बनारस में सत्य की ही जीत हुई

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान विभाग में डाक्टर फिरोज खान की नियुक्ति का मामला सुलट गया है। डाक्टर फिरोज खान को इस्तीफा देना पडा। तथाकथित खुले विचारों वाले स्वयंभू हिन्दू बुद्धिजीवी गलत साबित हुए और बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के हडताली छात्र सही साबित हुए।