‘केजरीवाल का गारंटी कार्ड’ जारी करेगी आप

नई दिल्ली। दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) विधानसभा चुनाव से पहले ‘केजरीवाल का गारंटी कार्ड’ जारी करेगी। आप के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने शुक्रवार को मीडिया से कहा, हमने सितंबर में काम करना शुरू किया और सार्वजनिक बैठक की। इसके साथ ही रिपोर्ट कार्ड भी लांच किया। हम अपने अभियान में 35 लाख घरों तक पहुंच स्थापित कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल द्वारा गारंटी कार्ड जारी किया जाएगा। राय ने कहा, मुख्यमंत्री 23 जनवरी से पहले ‘केजरीवाल का गारंटी कार्ड’ लॉन्च करेंगे। यह घोषणा-पत्र से अलग होगा। हालांकि उन्होंने ‘केजरीवाल का गारंटी कार्ड’ के संबंध में जानकारी साझा करने से इनकार कर दिया और कहा कि मुख्यमंत्री ही इसके बारे में बताएंगे। उन्होंने कहा, इस कार्ड के साथ केजरीवाल टाउन हॉल मीटिंग का एक और दौर आयोजित करेंगे।

बिहार में लोजपा ने शुरू की चुनाव की तैयारी

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव होने में यूं तो अभी सालभर समय है, लेकिन राजनीतिक पार्टियों के बीच जुबानी जंग अभी से शुरू हो गई है। सत्ताधारी जनता दल-युनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के बयान के बाद जदयू और सत्ता में साझेदार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में कलह और भी तेज हो गया है। जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भले ही ‘सबकुछ ठीक’ होने का दावा करें, लेकिन राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में सीट शेयरिंग की बात निकल पड़ी है। अब खबर है कि राजग की घटक लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने भी राज्य में चुनावी तैयारी शुरू कर दी है। वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को 42 सीटें मिली थीं। उस समय राजग में लोजपा के साथ भाजपा के अलावा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) शामिल थी। इस बीच बिहार में राजग की तीसरी सहयोगी पार्टी लोजपा ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, लोजपा ने राज्य में उन 119 सीटों की पहचान की है, जहां भाजपा और जदयू दोनों ही कमजोर हैं। पार्टी ने इन्हीं सीटों पर अपनी तैयारी शुरू की है। यह खबर भी पढ़ें:- झारखंड में जदूय और… Continue reading बिहार में लोजपा ने शुरू की चुनाव की तैयारी

सीएए से भाजपा को मिल सकता है दिल्ली चुनाव में फायदा

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव से ठीक पहले नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन होने से चुनाव पर इसका असर पड़ सकता है। जहां कांग्रेस ने सीएए विरोधी रुख अपना रखा है, वहीं केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सीएए का समर्थन कर रही है। वहीं दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने अपना कोई स्पष्ट रुख नहीं रखा है। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री सिर्फ शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। तटस्थ रुख को त्यागते हुए केजरीवाल ने बुधवार को दिल्ली में अस्थिरता के लिए भाजपा पर आरोप लगाया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, “आपको दिल्ली में भड़की हिंसा के पीछे की राजनीति समझने की जरूरत है। जहां एक पार्टी अपने काम के दम पर चुनाव लड़ने जा रही है, तो दंगों से किस पार्टी को लाभ होना है, दिल्ली की जनता बहुत समझदार है। राष्ट्रीय राजधानी के कुछ पॉश इलाकों में दंगा और हिंसक प्रदर्शनों से अराजकता फैल गई है। इस डर से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में होने जा रहे चुनाव में भाजपा को उसके राम बाण ‘कट्टर राष्ट्रवाद’ के साथ लाभ मिल सकता है। जहां पारंपरिक आप मतदाता दिल्ली सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से खुश हो सकती है, वहीं आप रविवार को… Continue reading सीएए से भाजपा को मिल सकता है दिल्ली चुनाव में फायदा

एक-दूसरे के आगे पीछे मोदी और ओवैसी!

ऑल इंडिया एमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी हेलीकॉप्टर लेकर झारखंड में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यू भी झारखंड में लड़ रही है और दूसरी कई क्षेत्रीय पार्टियां, जो राज्य या केंद्र की सरकार में रही हैं वे भी चुनाव में है। पर किसी का प्रचार वैसा सघन नहीं है, जैसा ओवैसी का है।

और लोड करें