पिता-पुत्र की हत्या की जांच सीबीआई करेगी

तमिलनाडु के तूतीकोरिन जिले में पुलिस हिरासत में पिता और पुत्र की कथित तौर पर यातना देकर हत्या किए जाने के मामले की जांच सीबीआई करेगी।

अब कितना पड़ेगा फर्क?

ऐसे न्यायिक फैसले पहले भी आए हैं। लेकिन उनसे ना तो हिरासत में यातना रुकी और ना पुलिस के हाथों मौतें। इसलिए ये उम्मीद रखना कठिन है कि मद्रास हाई कोर्ट के ताजा फैसले से बहुत फर्क पड़ेगा।