250 रुपए में लगेगी वैक्सीन!

देश में कोरोना वैक्सीनेशन का तीसरा चरण सोमवार से शुरू हो रहा है। इस चरण में 60 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को टीका लगेगा

कोरोना के लौटने का खतरा

अभी यह तो नहीं कह सकते हैं कि कोरोना का खतरा वापस अपने पुराने रूप में लौट आया है, क्योंकि यह मानने के पर्याप्त कारण हैं कि भारत में महामारी का सबसे बुरा समय गुजर चुका है।

महाराष्ट्र में कोरोना विस्फोट!

कोराना वायरस के संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के संक्रमण का एक बार फिर विस्फोट हुआ है। बुधवार को महाराष्ट्र में करीब नौ हजार नए केसेज आए।

पैसे देकर लगवा सकेंगे टीका

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए चल रहे वैक्सीनेशन अभियान का दायरा बढ़ा दिया है। सरकार ने निजी अस्पतालों को भी वैक्सीनेशन के काम में शामिल कर लिया है।

भारत बायोटेक का डाटा दो हफ्ते में

भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए वैक्सीनेशन का अभियान 38 दिन से चल रहा है। भारत में दो वैक्सीन को मंजूरी दी गई और दोनों वैक्सीन हर राज्य में भेजी जा रही है।

दो नए किस्म का कोरोना मिला

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और एक्टिव केसेज की संख्या में हो रहे इजाफे के बीच पता चला है कि भारत में दो नए किस्म का कोरोना वायरस मिला है।

सबके लिए फ्री नहीं होगी वैक्सीन

अब धीरे धीरे यह स्पष्ट हो रहा है कि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने वाली वैक्सीन सबके लिए फ्री नहीं होगी। कुछ लोगों को इसके लिए पैसे चुकाने होंगे

कोरोनाः भारत बना विश्व-त्राता

कुछ दिन पहले जब मैंने लिखा था कि कोरोना का टीका भारत को विश्व की महाशक्ति के रूप में उभार रहा है तो कुछ प्रबुद्ध पाठकों ने मुझे कहा था कि आप मोदी सरकार को जबर्दस्ती इसका श्रेय दे रहे हैं।

वैक्सीन को नियंत्रण मुक्त करना ही उपाय

भारत में एक बार फिर कोरोना वायरस के केसेज बढ़ने लगे हैं। इसे कहीं दूसरी लहर कहा जा रहा तो कहीं तीसरी लहर।

टीकाकरण में शामिल होंगी निजी कंपनियां

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए चल रहे वैक्सीनेशन अभियान में अब निजी कंपनियों को भी शामिल किया जाएगा। भारत में 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था और 32 दिन में 90 लाख से ज्यादा लोगों को टीके लगाए गए।

टीकाकरण पर नियंत्रण खत्म करे सरकार

केंद्र सरकार को चाहिए कि वह कोरोना वायरस की वैक्सीन का संक्रमण रोकने के लिए चल रहे टीकाकरण को अपने नियंत्रण से मुक्त करे।

मुफ्त वैक्सीन लगाने का अभियान चलता रहेगा

भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए मुफ्त में वैक्सीन लगाने का अभियान चलता रहेगा।

ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का क्या होगा?

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को भारत में रामबाण माना जा रहा है। भारत बायोटेक की बनी कोवैक्सीन को लेकर कुछ आपत्ति भी है तो ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोवीशील्ड को लेकर आपत्ति नहीं है

और लोड करें