पहले डाकूओं का समर्पण अब नेता बनते है!

महात्मा गांधी की गांधीवादी विरासत की आचार-विचार में पालना और भूदान कराने वाले विनोबा भावे ने एक वक्त डाकुओं के आत्मसमर्पण की कोशिश की थी। पुलिस चंबल क्षेत्र में डाकूओं से निपटने में तब नाकाम रहती थी।

कोरोना के सामने सरेंडर सरकार: राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ने को लेकर शनिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस महामारी के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है और इससे लड़ नहीं रहे हैं।

राहुल ने सरेंडर को सुरेंदर क्यों लिखा?

कांग्रेस नेता राहुल गांधी सोशल मीडिया में इस बात के लिए ट्रोल हो रहे हैं कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए उनको ‘सरेंडर मोदी’ लिखा लेकिन स्पेलिंग में गलती हो गई और उन्होंने ‘सुरेंदर मोदी’ लिख दिया।

तेलतुम्बडे और नवलखा हिरासत में

मुंबई/नई दिल्ली। भीमा कोरेगांव हिंसा और शहरी नक्सलियों से जुड़े कथित मामलों में आखिरकार दो बौद्धिकों आनंद तेलतुम्बडे और गौतम नवलखा को गिरफ्तार कर लिया गया। अदालत से मिली राहत सुप्रीम कोर्ट द्वारा खत्म किए जाने के बाद तेलतुम्बडे को मुंबई में और नवलखा को दिल्ली में गिरफ्तार किया गया। दोनों को राष्ट्रीय जांच एजेंसी, एनआईए की हिरासत में भेज दिया गया है। मुंबई की एक विशेष अदालत ने एलगार परिषद-माओवादी संबंध मामले में नागरिक अधिकार कार्यकर्ता व बुद्धिजीवी आनंद तेलतुम्बडे को 18 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत में भेज दिया। इससे पहले तेलतुम्बडे ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार एनआईए के दक्षिण मुंबई के कम्बाला हिल स्थित कार्यालय में आत्मसमर्पण किया था और इसके बाद एजेंसी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। मामले में एक सह आरोपी नागरिक अधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा ने भी दिल्ली में एनआईए के सामने आत्मसमर्पण किया। उनकी अग्रिम जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी थी। माओवादियों से संबंध के आरोप में तेलतुम्बडे, नवलखा और नौ अन्य नागरिक अधिकार कार्यकर्ताओं के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानूनस यूएपीए के तहत मामले दर्ज किए गए हैं।

शाहरुख और ताहिर ने मिली-भगत से किया सरेंडर

उत्तर पूर्वी दिल्ली में 24-25 फरवरी 2020 को भड़की हिंसा के मुख्य आरोपी माने जाने वाले दोनों मोस्ट वांटेड ने पुलिस की मिली-भगत से ही सही ‘सरेंडर’ कर दिया है?

आरोपी ताहिर हुसैन आत्मसमर्पण करते ही गिरफ्तार

नई दिल्ली। दिल्ली हिंसा के दौरान खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या के कथित आरोपी और आम आदमी पार्टी (आप) के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया है। कुछ देर पहले ही हुसैन ने राउज ऐवन्यू कोर्ट में आत्मसमर्पण किया था। हुसैन ने गुरुवार की दोपहर अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट विशाल पाहुजा के समक्ष आत्मसमर्पण करने के लिए एक आवेदन दिया था। सुनवाई चल ही रही थी, तभी क्राइम ब्रांच के अधिकारी मौके पर पहुंचे। दिल्ली हिंसा के दौरान हत्या के एक मामले में निलंबित आम आदमी पार्टी के पार्षद हुसैन फरार चल रहे थे। उन पर हिंसा के दौरान हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था। एक उच्च पदस्थ पुलिस सूत्र ने बुधवार को बताया कि नया मामला खजूरी खास पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है। दिल्ली हिंसा के दौरान गोली से घायल हुए शिकायतकर्ता ने प्राथमिकी में कहा है कि हुसैन उन उपद्रवियों में शामिल था, जिन्होंने उस पर गोलियां चलाई थीं। हालांकि कई बार इस संबंध में पूर्वोत्तर जिले के डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या और संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन सभी प्रयास बेकार गए। साथ ही… Continue reading आरोपी ताहिर हुसैन आत्मसमर्पण करते ही गिरफ्तार

ताहिर हुसैन कोर्ट में करेंगे सरेंडर

दिल्ली हिंसा के दौरान खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या के कथित आरोपी और आम आदमी पार्टी(असव) के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन राउज ऐवन्यू कोर्ट में सरेंडर करने वाले हैं।

अफगानिस्तान में 19 आतंकवादियों ने किया आत्मसमर्पण

अफगानिस्तान में पश्चिम हेरात प्रांत में 19 तालिबानी आतंकवादियों ने सेना के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है। सेना ने यह जानकारी दी है।

असम में एनडीएफबी के 1500 सदस्यों ने किया समर्पण

असम में अलगाववादी नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफबी) के चारों धड़ों के लगभग 1,500 सदस्यों ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के सामने यहां अपने हथियार डाल दिए।

केंद्र उल्फा से बातचीत को तैयार

गुवाहाटी। केंद्र सरकार उग्रवादी संगठन उल्फा से बातचीत करने को तैयार है। नए बोडो समझौते के एक दिन बाद असम सरकार में मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने उग्रवादी संगठन उल्फा एक एक गुट के नेता परेश बरुआ को बातचीत के लिए न्योता दिया। असम और नॉर्थ ईस्ट में लंबे समय से हिंसक गतिविधियों में शामिल उल्फा-आई ने गणतंत्र दिवस के पर डिब्रूगढ़ में तीन जगहों पर धमाके किए थे। हालांकि, इनमें कोई मारा नहीं गया। सरमा ने कहा कि केंद्र सरकार भी यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम इंडिपेडेंट यानी उल्फा-आई के साथ शांति वार्ता के लिए तैयार है। गौरतलब है कि इसके एक दिन पहले ही केंद्र सरकार, असम सरकार और बोडो संगठन के प्रतिनिधियों ने सोमवार को असम समझौते पर दस्तखत किए। इसके तहत अब असम से अलग बोडोलैंड बनाने की मांग खत्म होगी। बोडो उग्रवादियों के सरकार से समझौते के बाद उल्फा-आई संगठन के प्रमुख परेश बरुआ ने कहा था कि इससे आने वाले समय में असम में शांति स्थापित होगी। खासकर बोडोलैंड के क्षेत्र में। बरुआ ने एक चैनल से बातचीत में समझौते का स्वागत करते हुए कहा था कि राज्य में इसे लेकर कोई अलग विचार नहीं है। बोडो लोग अपने अधिकारों को लेकर दशकों से लड़… Continue reading केंद्र उल्फा से बातचीत को तैयार

असम में 200 हथियारों के साथ 644 उग्रवादियों ने किया आत्मसमर्पण

असम में यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) तथा नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोरोलैंड (एनडीएफबी) समेत आठ उग्रवादी संगठनों से जुड़े 644

अफगानिस्तान में 69 आतंकवादियों ने किया आत्मसमर्पण

अफगानिस्तान के पश्चिमी घोर प्रांत में सेना के भारी दबाव में कारण 69 आतंकवादियों ने सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। प्रांतीय गवर्नर ने

असम में 240 से अधिक आतंकवादियों ने समर्पण किया

सिलचर (असम)। पूर्वोत्तर राज्यों में आतंकवाद को समाप्त करने की कोशिशों में लगे सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। अधिकारियों का कहना है कि दक्षिणी असम के लगभग 242 आदिवासी गुरिल्लाओं ने अपने हथियार डाल दिए हैं और वे मुख्यधारा में लौट आए हैं। मीडिया को इसका खुलासा करते हुए असम राइफल्स और असम पुलिस के अधिकारियों ने करीमगंज में कहा कि विभिन्न स्थानीय संगठनों के 242 स्थानीय आदिवासी आतंकवादियों ने आठ दिसंबर से विभिन्न चरणों में दक्षिणी असम के करीमगंज और हैलाकांडी जिलों में असम राइफल्स और असम पुलिस के सामने समर्पण कर दिया है। विभिन्न रियांग आदिवासी (एक आदिम जनजाति) संगठनों ने 150 विभिन्न प्रकार के हथियार और भारी मात्रा में गोला-बारूद के साथ समर्पण किया है। इनमें चार एके-47 सीरीज की राइफलें, एक चीनी राइफल, तीन एम-20 पिस्तौल और 110 अन्य हथियार शामिल हैं। असम पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “पुलिस और जिला अधिकारियों ने पिछले तीन वर्षों के दौरान कई बार इन आतंकवादियों के साथ बातचीत की है। अब विद्रोहियों ने अपने हथियार जमा किए और वे मुख्यधारा में लौट आए हैं। इसके साथ ही उनके द्वारा की जाने वाली हिंसक और आपराधिक गतिविधियां भी रुक गई है। अधिकारी ने कहा कि आतंकवादी पिछले… Continue reading असम में 240 से अधिक आतंकवादियों ने समर्पण किया

असम में 240 से अधिक आतंकवादियों ने समर्पण किया

पूर्वोत्तर राज्यों में आतंकवाद को समाप्त करने की कोशिशों में लगे सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। अधिकारियों का कहना है कि दक्षिणी असम के लगभग 242 आदिवासी गुरिल्लाओं ने अपने हथियार डाल दिए हैं

दंतेवाड़ा में अठाइस नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में आज दो दर्जन से अधिक नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

और लोड करें