भाजपा उपाध्यक्षों की बैठक

नई दिल्ली। अगले साल के शुरू में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी मिशन मोड में काम करने लगी है। इस साल हुए पांच राज्यों के चुनाव नतीजों और उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों के नतीजों के बाद भाजपा बेहद सक्रिय हो गई है। पिछले दिनों पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के महासचिवों के साथ बैठक की थी और रविवार को पार्टी के सभी उपाध्यक्षों के साथ उन्होंने मीटिंग की। इसमें कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान दिखी कमियों के कारण केंद्र सरकार और नरेंद्र मोदी की छवि को हुए नुकसान की भरपाई के लिए काम करने की योजना पर चर्चा हुई। बाद में जेपी नड्डा ने सभी उपाध्यक्षों के साथ जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। यह भी बताया जा रहा है कि उपाध्यक्षों की बैठक में उत्तर प्रदेश के चुनाव को लेकर खासतौर से चर्चा की गई। गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्षों में पार्टी के अनेक पूर्व मुख्यमंत्रियों को रखा गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह प्रदेश में चल रही पार्टी की अहम बैठक छोड़ कर इस बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंचे थे। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास और प्रदेश की… Continue reading भाजपा उपाध्यक्षों की बैठक

बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व का सवाल

झारखंड में भारतीय जनता पार्टी ने बड़ी उम्मीदों के साथ अपने पुराने नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की पार्टी में वापसी कराई थी। विधानसभा चुनाव में भाजपा के हारने के बाद मरांडी की पार्टी में वापसी हुई थी और आते ही पार्टी ने उनको विधायक दल का नेता बनाया था। यह अलग बात है कि अपनी पार्टी में टूट-फूट की वजह से उनकी सदस्यता पर सवाल उठा है और अभी तक विधानसभा में उनको नेता विपक्ष का पद नहीं मिल पाया है। लेकिन वह एक अलग कहानी है। असली कहानी यह है कि भाजपा में वापसी के एक साल से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी पार्टी में उनका नेतृत्व मजबूत नहीं हुआ है और न वे पार्टी को मजबूती दिला पाए हैं। पार्टी में उनके कमान संभालने के बाद तीन सीटों पर उपचुनाव हुए और तीनों पर भाजपा हारी। हालांकि पहले भी भाजपा इन सीटों पर हारी ही थी लेकिन मरांडी के आने के बाद माना जा रहा था कि भाजपा की स्थिति मजबूत होगी। पर बाबूलाल मरांडी के असर का इलाका माने जाने वाले दुमका में भी दुमका विधानसभा सीट पर वे भाजपा को जीत नहीं दिला सके। बोकारो की बेरमो सीट पर भाजपा… Continue reading बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व का सवाल

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर को क्यों नहीं मिला राज्यसभा का टिकट?

नई दिल्ली। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को राज्यसभा का टिकट मिलते-मिलते रह गया। सबसे प्रबल दावेदार होने के बावजूद रघुवर दास के राज्यसभा जाने की राह में ऐन वक्त पर क्यों अड़ंगा लगा? पार्टी से जुड़े कुछ नेताओं और सूत्रों से बातचीत की तो इसके पीछे चार प्रमुख वजहें सामने आई हैं। दरअसल, बुधवार को जारी हुई सूची में झारखंड से रघुवर दास का नाम गायब देखकर यह चर्चा चल निकली कि कल तक दूसरों को टिकट दिलाने और काटने वाले रघुवर दास आज अपने ही टिकट के लिए मोहताज हो गए? झारखंड के भाजपा सूत्रों ने बताया कि रघुवर दास के टिकट कटने का पहला कारण है- सूबे में भाजपा की सियासत में फिर से बाबूलाल मरांडी का दौर शुरू होना। बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व के तीन बड़े फैसलों से बाबूलाल मरांडी को पार्टी में फिर वही हैसियत हासिल हो गई है, जो कभी मुख्यमंत्री बनने के दौरान और उससे पहले थी। भाजपा में नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद बाबूलाल मरांडी ने सबसे पहले अपने करीबी दीपक प्रकाश को प्रदेश अध्यक्ष बनवाया और अब फिर उन्हें राज्यसभा का टिकट भी दिलाने में सफल रहे। इस प्रकार भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने राज्य इकाई को संदेश दिया है… Continue reading पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर को क्यों नहीं मिला राज्यसभा का टिकट?

दो पूर्व मुख्यमंत्री राज्यसभा में जाएंगे!

भारतीय जनता पार्टी अपने दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को राज्यसभा में भेज सकती है। जानकार सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को दिल्ली लाया जाएगा और संभव है कि दोनों को केंद्र सरकार में मंत्री बनाया जाए।

सीएए से देश के किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं : रघुवर

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने विपक्षी दलों पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि इस कानून से भारत में रह रहे किसी भी धर्म के लोगो को डरने की जरूरत नही है।

भाजपा केंद्र ने पार्टी का ठेका ही रघुवर को दे दिया था : सरयू राय

झारखंड विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री रहे रघुवर दास को उनके सबसे सुरक्षित क्षेत्र जमशेदपुर (पूर्व) में पटखनी देने वाले राज्य के पूर्व मंत्री सरयू राय ने कहा कि भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व का मुख्यमंत्री दास को पार्टी का ठेका दे देना पार्टी पर भारी पड़ा।

झारखंड में रघुवर की कार्यशैली भाजपा को पड़ी भारी

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास की कार्यशैली से हुए कथित असंतोष और सरकार चलाने में लालू प्रसाद की नकल करने की बात से जाहिर तौर पर झारखंड में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हार हुई।

रघुवर ने झारखंड में पार्टी के प्रदर्शन को निजी हार बताया

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन को अपनी निजी हार बताया और कहा कि जनता को जनादेश स्वीकार है।

रघुवर दास ने सरयू राय पर बनाई बढ़त

झारखंड में 81 विधानसभा क्षेत्रों में जारी मतों की गिनती के दौरान शुरुआती रुझान में मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के रघुवर दास भाजपा से बागी हुए निर्दलीय उम्मीदवार सरयू राय से 342 मतों से आगे चल रहे हैं।

झारखंड: ईमानदार सरकार चुनें युवा: रघुवर

झारखंड के मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने विधानसभा की 17 सीटों के लिए आज हो रहे तीसरे चरण के मतदान में पहली बार वोट कर रहे युवाओं से अपील करते हुए

एक-एक वोट तय करेगा झारखंड का भविष्य: रघुवर

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने दूसरे चरण के विधानसभा चुनाव में लोगों से मतदान करने की अपील करते हुए आज कहा कि उनका एक-एक वोट राज्य का भविष्य तय करेगा।

झारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान आज है। दूसरे चरण में कुल 20 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इसमें मुख्यमंत्री रघुवर दास की जमशेदपुर पूर्वी सीट भी शामिल है, जहां उनके खिलाफ पार्टी के ही बागी नेता सरयू राय के लड़ने से मामला दिलचस्प हो गया है। राज्य की 20 सीटों पर कुल 260 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। सभी मतदान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। झारखंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार चौबे ने कहा, “20 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 48,25,038 वोटर हैं, जिसमें 23,93,437 महिला और 90 थर्ड जेंडर हैं। मतदान के लिए कुल 6,066 बूथ बनाए गए हैं। इसमें 1,016 बूथ शहरी और बाकी केंद्र ग्रामीण इलाके में हैं।” उन्होंने बताया कि 1,662 मतदान केंद्रों से वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि 40,000 जवानों को दूसरे चरण के मतदान की सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। नक्सली इलाके में स्थित मतदान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। पूर्वी जमशेदपुर और पश्चिमी जमशेदपुर में जहां सुबह सात से पांच बजे तक मतदान होगा, वहीं अन्य 18 सीटों की संवेदनशीलता को देखते हुए वहां दिन में तीन बजे तक ही मतदान होगा। दूसरे चरण में 16 अनुसूचित जनजाति… Continue reading झारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज

रघुवर जीतकर तोड़ पाएंगे ‘मुख्यमंत्री की हार’ का मिथक?

झारखंड में अब दूसरे चरण के मतदान को लेकर सभी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इस चुनाव में सबसे ‘हॉट सीट’ जमशेदपुर (पूर्वी) विधानसभा क्षेत्र बनी हुई है

मुख्यधारा में शामिल हों नक्सली : रघुवर

झारखंड के मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने लातेहार के चंदवा में नक्सली हमले में पुलिस जवानों की शहादत पर गहरा दुख व्यक्त कर चेतावनी देते हुए

विधानसभा चुनाव का परिणाम तय करेगा झारखंड का भविष्य : रघुवर

लातेहार/लोहरदगा। झारखंड के मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने आज कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव का परिणाम राज्य का भविष्य और उसके विकास की दिशा तय करेगा। श्री दास ने यहां लातेहार जिले के मनिका एवं लोहरदगा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले पांच साल में झारखंड में जहां विकास की गति तेज हुई वहीं कानून का राज स्थापित हो पाया है। उन्होंने कहा कि लातेहार, पलामू और गढ़वा के कई इलाकों में नक्सलियों का जबरदस्त प्रभाव रहा लेकिन राज्य में उनके नेतृत्व में बहुमत की सरकार बनने के बाद इन इलाकों में विकास की किरण पहुंची। इन इलाकों में सड़कों के जाल बिछाए गए, पुल-पुलियों का निर्माण कराया गया तथा प्रत्येक घर में बिजली और पानी उपलब्ध कराया गया। इसे भी पढ़ें : झारखंड चुनाव: पहले चरण में भाजपा को सीटें बचाना चुनौती भाजपा नेता ने कहा कि केंद्र सरकार ने वर्ष 2024 तक देश के सभी घरों तक पानी पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया है वहीं झारखंड सरकार इस लक्ष्य को वर्ष 2022 तक हासिल करना चाहती है। उन्होंने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार ने राज्य के 33 लाख… Continue reading विधानसभा चुनाव का परिणाम तय करेगा झारखंड का भविष्य : रघुवर

और लोड करें