kishori-yojna
शारदीय नवरात्रः दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी की पूजा का विधान, ऐसे करें मां को प्रसन्न

आज मंगलवार को नवरात्र के दूसरे दिन मां दुर्गा के दूसरे स्वरूप मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। माता ब्रह्मचारिणी तप, संयम और त्याग का प्रतीक हैं। मां ब्रह्मचारिणी को ब्राह्मी भी कहा जाता है।

Shardiya Navratri 2022 : शारदीय नवरात्र आज से शुरू, कलश स्थापना कर ऐसे करें पहले दिन मां शैलपुत्री की आराधना

नौ दिनों तक पूजी जाने वाली मां दुर्गा का पहला स्वरूप में ‘शैलपुत्री’ हैं। पर्वतराज हिमालय की पुत्री होने के कारण माता पार्वती को शैलपुत्री भी कहा जाता है।

और लोड करें