दिल्ली में कश्मीर जैसे हालात

नई दिल्ली। गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के हालात कश्मीर जैसे बन गए। कई इलाकों में इंटरनेट बंद करना पड़ा और 20 से ज्यादा मेट्रो स्टेशन करीब पूरे दिन बंद रहे। कई इलाकों में सड़कें बंद रहीं और लोग जाम में फंसे रहे। दिल्ली-गुड़गांव हाईवे पर गुरुवार को दस किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा। नागरिकता कानून के विरोध में उतरे लोगों की जगह जगह पर पुलिस के साथ झड़प हुई और लोगों को हिरासत में लिया गया। दिल्ली में लाल किला, जामिया नगर, मंडी हाउस सहित कई इलाकों में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुआ। इसकी वजह से राजीव चौक, मंडी हाउस सहित 20 से ज्यादा मेट्रो स्टेशन बंद करने पड़े। कई इलाकों में फोन, एसएमएस और इंटरनेट सेवाएं भी बंद करवा दी गईं। मोबाइल सेवा देने वाली कंपनियों ने बताया कि सरकार के निर्देश पर उन्होंने सेवा स्थगित की है। हाल के दिनों में यह संभवतः पहली बार हुआ है कि राष्ट्रीय राजधानी में संचार सेवाओं पर पाबंदी लगानी पड़ी। इससे पहले कश्मीर, असम, त्रिपुरा आदि जगहों पर संचार सेवाओं पर पाबंदी की खबरें थीं। गुरुवार को होने वाले प्रदर्शनों की वजह से दिल्ली में लाल किला क्षेत्र के आसपास धारा 144 लागू कर दी गई थी। निषेधाज्ञा का… Continue reading दिल्ली में कश्मीर जैसे हालात

अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक

नई दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में देश भर में हिंसक विरोध प्रदर्शन के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार की शाम को एक आपात बैठक बुलाई। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि अमित शाह के अलावा इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल भी शामिल हुए। इनके अलावा बैठक में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी और नित्यानंद राय भी शामिल हुए। केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला भी बैठक में शामिल हुए। उन्होंने और दूसरे अधिकारियों ने गुरुवार को देश भर में हुए विरोध प्रदर्शनों और सुरक्षा हालात के बारे में गृह मंत्री को जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि मौजूदा सुरक्षा स्थितियों की समीक्षा के लिए यह बैठक बुलाई गई थी। गौरतलब है कि नागरिकता कानून के विरोध में देश के हर हिस्से में गुरुवार को आंदोल हुए। वामपंथी पार्टियों ने गुरुवार को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया था। बहरहाल, इससे पहले, बुधवार शाम को प्रशासन ने दिल्ली, लखनऊ और बेंगलुरू में प्रदर्शन की इजाज़त देने से इनकार कर दिया था, जबकि मुंबई, चेन्नई, पुणे, हैदराबाद, नागपुर, भुवनेश्वर, कोलकाता और भोपाल में प्रदर्शनों पर कोई रोक नहीं लगाई गई थी। वहीं, मुंबई के अगस्त क्रांति मैदान में नागरिकता… Continue reading अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक

अगस्त क्रांति मैदान में जुटे हजारों लोग

मुंबई। नागरिकता कानून के विरोध में देश की वित्तीय राजधानी मुंबई में गुरुवार की शाम को हजारों लोग सड़क पर उतरे। करीब 70 संगठनों के लोगों ने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। मुंबई के ऐतिहासिक अगस्त क्रांति मैदान में हुए इस प्रदर्शन में कई फिल्मी सितारों और फिल्मकारों ने भी हिस्सा लिया। उन्होंने पूरे प्रदर्शन को अराजनीतिक बनाए रखा। प्रदर्शन में शामिल लोगों ने शिक्षण संस्थानों में और छात्रों के ऊपर हुई पुलिस कार्रवाई का भी विरोध किया। इस प्रदर्शन को कांग्रेस, एनसीपी, समाजवादी पार्टी आदि ने समर्थन दिया था। नागरिकता कानून के खिलाफ सोशल मीडिया में अभियान चला रहे अभिनेता खुले में विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। फिल्म अभिनेता फरहान अख्तर, अभिनेत्री स्वरा भास्कर, फिल्मकार अनुराग कश्यप, कबीर खान जैसी फिल्मी हस्तियां गुरुवार के प्रदर्शन में शामिल हुईं। इससे पहले फरहान अख्तर ने कहा था कि वे संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए सड़क पर उतरेंगे, क्योंकि सिर्फ सोशल मीडिया पर गुस्सा जाहिर करने का वक्त अब निकल चुका है। इसके आयोजकों ने मैदान में लगे सभी राजनीतिक झंडों को हटवा दिया था। प्रदर्शन को देखते हुए अगस्त क्रांति मैदान के आसपास की सभी दुकानों को बंद करवाया गया, ट्रैफिक भी डाइवर्ट कर दिया गया। मुंबई… Continue reading अगस्त क्रांति मैदान में जुटे हजारों लोग

और लोड करें