राजस्थान में तुरंत कराएं शक्ति-परीक्षण

ऐसा लग रहा है कि राजस्थान की राजनीति पटरी पर शीघ्र ही आ जाएगी। राज्यपाल कलराज मिश्र का यह बयान स्वागत योग्य है कि वे विधानसभा का सत्र बुलाने के विरुद्ध नहीं हैं लेकिन उन्होंने जो तीन शर्तें रखी हैं, वे तर्कसम्मत हैं और उन तीनों का संतोषजनक उत्तर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत दे ही रहे हैं।

राजस्थान की रणनीति मानक हो सकती है

कोई एक रणनीति कभी भी राजनीति में हर जगह नहीं लागू की जा सकती है। राज्यों के हिसाब से, समय के हिसाब से, प्रतिद्वंद्वी के हिसाब से और अपनी ताकत के हिसाब से रणनीति बदलती रहती है।

बसपा मामले में भाजपा ने फिर दी याचिका

विधायक बहुजन समाज पार्टी के थे और वे शामिल हुए हैं कांग्रेस में परंतु इस पर आपत्ति भाजपा को है।

गहलोत ने प्रधानमंत्री से की बात

राजस्थान विधानसभा का सत्र बुलाने को लेकर राज्यपाल के साथ चल रहे टकराव के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की।

साजिश सफल नहीं होने देंगे:गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य सरकार को अस्थिर करने के प्रयासों को भाजपा की साजिश बताते हुए कहा कि वे इसे सफल नहीं होने देंगे।

और लोड करें