदेश में।और जो समझ में आया वह यह है कि वोटर न तो दुविधा, विभ्रम में हैं और ना लोगों के मन में कोई द्वन्द है।वह न...