kishori-yojna
राफेल पर फिर होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

फ्रांस से खरीदे गए लड़ाकू विमान राफेल की खरीद के विवाद का मुद्दा एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है।

राफेल में 21 हजार करोड़ का घोटाला!

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी ने लड़ाकू विमान राफेल की खरीद में 21 हजार करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने केंद्र सरकार ने तीन सवाल भी पूछे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधानमंत्री को बिना डरे या घबराए उनके तीन सवालों का जवाब देना चाहिए। उससे पहल शुक्रवार को कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया कि भारत सरकार और विमान बनाने वाली फ्रेंच कंपनी डसाल्ट एविएशन के बीच हुए राफेल सौदे में 21,075 करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार हुआ है। सुरजेवाला के आरोप लगाने के कुछ देर बाद ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा- प्रिय छात्रों, प्रधानमंत्री कहते हैं कि हमें बिना डरे या घबराए हर सवाल का जवाब देना चाहिए। आप उनसे कहिए कि मेरे तीन सवालों का जवाब भी बिना डर और घबराहट के दें। इसके बाद उन्होंने प्रधानंत्री से तीन सवाल पूछे। उन्होंने पूछा कि राफेल डील में भ्रष्टाचार का पैसा किसे मिला? सौदे से भ्रष्टाचार रोधी नियम किसने हटाए और रक्षा मंत्रालय के दस्तावेज बिचौलिए तक कैसे पहुंचे? सुरजेवाला ने भी कई दस्तावेज जारी कर केंद्र से सवाल पूछे। सुरजेवाला ने कहा कि… Continue reading राफेल में 21 हजार करोड़ का घोटाला!

राफेल खरीद में नौ करोड़ के ‘गिफ्ट‘

नई दिल्ली। राफेल सौदे को लेकर पहले भी कई खुलासे कर चुकी फ्रांस की समाचार वेबसाइट मीडिया पार्ट ने एक बार फिर राफेल लड़ाकू विमान सौदे में भ्रष्टाचार की खबर दी है। फ्रांस की भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी एएफए की जांच रिपोर्ट के हवाले से प्रकाशित खबर के मुताबिक, दैसो एविएशन ने कुछ बोगस नजर आने वाले भुगतान किए हैं। कंपनी के 2017 के खातों के ऑडिट में पांच लाख आठ हजार 925 यूरो यानी कोई चार करोड़ 40 लाख रुपए क्लाइंट गिफ्ट के नाम पर खर्च दिखाए गए। मगर इतनी बड़ी धनराशि की कोई ठोस सफाई नहीं दी गई। इसकी रिपोर्ट में कुल 10 लाख यूरो यानी करीब नौ करोड़ रुपए खर्च करने का खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक मॉडल बनाने वाली कंपनी का मार्च 2017 का एक बिल ही उपलब्ध कराया गया। एएफए के पूछने पर दैसो एविएशन ने बताया कि उसने राफेल विमान के 50 मॉडल एक भारतीय कंपनी से बनवाए। इन मॉडल के लिए 20 हजार यूरो यानी 17 लाख रुपए प्रति मॉडल के हिसाब से भुगतान किया गया। हालांकि, यह मॉडल कहां और कैसे इस्तेमाल किए गए, इसका कोई प्रमाण नहीं दिया गया। पांच राज्यों के चुनाव के बीच इस खुलासे का विपक्षी पार्टियां इस्तेमाल… Continue reading राफेल खरीद में नौ करोड़ के ‘गिफ्ट‘

और लोड करें