चौटाला परिवार में फिर एकता बनेगी

ओमप्रकाश चौटाला का परिवार फिर एक हो जाएगा। इसकी शुरुआत हो गई है। असल में चुनाव से पहले भी परिवार की एकता का प्रयास हुआ था पर किसी खास रणनीति की वजह से ऐसा नहीं हो पाया था।

दुष्यंत चौटाला पिता-पितामह से तिहाड़ जेल में मिले

हरियाणा विधानसभा चुनाव में तमाम राजनीतिक पंडितों के गणित को विफल करने वाले जननायक जनता पार्टी (जजपा) प्रमुख दुष्यंत चौटाला शुक्रवार की दोपहर अपने पिता और पितामह से मिलने तिहाड़ जेल पहुंचे। बाद में उन्होंने प्रेसवार्ता कर आगे की रणनीति का ‘मतलब-भर’ खुलासा किया। दुष्यंत चौटाला दोपहर करीब साढ़े बजे दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल नंबर-2 में पहुंचे, वह भी बिना किसी तामझाम और लाव-लश्कर के। इस जेल में उनके दादा और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला तथा पिता अजय चौटाला लंबे समय से कैद हैं।

तंवर का मकसद हुड्डा को हराना है

राहुल गांधी के चुने और प्रमोट किए गए एक और नेता बागी हो गए हैं। करीब छह साल तक प्रदेश अध्यक्ष के पद पर रहने के बाद हटाए गए अशोक तंवर ने पार्टी तो पहले ही छोड़ी थी अब उन्होंने जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्यंत चौटाला को अपना समर्थन दे दिया है। उन्होंने खुल कर कहा है कि उनका मकसद कुछ लोगों को सबक सिखाना है।