kishori-yojna
निर्भया कांड : तिहाड़ जेल प्रशासन नए डेथ वारंट के लिए कोर्ट पहुंचा

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को निर्भया दुष्कर्म व हत्या मामले में चारो दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी करने को लेकर दाखिल याचिका पर उनसे (दोषियों से) जवाब मांगा है। पटियाला हाउस कोर्ट के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेद्र राणा ने तिहाड़ जले अधिकारियों की ओर से दायर याचिका पर दोषियों से जवाब मांगा, जिसमें दोषियों को फांसी देने के लिए तिथि मुकर्रर करने की मांग की गई है। अदालत मामले की सुनवाई शुक्रवार को करेगी। अधिकारियों ने अदालत को यह भी बताया कि मौत की सजा पाए चार दोषियों में से तीन ने अपने कानूनी अधिकारों का प्रयोग कर लिया है। दोषियों में से एक अक्षय की दया याचिका बुधवार को राष्ट्रपति ने खारिज कर दी, जिसके बाद तिहाड़ प्रशासन ने यह कदम उठाया है। अक्षय, मुकेश और विनय अपने कानूनी अधिकारों का प्रयोग कर चुके हैं। चौथे दोषी पवन ने अभी तक क्यूरेटिव और दया याचिका के अधिकार का प्रयोग नहीं किया है, जोकि उनके लिए अंतिम न्यायिक और संवैधानिक अधिकार है।

निर्भया के दोषी मुकेश की याचिका पर आज सुनवाई

नई दिल्ली। निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड के एक दोषी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई होगी। इस मामले में मौत की सजा पाए मुकेश कुमार सिंह ने दया याचिका नामंजूर करने के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के फैसले को चुनौती दी है। इस याचिका पर सर्वोच्च अदालत मंगलवार को सुनवाई करेगा। जस्टिस आर भानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एएस बोपन्ना की पीठ मुकेश कुमार सिंह की इस याचिका पर मंगलवार को दोपहर साढ़े 12 बजे सुनवाई करेगी। निर्भया कांड में मौत की सजा पाने वाले दोषियों में से एक मुकेश कुमार सिंह की दया याचिका राष्ट्रपति ने 17 जनवरी को खारिज की थी। इसके बाद ही अदालत ने चारों मुजरिमों को एक फरवरी को मौत  होने तक फांसी पर लटकाने के लिए जरूरी वारंट जारी किया था। इससे पहले, सोमवार को चीफ जस्टिस एसए बोबड़े, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत की पीठ के सामने मुकेश की याचिका का जिक्र किया गया था। इस पर पीठ ने कहा था- यदि किसी व्यक्ति को फांसी पर लटकाया जाना है तो इससे ज्यादा महत्वपूर्ण मामला कुछ और नहीं हो सकता। पीठ ने कहा था कि यदि किसी व्यक्ति को एक फरवरी को फांसी दी जानी है तो अदालत… Continue reading निर्भया के दोषी मुकेश की याचिका पर आज सुनवाई

निर्भया के एक दोषी की दायर याचिका

नई दिल्ली। निर्भया बलात्कार और हत्याकांड के चार दोषियों में से एक दोषी मुकेश कुमार ने फिर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। ध्यान रहे मुकेश की याचिका पहले ही राष्ट्रपति ने खारिज कर दी है। दया याचिका खारिज होने के बाद इसकी न्यायायिक समीक्षा के लिए मुकेश ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 17 जनवरी को उसकी दया याचिका खारिज कर दी थी। दोषी मुकेश की वकील वृंदा ग्रोवर ने कहा है कि शत्रुघ्न चौहान केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आधार पर उन्होंने अनुच्छेद 32 के तहत अदालत से दया याचिका के मामले में न्यायिक समीक्षा की मांग की है। इससे पहले मुकेश की  सुधारात्मक याचिका सर्वोच्च अदालत में खारिज हो चुकी है। दोषियों को एक फरवरी को सुबह छह बजे फांसी देने का डेथ वारंट जारी हुआ था। इस बीच एक दोषी के वकील ने आरोप लगाया है कि उनके मुवक्किल विनय को धीमा जहर दिया जा रहा है। उसे अस्पताल में भी भरती किया गया, लेकिन मेडिकल रिपोर्ट अब तक नहीं दी गई। उनका कहना है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने कुछ और जरूरी दस्तावेज नहीं दिए इसलिए पवन और अक्षय सुधारात्मक याचिका दायर नहीं कर पा रहे। अब… Continue reading निर्भया के एक दोषी की दायर याचिका

निर्भया मामला : दोषियों की याचिका पर सुनवाई जारी

पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया मामले के दोषियों की याचिका पर शनिवार को सुनवाई चल रही है। याचिका में तिहाड़ जेल प्रशासन पर उनके कागज समय पर प्रस्तुत नहीं करने का आरोप लगाया गया है।

फांसी की नई तारीख तय होगी

नई दिल्ली। निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार और उसकी हत्या करने वाले चार दोषियों की फांसी की सजा टल गई है। अब तिहाड़ जेल प्रशासन ने फांस की नई तारीख तय करने की कवायद शुरू की है। तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार को चिट्ठी लिख कर फांसी की नई तारीख तय करने को कहा है। जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार से दया याचिका के निपटारे तक फांसी की तारीख टालने को कहा है। गौरतलब है कि निर्भया केस के दोषी मुकेश की डेथ वारंट को चुनौती देने वाली याचिका पर गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई हुई। इस मामले में गुरुवार को अदालत ने कहा- दोषी ने दया याचिका लगाई है और 22 जनवरी में सिर्फ पांच दिन बचे हैं। हो सकता है कि राष्ट्रपति आज या कल में, एक-दो दिन में दया याचिका खारिज कर दें। फिर ये लोग 14 दिनों का समय मांगेंगे। फिर नई तारीख मांगेंगे। ऐसे में फांसी कैसे होगी? इस बीच तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार को फांसी टालने के लिए पत्र लिखा है और कहा है कि दया याचिका पर निपटारे तक फांसी टाली जाए। पटियाला हाउस कोर्ट ने भी जेल प्रशासन से इस बारे में रिपोर्ट मांगी है। इस मामले… Continue reading फांसी की नई तारीख तय होगी

निर्भया के दोषियों को फांसी तय!

सोलह दिसंबर 2012 की रात निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार और बाद में उसकी मौत से देश को हिला देने वाले इस वीभत्स कांड के चारों दोषियों को फांसी पर लटकाये जाने के लिए आज पटियाला हाउस अदालत डेथ वारंट जारी कर दिया।

और लोड करें