पायलटों से ज्यादा काम कराने पर गोएयर से मांगा जवाब

नई दिल्ली। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने पायलटों से ज्यादा काम लेने के मामले में किफायती विमान सेवा कंपनी गोएयर और उसके पायलटों को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। डीजीसीए ने पायलटों तथा चालक दल के अन्य सदस्यों के लिए लगातार उड़ान भरने तथा काम करने के घंटे के बारे में नियम तय कर रखे हैं। उनके काम की अधिकतम सीमा और न्यूनतम विश्राम के घंटे निश्चित हैं। गोएयर के एक प्रवक्ता ने नोटिस मिलने की पुष्टि करते हुये कहा कि ‘उड़ान अवधि समय सीमा’ (एफडीटीएल) के बारे में उसे डीजीसीए से नोटिस मिला है। नियमित एफडीटीएल ऑडिट के दौरान यह बात सामने आयी थी कि कई पायलटों ने इस सीमा से संबंधित नियमों का उल्लंघन कर ज्यादा उड़ान भरी है। प्रवक्ता ने बताया कि एयरलाइन डीजीसीए से संपर्क में है और जल्द ही नोटिस का जवाब देगी। उन्होंने आश्वस्त किया कि गोएयर यात्रियों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देती है। डीजीसीए ने एयरलाइन के साथ ही ज्यादा उड़ान भरने वाले पायलटों को भी नोटिस भेजा है।

और लोड करें