कोरोना की दोनों वैक्सीन ले चुके लोगों के लिए 15 अगस्त से खुली मुंबई लोकल ट्रेनें

मुंबई की लोकल ट्रेन नेटवर्क 15 अगस्त से पूरी तरह कोरोना की दोनों डोज लिये हुए लोगों के लिए खुल जाएगा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को घोषणा की। साथ ही कोरोना की पाबंदियों में में और छूट दी। लेकिन लोगों से कहा कि आप सावधानी बरतिए।

दूसरी लहर जैसी डरावनी नहीं होगी कोरोनो की तीसरी लहर, जानिए कैसा होगा स्वरूप

Coronavirus Third Wave : कोरोना का कहर पूरी दुनिया झेल रही है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर में बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। अब कहा जा रहा है कोरोना की तीसरी लहर भी आ सकती है। लेकिन बताया यह भी जा रहा है तीसरी लहर ज्यादा प्रभावी नहीं होगी। अक्टूबर नवम्बर में इसके आने की ज्यादा संभावनाएं है। जानिए कितनी प्रभावी होगी तीसरी लहर Coronavirus Third Wave : आईआईटी के शोधकर्ताओं का मानना है कि कोरोना की तीसरी लहर दूसरी लहर के जैसी डरावनी नहीं हो सकती। अगर कोरोना के नए वेरिएन्ट का हमला नहीं होता है, तो तीसरी लहर हलकी हो सकती है। गौरतलब है कि वैज्ञानिकों ने कोरोना की दूसरी लहर के चरम का करीब सटीक अनुमान लगाया था। उनका ये मैथेमेटिकल मॉडल इस महीने संक्रमण के मामलों की बढ़ोतरी को दर्शाता है। अनुमान है कि अक्तूबर में बदतर स्थिति में रोजाना एक लाख से ज्यादा मामले चरम पर पहुंच सकते हैं। राष्ट्रीय ‘सुपर मॉडल’ सूत्र में शामिल आईआईटी कानपुर के मनिंदर अग्रवाल ने बताया, “अगस्त के अंत और पूरे सितंबर में मामूली बढ़ोतरी होगी क्योंकि लॉकडाउन उठा लिया गया है। ये किसी नए वेरिएन्ट की वजह से नहीं होगा। किसी नए वेरिएन्ट के बिना तीसरी लहर… Continue reading दूसरी लहर जैसी डरावनी नहीं होगी कोरोनो की तीसरी लहर, जानिए कैसा होगा स्वरूप

सावधान..तीसरी लहर की सुनने लगी है आहट, अक्टूबर में ढ़ा सकती है कहर- रिपोर्ट

अगस्त महीने से कोरोना की तीसरी लहर शुरू होगी। कहा जा रहा है कि तीसरी लहर के दौरान रोजाना एक लाख मामले सामने आ सकते हैं। हालत ज्यादा खराब होने पर यह आंकड़ा डेढ़ लाख प्रतिदिन तक पहुंच सकती है।

School Reopen : उत्तराखंड में आज से विद्या के मंदिरों में लौटेगी रौनक, 16 अगस्त से छठीं से आठवीं के स्कूल भी खुलेंगे..

आज से  नौवीं से 12वीं कक्षा तक के स्कूल खुल रहे है। औ 16 अगस्त से कक्षा छठीं से आठवीं तक के स्कूल खुलेंगे। इस बात की जानकारी उत्तराखंड के अधिकारियों ने शनिवार 31 जुलाई को दी।

दुनिया में कोरोना का कहर, अमेरिका में 90 हजार नए केस

कोरोना वायरस की नई लहर दुनिया में कहर बरपाने लगी है। गुरुवार को पूरी दुनिया में साढ़े छह लाख से ज्यादा मामले आए। इससे पहले के हफ्ते में नए केसेज की संख्या साढ़े चार लाख तक पहुंच गई थी।

डेल्टा चेचक की तरह फैल सकता, टीका लगाए लोगों में भी

कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट को लेकर अमेरिका में एक अध्ययन हुआ है, जिसकी रिपोर्ट बेहद चिंता में डालने वाली है। इस अध्ययन की अंतिम रिपोर्ट अभी प्रकाशित नहीं हुई है

स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी चेतावनी – तीसरी लहर की दस्तक, 22 जिलों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोत्तरी

Coronavirus Third Wave : कोरोना लगातार परेशानी का सबब बना हुआ है। दूसरी लहर पहले ही बहुत त्रासती मचा चुकी है और अब तीसरी लहर के संकेत सामने आ रहे है। केन्द्र और राज्य सरकारों की चिंताएं एक बार फिर से बढ़ गई है 22 जिलों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोत्तरी देख्नने को मिली है। स्वास्थ्य मंत्रालय संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने इस पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा- कि कोरोना के नए मामलों में हफ्ते दर हफ्ते लगातार गिरावट देखने को मिल रहा है। लेकिन अगर हम मामलों में गिरावट की दर की तुलना पहले से अब तक करें तो इसकी कमी चिंता का विषय बनी हुई है। Corona Third Wave : स्वास्थ्य मंत्रालय संयुक्त सचिव ने कहा कि देश में 54 जिलों में 10 फीसदी से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस हैं। पूरी दुनिया में भी कोविड केस में एक बार फिर से वृद्धि देखने को मिल रही है जो कि चिंता का सबब है। उन्होंने कहा कि हम कोरोना से लड़ाई में कमजोर नहीं पड़ सकते हैं. इसलिए हम उन इलाकों पर नजर बनाए हुए है जहां पर केस बढ़ रहे हैं ताकि उन इलाकों में सख्ती बरती जा सके। इसे भी पढ़े- ग्रामीणों… Continue reading स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी चेतावनी – तीसरी लहर की दस्तक, 22 जिलों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोत्तरी

शिक्षण संस्थाएं खोले, सही समय!

उन बच्चों के बारे में सोचें, जिन्होंने बोर्ड की परीक्षा से पहले अपने के बेहतर करने के लिए जी-तोड़ मेहनत की होगी! यह पूरी प्रक्रिया असल में मूढ़ता को प्रोत्साहित करने वाली है। सबको औसत विद्यार्थी बना देने वाली!

पीएम मोदी ने महाराष्ट्र और केरल के बढ़ते मामलों पर जताई चिंता, कहा- स्थितियां नहीं सुधरी तो ….

नई दिल्ली | PM Modi On third Wave : देश में एक बार फिर कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पीएम मोदी ने चिंता जताई है. महाराष्ट्र और केरल जैसे राज्यों में बढ़ते संक्रमण पर पीएम मोदी ने आगाह करते हुए कहा कि ऐसा ही ‘‘ट्रेंड’’ दूसरी लहर की शुरुआत में इस साल जनवरी और फरवरी के महीने में देखा गया था. 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना का ताजा स्थिति पर संवाद के बाद अपने सबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्थितियां नहीं सुधरी तो ‘मुश्किल’ हो सकती है. उन्होंने तीसरी लहर की आशंका को रोकने के लिए राज्यों को सक्रियता से कदम उठाने होंगे. विशेषज्ञों का हवाला देते हुए मोदी ने कहा, ‘‘लंबे समय तक लगातार मामले बढ़ने से कोरोना के वायरस में ‘म्यूटेशन’ की आशंका बढ़ जाती है और स्वरूप बदलने का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए, तीसरी लहर को रोकने के लिए कोरोना के खिलाफ प्रभावी कदम उठाया जाना आवश्यक है. हम इस समय एक ऐसे मोड़ पर खड़े हैं जहां तीसरी लहर की आशंका लगातार जताई जा रही है। कुछ राज्यों में मामलों की बढ़ती हुई संख्या अभी भी चिंताजनक बनी हुई है: तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्ट्र, केरल के मुख्यमंत्रियों से #COVID19… Continue reading पीएम मोदी ने महाराष्ट्र और केरल के बढ़ते मामलों पर जताई चिंता, कहा- स्थितियां नहीं सुधरी तो ….

कावड़-यात्रा और महामारी

kanwar yatra covid 19 : आजकल हमारी न्यायपालिका को कार्यपालिका का काम करना पड़ रहा है। सरकार के कई महत्वपूर्ण फैसलों का अंतिम फैसला अदालतें कर रही हैं। ऐसा ही एक बड़ा मामला कावड़-यात्रा का है। इस यात्रा में 3-4 करोड़ लोग भाग लेते हैं। कई प्रदेशों के लोग कंधे पर कावड़ रखकर लाते हैं और हरिद्वार से गंगाजल भरकर अपने-अपने घर ले जाते हैं। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने इस कावड़-यात्रा की अनुमति दे रखी है जबकि कुछ ही हफ्तों पहले कुंभ-मेले के वजह से लाखों लोगों को कोरोना का शिकार होना पड़ा था, ऐसा माना जाता है। उ.प्र. सरकार जनता की भावना का सम्मान करके यात्रा की इजाजत दे रही है, यह तो ठीक है लेकिन ऐसा सम्मान किस काम का है, जो लाखों-करोड़ों लोगों को मौत के मुहाने पर पहुंचा दे ? एक तरफ प्रधानमंत्री पूर्वी सीमांत के प्रदेशों में बढ़ती महामारी पर चिंता प्रकट कर रहे हैं और दूसरी तरफ उन्हीं की पार्टी के मुख्यमंत्री यह खतरा मोल ले रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी कह रहे हैं कि महामारी के तीसरे आक्रमण की पूरी संभावनाएं हैं। इसके बावजूद इतने बड़े पैमाने पर मेला जुटाने की क्या जरुरत है ? गंगाजल आखिर किसलिए लोग अपने… Continue reading कावड़-यात्रा और महामारी

Corona update: डेल्टा पहुंचा 111 देशों में,  संक्रामक क्षमता अन्य वैरिएंट्स की तुलना में ज्यादा

Corona update Delta Variant : जिनेवा। कोरोना वायरस की दूसरी लहर में भारत में तबाही मचाने वाला डेल्टा वैरिएंट दुनिया के 111 देशों में फैल गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन, डब्लुएचओ ने इसे लेकर दुनिया के देशों को आगाह किया है। डब्लुएचओ ने कोरोना संक्रमण के बारे में साप्ताहिक अपडेट में कहा है कि आने वाले दिनों में यह दुनिया में सबसे ज्यादा फैलने वाला वैरिएंट हो सकता है। इसका कारण यह है कि यह बाकी वैरिएंट्स के मुकाबले ज्यादा तेजी से फैलता है। डब्लुएचओ ने कहा है कि इस वैरिएंट के तेजी से फैलने से दुनिया के देशों के स्वास्थ्य ढांचे पर दबाव बढ़ेगा। डब्लुएचओ ने मंगलवार को जारी कोविड-19 के अपने साप्ताहिक अपडेट में कहा कि डेल्टा वैरिएंट ( Corona update Delta Variant ) के कारण कोविड-19 के मामले बढ़ने की जानकारी डब्लुएचओ के तहत आने वाले सभी क्षेत्रों से सामने आई है। मंगलवार 13 जुलाई तक, कम से कम 111 देशों, क्षेत्रों व इलाकों ने डेल्टा स्वरूप के मिलने की पुष्टि की है और इसके बढ़ने की आशंका है, जो आने वाले महीनों में वैश्विक स्तर पर हावी स्वरूप बन जाएगा। Read also:  Olympic 2021 : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष का बड़ा फैसला, कोरोना से बचाव… Continue reading Corona update: डेल्टा पहुंचा 111 देशों में, संक्रामक क्षमता अन्य वैरिएंट्स की तुलना में ज्यादा

योगी सरकार ने कावड़ियो को दिखाई हरी झंडी लेकिन सीएम धामी ने रद्द की कावड़ यात्रा, ऐसे में यूपी के कावड़िये उत्तराखंड में कैसे करेंगे प्रवेश

देहरादून |  उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने मंगलवार को कावड़ यात्रा पर एक महत्वपूर्ण बैठक की। और इस बैठक में कावड़ यात्रा को रद्द करने का फैसला लिया गया। लगातार दूसरी साल कावड़ यात्रा को रद्द किया गया है। हाल ही में इस बाबत इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने उत्तराखंड सीएम पुष्कर सिंह धामी को एक पत्र लिखा जिसमें कावड़ यात्रा रोकने की अपील की। वैज्ञानिकों ने कोरोना की तीसरी लहर आने का अंदेशा अक्टूबर-नवंबर तक दिया है। कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए योगी सरकार ने कावड़ यात्रा को हरी झंडी दिखाई है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने कहा है कि  कोरोना गाइडलाइन के साथ सभी कावड़ियों की सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम करेगी। योगी सरकार के इस फैसले ने  उत्‍तराखंड पुलिस की चिंता बढ़ा दी है। ( kawad yatra 2021 canceled ) उत्‍तराखंड पुलिस का कहना है कि राज्य के बॉर्डर्स में किसी भी कांवड़िए को जबरदस्ती नहीं घुसने दिया जाएगा। इसके लिए भारी सुरक्षा फोर्स को डिप्लॉय किया जाएगा। साथ ही अगर किसी राज्य को गंगाजल चाहिए तो उसको टैंकरों में भेजा जाएगा। उत्तराखंड में कुंभ को हामी भरने के बाद से कोरोना का विस्फोट हुआ था। कुंभ के कारण कोरोना की दूसरी लहर भी आई… Continue reading योगी सरकार ने कावड़ियो को दिखाई हरी झंडी लेकिन सीएम धामी ने रद्द की कावड़ यात्रा, ऐसे में यूपी के कावड़िये उत्तराखंड में कैसे करेंगे प्रवेश

Corona Update: नौ राज्यों में संकट कायम, केरल में 14 हजार से ज्यादा केसेज

Corona Update 14 thousand | नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण की दर स्थिर हो गई है और हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या भी स्थिर हो गई है। हफ्ते में एक दिन सोमवार को छोड़ कर हर दिन लगभग 40 हजार नए केस मिल रहे हैं। देश में एक्टिव केसेज की संख्या कम होने की दर भी घट गई है। इस समय सवा चार लाख के करीब एक्टिव केस हैं और रिकवरी रेट 97 फीसदी से ऊपर है। लेकिन देश के नौ राज्य ऐसे हैं, जहां कोरोना संक्रमण काबू में नहीं आ रहा है। सबसे ज्यादा चिंता केरल को लेकर है, जहां हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या बहुत ज्यादा है। मंगलवार को केरल में 14 हजार से ज्यादा नए केसेज मिले, जबकि एक दिन पहले सोमवार को सात हजार के करीब नए केस मिले थे। also read: केन्द्र सरकार का बड़ा कदम, सस्ते होंगे Pulse Oximeter जैसे कई जांच उपकरण देश में इस समय कोरोना के मामले कम हो रहे हैं। लेकिन अब भी नौ राज्यों में स्थिति चिंताजनक है। देश में मिलने वाले कुल नए केसेज में से 50 फीसदी से ज्यादा नए केस सिर्फ केरल और महाराष्ट्र में मिल रहे हैं। इन दोनों के… Continue reading Corona Update: नौ राज्यों में संकट कायम, केरल में 14 हजार से ज्यादा केसेज

सबको सबक लेना होगा

ऐसा करके सरकार ने अपनी जिम्मेदारी निभाई है। लेकिन एक और पहलू ऐसा है, जिसका निर्णय खुद सरकार के हाथ में है। इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार का रुख चिंताजनक है, जबकि उत्तराखंड सरकार का क्या रुख है, यह अभी तक साफ ही नहीं हुआ है। मामला कांवड़ यात्रा का है। increasing r factor of coronavirus : भ्रमर मुखर्जी और अमेरिका स्थित अन्य संक्रामक रोग विशेषज्ञों ने इसे चिंता की वजह बताया है कि कोरोना वायरस संक्रमण की रिप्रोडक्शन दर (आर रेट) फिर से बढ़ने लगी है। बीते हफ्ते यह 0.78 से बढ़ कर 0.88 तक पहुंच गई। इस दर का मतलब यह है कि फिलहाल भारत में एक संक्रमित व्यक्ति औसतन एक से कम व्यक्ति में संक्रमण फैला रहा है। इसे संतोष की बात कहा जा सकता है, लेकिन अगर ट्रेंड बढ़ने का हो जाए, तो ये दर कितनी जल्दी 1 या उससे ज्यादा हो जाएगी, कहना मुश्किल है। चिंता की बात लोगों की तरफ से बरती जा रही असावधानियां भी हैं। ये भी पढ़ें:- OMG : चीन के वुहान से लौटने वाली देश की ‘पहली कोरोना संक्रमित’ मेडिकल स्टूडेंट एक बार फिर से ‘कोरोना पॉजिटिव’, अबतक नहीं ली थी वैक्सीन मसलन, खुद भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बीते… Continue reading सबको सबक लेना होगा

PM Modi ने हिल स्टेशनों पर लगनी वाली भीड़ पर व्यक्त की चिंता, कहा- तीसरी लहर रोकने के लिए नियमों से ना करें समझौता

नई दिल्ली | PM Modi On Tourism : कोरोना की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के बाद पीएम मोदी ने हिल स्टेशनों पर लगने वाली भीड़ पर प्रतिक्रिया दी है. पीएम मोदी ने कहा है कि पहाड़ी पर्यटन स्थलों और बाजारों में बड़ी संख्या में बिना मास्क लगाए और सामाजिक दूरी का पालन नहीं करते हुए भीड़ का उमड़ना चिंता का विषय है. बता दें कि पीएम मोदी आज 8 पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये चर्चा कर रहे थे . इसी दौरान उन्होंने हिल स्टेशनों में होने वाली भीड़ पर चिंता व्यक्त की. पीएम ने कहा कि महामारी की तीसरी लहर से लड़ने के लिये हमें टीकाकरण अभियान को लगातार बढ़ाते रहने की जरूरत है.बैठक में असम, नगालैंड, त्रिपुरा, सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम के मुख्यमंत्रियों के साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया और अन्य लोग शामिल हुए. हिल स्टेशन और बाज़ारों में बिना मास्क और प्रोटोकॉल का पालन किए बिना भारी भीड़ का उमड़ना चिंता का विषय है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी #COVID19 pic.twitter.com/jhwgtUyjKS — ANI_HindiNews (@AHindinews) July 13, 2021 तीसरी लहर रोकने के लिये नियमों से समझौता नहीं PM Modi On Tourism : पीएम मोदी ने… Continue reading PM Modi ने हिल स्टेशनों पर लगनी वाली भीड़ पर व्यक्त की चिंता, कहा- तीसरी लहर रोकने के लिए नियमों से ना करें समझौता

और लोड करें