इमरान की है यही सोच

पाकिस्तान में एक संसदीय भाषण में प्रधानमंत्री इमरान खान पूर्व अल कायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को शहीद कह गए। उनके समर्थकों ने इसे जुबान का फिसलना कहा। लेकिन मनोवैज्ञानिक बताते हैं कि जुबान इस तरह नहीं फिसलती।