पर्यावरणः ज्यों-ज्यों दवा की, मर्ज़ बढ़ता गया

उत्तर भारत दमघोंटू गैस चैंबर में परिवर्तित हो गया है। इससे बचने के लिए स्थानीय लोग मास्क सहित विभिन्न-विभिन्न माध्यमों का उपयोग कर रहे है। इस भयावह स्थिति के लिए मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा और उत्तरप्रदेश में किसानों द्वारा जलाई जा रही धान पराली और उससे निकलने वाले धुंए को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।

पराली न जलाकर अजनाला ने पेश की मिसाल

पंजाब और हरियाणा के किसान जहां पराली को जलाकर प्रदूषण का कारण बने हुए हैं, वहीं पंजाब के अजनाला के किसानों ने पराली नहीं जलाकर अन्य किसानों के लिए एक मिसाल पेश की है।

पराली को सीएनजी में बदला जा सकता है : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि पराली को सीएनजी में बदलना प्रौद्योगिकीय और व्यावसायिक रूप से संभव है। केजरीवाल ने कहा कि इस मुद्दे पर उनकी विशेषज्ञों के साथ कई बैठकें हुई हैं।

किसान की ठूंठ है दिल्ली का धुंआ

कुछ साल पहले तक टीवी पर चीन के शहरों की ऐसी तस्वीरे देखा करते थे जिनमें पूरे शहर में धुंआ छाया रहता था। खबरों में बताया जाता था कि वहां इस कदर प्रदूषण फैल चुका है कि वहां की इमारते तक साफ नहीं दिख रही है। अब दिल्ली में भी यही चल रहा है।

पराली जलाने पर 105 किसानों पर डेढ़ लाख से ज्यादा का जुर्माना

सिरसा। हरियाणा के सत्रह जिलों में स्माग के कारण स्कूलों को दो दिन के लिए बंद करने के आदेश दिए हैं। पराली जलाने के कारण पर्यावरण प्रदूषण बढ़ा है तथा सिरसा में पिछले कई रोज से किसानों द्वारा जलाई जा रही पराली से फैल रहे प्रदूषण पर नियंत्रण करने के लिए शासन व प्रशासन ने कठोर कार्रवाई अमल में लानी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में हरसैक द्वारा अब तक 105 किसानों पर एक लाख 77 हजार रुपए से अधिक जुर्माना किया गया है और जोधकां गांव के एक किसान के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया है। किसानों पर जिला प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई से नाराज इंडियन नेशनल लोकदल (इनैलो) ने आदोंलन करने का ऐलान किया है। इसी कड़ी में पार्टी की प्रदेश महासचिव सुनैना चौटाला व युवा नेता अर्जुन चौटाला के नेतृत्व में जिलेभर के किसान कल मंगलवार को जिला सचिवालय पर एकत्रित होकर रोष का इजहार करेंगे। जिला उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने सोमवार को बताया कि धान के अवशेष जलाने के कारण बढ़ते प्रदूषण की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए हरसैक द्वारा जिला में पराली जलाने के 205 स्थानों को चिंहित किया गया है। इसके अलावा 30 गांव जो पराली जलाने के लिए… Continue reading पराली जलाने पर 105 किसानों पर डेढ़ लाख से ज्यादा का जुर्माना

पराली का धुआं

हर साल की तरह फिर से दिल्ली पर प्रदूषण की मार पड़नी शुरू हो गई है। प्रदूषण दिल्ली की बड़ी समस्या है, लेकिन यह ज्यादा गंभीर रूप तब धारण कर लेती है जब पंजाब और हरियाणा के खेतों में पराली जलाने से होने वाला धुआं दिल्ली के आसमान पर परत बन कर छा जाता है।

और लोड करें