रेलवे ने कहा, लंबी दूरी की घोषित नियमित एवं स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी, शुरू हुई 2 स्पेशल ट्रेनें

New Delhi: भारतीय रेलवे (Indian Railways)  यात्रियों की सुविधा के लिए लगातार ट्रेनों की संख्या में बढ़ोतरी कर रहा है. बड़े शहरों से अपने गृहनगरों में जाने के लिए प्रवासी श्रमिकों की भीड़ को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने अपनी ट्रेन सेवाओं को लगातार बढ़ाया है. ताकि यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा… Continue reading रेलवे ने कहा, लंबी दूरी की घोषित नियमित एवं स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी, शुरू हुई 2 स्पेशल ट्रेनें

विशेष ट्रेन चलना ही अब खुशखबरी

कोरोना वायरस की आपदा को असली अवसर भारतीय रेलवे ने बनाया है। कोरोना के केसेज फिर बढ़ रहे हैं और उसी बहाने रेलवे का सामान्य परिचालन भी बंद रहेगा।

विशेष ट्रेनों के यात्रियों की जेब पर डाका

कोरोना वायरस की महामारी के बीच सरकार गरीबों के पांच किलो अनाज तो दे रही है पर लोगों की जेब पर डाका डालने का भी कोई मौका नहीं छोड़ रही है। उलटे अपनी इस लूट को तोहफे का नाम दे रही है। दशहर से पहले भारतीय रेलवे ने बड़ी संख्या में विशेष ट्रेनें चलाने का ऐलान किया तो सभी मीडिया समूहों ने घर दिखाई की त्योहारों से पहले लोगों को सरकार का तोहफा।

त्योहारों के लिए कर्नाटक से चलेंगी 22 विशेष ट्रेनें

दक्षिण पश्चिम रेलवे (एसडब्ल्यूआर) जोन ने 23 से 27 अक्टूबर तक दशहरा, दिवाली और छठ पूजा के लिए कर्नाटक से 22 विशेष ट्रेनों का संचालन करने का निर्णय लिया है।

आज से दौ सौ ट्रेनें और चलेंगी

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन के दौरान ठहर गए ट्रेन के पहिए एक बार फिर दौड़ने लगेंगे। देश भर में कोरोना का संक्रमण बढ़ने के बीच एक जून से दो सौ और ट्रेनें चलने लगेंगी।

मुसीबत का अंत नहीं

प्रवासी मजदूर लाखों की संख्या में अपने गांव लौट चुके हैं। इससे अपने घर पहुंच जाने का मनौवैज्ञानिक संतोष उन्हें जरूर मिला हो, मगर वहां उन्हें कई तरह की गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

अगले दस दिन में 26 सौ ट्रेनें चलेंगी

रेल मंत्रालय ने बताया है कि मजदूरों को उनके गृह राज्य पहुंचाने के लिए अगले दस दिन में 26 सौ ट्रेनें चलाएगी। भारतीय रेलवे ने श्रमिक स्पेशल और दूसरी स्पेशल ट्रेनों के बारे में शनिवार को स्थिति स्पष्ट की।

कोर्ट ने मजदूरों का मामला सरकार पर छोड़ा

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन के बीच देश के अलग अलग हिस्सों से निकल प्रवासी मजदूरों के पैदल ही अपने घर लौटने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कोई आदेश नहीं दिया।

मजदूरों पर कुछ कृपा करें

औरंगाबाद में रेल से कटे मजदूरों और विशाखापट्टनम के कारखाने की जहरीली गैस से हताहत हुए लोगों की कहानी ने देश का दिल दहला दिया है लेकिन उन हजारों मजदूरों का तो कुछ अता-पता ही नहीं है, जो सैकड़ों मील दूर स्थित अपने गांवों तक चलते-चलते रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं।

कोरोना विमर्श के केंद्र में मजदूर

यह मामूली बात नहीं है कि मजदूर इस समय सार्वजनिक और लोकप्रिय विमर्श के केंद्र में हैं। चाहे जिस वजह से हैं, पर देश में उनकी चर्चा हो रही है। उनके हालात पर तबसरा हो रहा है। अलग अलग कारणों से अलग अलग समूह उनको लेकर चिंता में हैं।

ट्रेनों से 80 हजार मजदूर घर पहुंचे

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से देश के अलग अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों को निकालने के लिए चलाई गई श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से अब तक 80 हजार मजदूरों को निकाला जा चुका है।

सूरत से 1200 मजदूर लेकर कल बांदा आएगी स्पेशल ट्रेन

गुजरात के सूरत महानगर में फंसे 1,200 श्रमिकों को लेकर एक स्पेशल ट्रेन कल शाम बांदा आएगी। इस संबंध में सूरत के कलेक्टर ने बांदा प्रशासन को सूचना भेज दी है।

विशेष ट्रेन के किराए का रहस्य

मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए चलाई गई विशेष ट्रेनों के किराए का क्या रहस्य है? यह बड़ी गुत्थी बन गई है कि आखिर किराया किसने वसूला, किसको मिला, केंद्र सरकार ने कैसी सब्सिडी दी, उस सब्सिडी का क्या हिसाब है, राज्य सरकारें क्या कर रही हैं? इन सवालों के जवाब नहीं… Continue reading विशेष ट्रेन के किराए का रहस्य

मजदूरों से हमदर्दी क्यों नहीं?

केंद्र सरकार ने जब प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने की इजाजत दी और लंबे समय तक भ्रम के बाद आखिरकार ट्रेन से उन्हें ले जाने का एलान किया, तो लाखों लोगों ने राहत की सांस ली।

मजदूरों की यात्रा पर राजनीति

भारत सरकार ने यह फैसला देर से किया लेकिन अच्छा किया कि प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के लिए रेलें चला दीं। यदि बसों की तरह रेलें भी गैर-सरकारी लोगों के हाथ में होतीं या राज्य सरकारों के हाथ में होतीं वे उन्हें कब की चला देते।

मजदूरों से ट्रेन किराया वसूलने पर विपक्ष नाराज

देश के अलग अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों और दूसरे लोगों के लिए चलाई गई विशेष ट्रेन से यात्रा करने वालों से किराया वसूले जाने को लेकर विपक्षी पार्टियों ने नाराजगी जताई है।

विशेष ट्रेन से लखनऊ पहुंचे 800 से अधिक प्रवासी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर महाराष्ट्र के नासिक से 800 से अधिक प्रवासियों को लेकर आई श्रमिक स्पेशल ट्रेन आज सुबह यहां पहुंची।

मजदूरों के लिए चली विशेष ट्रेन

कोरोनावायरस महामारी से रोकथाम के चलते देशव्यापी लॉकडाउन के बीच तेलंगाना से झारखंड के लिए एक विशेष ट्रेन में 1200 प्रवासियों को रवाना किया गया।

उज्जैन और वाराणसी के बीच विशेष रेलगाड़ी चलेगी : गोयल

मध्य प्रदेश के उज्जैन को उत्तर प्रदेश के वाराणसी से जोड़ने के लिए एक विशेष रेलगाड़ी चलाई जाएगी। यह घोषणा यहां रविवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने की है। उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन करने के बाद गोयल ने

माघ मेला के लिए स्पेशल ट्रेन चलाएगा रेलवे

प्रयागराज में गंगा, यमुना एवं सरस्वती के पावन संगम तट पर लगने वाले माघ मेला के मद्देनजर पूर्वोत्तर रेलवे प्रमुख स्नान की तिथियों पर विशेष रेल गाड़ियों का संचलन करेगा।