अमीर करें, गरीब भरें!

हाल में आई अंतरराष्ट्रीय संस्था ऑक्सफैम की एक रिपोर्ट से सामने आया कि दुनिया के सबसे अमीर एक फीसदी लोग जितना कार्बन उत्सर्जन करते हैं, वह दुनिया की आधी गरीब आबादी के उत्सर्जन से दोगुना है।