NOTA

  • इंदौर में कांग्रेस का नोटा अभियान नहीं चला

    मध्य प्रदेश की इंदौर लोकसभा सीट पर भाजपा वैसा खेला नहीं कर सकी, जैसा उसने गुजरात की सूरत सीट पर किया था। इंदौर में भी कांग्रेस उम्मीदवार ने पर्चा वापस ले लिया था लेकिन समय रहते सभी निर्दलीय और छोटी पार्टियों के उम्मीदवारों की नाम वापसी नहीं हुई, जिससे मतदान की नौबत आ गई। इंदौर लोकसभा सीट पर सोमवार यानी 13 मई को मतदान हुआ। इससे पहले कांग्रेस ने अभियान चलाया था कि उसके समर्थकों को नोटा पर वोट करना चाहिए। कांग्रेस ने एक तरह से नोटा को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया। हालांकि एक बड़ा वर्ग यह कहता रहा...