pulwama attack

  • सीएम रेवंत रेड्डी ने पुलवामा हमले पर उठाए सवाल

    हैदराबाद। 2019 में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले और उसके बाद भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तानी आतंकियों के खिलाफ के किए गए सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) पर तेलंगाना के मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी (Revanth Reddy) ने सवाल उठाया है। शनिवार को एक कार्यक्रम में रेवंत रेड्डी ने कहा कि केंद्र सरकार ने आज तक पुलवामा हमले का खुलासा नहीं किया। उन्होंने सरकार से पूछा कि इस हमले के पीछे किसका हाथ था, हमले में इस्तेमाल विस्फोटक कहां से आया, इसकी जांच क्यों नहीं की गई। रेवंत रेड्डी (Revanth Reddy) ने सवाल किया की आखिर सरकार की...

  • सत्यपाल मलिक तब पूरा सच क्यों नहीं बोले?

    फरवरी 2019 में सत्यपाल मलिक ने नरेंद्र मोदी और अजित डोवाल की ही तरह राष्ट्रधर्म नहीं निभाया। कम-अधिक का अनुपात भले हो लेकिन तीनों भारतीय जवानों की बेमौत, मौत के लिए जिम्मेवार थे। सत्यपाल मलिक पूर्ण राज्य का दर्जा प्राप्त जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन के तब सर्वेसर्वा थे। कहने को ठीक बात है कि सत्यपाल मलिक के अधीन सीआरपीएफ नही थी। नाजुक सीमांत प्रदेश कश्मीर में सीआरपीएफ, खुफिया रिपोर्टिंग, सैनिक-अर्धसैनिक बलों की आवाजाही का दायित्व दिल्ली में गृह मंत्रालय (राजनाथ सिंह) और सुरक्षा सलाहकार (अजित डोवाल) का था। ऐसे में भला राज्यपाल का क्या मतलब? उस नाते सत्यपाल मलिक...

  • वीपी सिंह बनने का मौका गंवा चुके मलिक

    पांच साल में चार राज्यों- बिहार, जम्मू कश्मीर, गोवा और मेघालय के राज्यपाल रहे सत्यपाल मलिक ने बड़ी हिम्मत का काम किया। वे राज्यपाल रहते लगातार किसानों के हित में और करप्शन के मामले में पर बोलते रहे थे। वे केंद्र सरकार को निशाना बनाते रहे थे। लेकिन अब उन्होंने सबसे बड़ा हमला किया। ‘द वायर’ के वरिष्ठ पत्रकार करण थापर को दिए इंटरव्यू में उन्होंने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले को लेकर कई खुलासे किए और भ्रष्टाचार के मसले पर कहा कि प्रधानमंत्री को करप्शन से नफरत नहीं है। इस इंटरव्यू से पहले एक दूसरे इंटरव्यू...

  • सत्यपाल मलिक का धमाका

    प्रधानमंत्री और भाजपा का आरोपों को नजरअंदाज कर मुद्दों को भटका देने का तरीका संभवतः इस मामले में कारगर नहीं होगा। बेहतर होगा कि वह सत्यपाल मलिक के दावों का बिंदुवार जवाब सार्वजनिक रूप से दे। जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल ने विस्फोटक खुलासे किए हैं। इससे अत्यंत गंभीर प्रश्न उठे हैं। अपेक्षित यह है कि मलिक ने जो कहा है, उन पर सरकार बिंदुवार जवाब दे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी का आरोपों को नजरअंदाज कर मुद्दों को भटका देने का तरीका संभवतः इस मामले में कारगर नहीं होगा। ठीक उसी तरह जैसे अडानी घोटाले में राहुल गांधी...

  • पुलवामा हमले में शामिल पूरे मॉड्यूल का भंडाफोड़

    श्रीनगर। इंस्पेक्टर जनरल कश्मीर ऑप्स एम.एस. भाटिया (M. S. Bhatia) ने मंगलवार को कहा कि 2019 के पुलवामा हमले में शामिल पूरे मॉड्यूल (Module) का भंडाफोड़ कर दिया गया है। 14 फरवरी, 2019 को राष्ट्र की सेवा में अपने प्राणों की आहुति देने वाले बहादुरों के सम्मान में दक्षिण कश्मीर (South Kashmir) के पुलवामा जिले के लेथपोरा (Lethpora) में शहीद स्मारक पर सीआरपीएफ (CRPF) द्वारा पुष्पांजलि समारोह (Wreath Laying Ceremony) आयोजित किया गया। एमएस भाटिया, महानिरीक्षक कश्मीर ऑप्स सेक्टर, ने कहा- राष्ट्र हमेशा उन सैनिकों का ऋणी रहेगा, जिन्होंने देश की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा के लिए बहादुरी से...

  • पुलवामा हमले की बरसी पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी

    श्रीनगर। इंस्पेक्टर जनरल कश्मीर ऑप्स एम.एस. भाटिया (M. S. Bhatia) ने मंगलवार को कहा कि 2019 के पुलवामा हमले में शामिल पूरे मॉड्यूल (Module) का भंडाफोड़ कर दिया गया है। 14 फरवरी, 2019 को राष्ट्र की सेवा में अपने प्राणों की आहुति देने वाले बहादुरों के सम्मान में दक्षिण कश्मीर (South Kashmir) के पुलवामा जिले के लेथपोरा (Lethpora) में शहीद स्मारक पर सीआरपीएफ (CRPF) द्वारा पुष्पांजलि समारोह (Wreath Laying Ceremony) आयोजित किया गया। एमएस भाटिया, महानिरीक्षक कश्मीर ऑप्स सेक्टर, ने कहा- राष्ट्र हमेशा उन सैनिकों का ऋणी रहेगा, जिन्होंने देश की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा के लिए बहादुरी से...

  • और लोड करें