No confidence vote

  • अविश्वास प्रस्ताव से विपक्ष घाटे में

    विपक्षी पार्टियों द्वारा नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश करने से क्या हासिल होगा? विपक्षी पार्टियां कह रही हैं कि प्रधानमंत्री को मणिपुर के मसले पर संसद में बयान देने के लिए बाध्य करने का यही एक तरीका था। पहला सवाल तो यह है कि प्रधानमंत्री को संसद में बोलने के लिए बाध्य करना क्यों जरूरी है? संसद में बोलने या नहीं बोलने से मणिपुर की स्थिति पर क्या फर्क पड़ने वाला है? क्या संसद में बोलने पर यह अनिवार्यता हो जाएगी कि प्रधानमंत्री मणिपुर के मुख्यमंत्री पर कोई कार्रवाई करें या संसद में उनके बोल देने से...