एसओजी ने मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री को बयान देने के लिए नोटिस जारी किया

विधायकों को प्रलोभन देकर राज्य की निर्वाचित कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने के प्रयासों के आरोपों पर राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट व सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को बयान देने के लिए नोटिस जारी किया है।

शरजील मामला: उप्र, असम, अरुणाचल को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

उच्चतम न्यायालय ने भड़काऊ भाषण मामले में देश के विभिन्न हिस्सों में दर्ज मामले की जांच एक ही एजेंसी कराये जाने को लेकर शरजील इमाम की याचिका पर उत्तर प्रदेश सहित तीन राज्यों को आज नोटिस जारी किये।

कपिल मिश्रा पर 48 घंटे की पाबंदी

नई दिल्ली। सांप्रदायिक बयान देकर विवादों में घिरे दिल्ली में भाजपा के विधानसभा चुनाव के उम्मीदवार कपिल मिश्रा पर चुनाव आयोग ने 48 घंटे के लिए पाबंदी लगा दी है। वे 48 घंटे तक चुनाव प्रचार नहीं कर सकेंगे। उन पर लगी पाबंदी शनिवार की शाम पांच बजे से शुरू हो गई है। गौरतलब है कि पिछले दिनों मिश्रा ने ट्विट किया था कि आठ फरवरी को भारत और पाकिस्तान के बीच दिल्ली की सड़कों पर मुकाबला होगा। गौरतलब है कि दिल्ली में आठ फरवरी को मतदान होना है। उनके इस बयान पर इस पर कांग्रेस और आप की आपत्ति के बाद चुनाव आयोग ने उम्मीदवार मिश्रा पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। इसके बाद दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी रणबीर सिंह के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। पुलिस ने मॉडल टाउन थाना में जन प्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 125 में कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर नंबर 78/20 दर्ज की है, जिसमें तीन साल की जेल, जुर्माना या दोनों एक साथ दिया जा सकता है। कपिल मिश्रा ने गुरुवार को ट्विट किया था- आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने शाहीन बाग जैसे मिनी पाकिस्तान खड़े किए हैं। जवाब में आठ फरवरी… Continue reading कपिल मिश्रा पर 48 घंटे की पाबंदी

कपिल मिश्रा पर एफआईआर का निर्देश

नई दिल्ली। अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर रहे पूर्व आप नेता और अब भाजपा की टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ रहे कपिल मिश्रा की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनके एक ट्विट पर हुए विवाद के बाद केंद्रीय चुनाव आयोग ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी की सरकार में मंत्री थे। पार्टी बदल कर वे इस बार भाजपा की टिकट पर मॉडल टाउन सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। गौरतलब है कि सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए हिंदू-मुस्लिम वाले बयान दिए जा रहे हैं। पिछले दिनों कपिल मिश्रा ने आठ फरवरी को होने वाले मतदान को भारत और पाकिस्तान की लड़ाई की तरह बताया था। बहरहाल, चुनाव आयोग  कपिल मिश्रा के एक ट्विट को लेकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। चुनाव आयोग ने पुलिस को नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वालों के खिलाफ किए गए सांप्रदायिक ट्विट पर कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए कहा है।

पाकिस्तान वाले बयान पर कपिल मिश्रा को चुनाव आयोग का नोटिस

चुनाव आयोग ने दिल्ली के मॉडल टाउन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के उम्मीदवार कपिल मिश्रा द्वारा नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे

और लोड करें