• डाउनलोड ऐप
Sunday, April 11, 2021
No menu items!
spot_img

Tushar Mehta

नए अटॉर्नी जनरल की तलाश!

तुषार मेहता केंद्र सरकार के सॉलिसीटर जनरल हैं। पर कहा जा सकता है कि वे ही असली अटॉर्नी जनरल भी हैं।

कौन गिद्ध है और कौन यमदूत?

देश के दूसरे नंबर के कानूनी अधिकारी तुषार मेहता ने पलायन कर रहे मजदूरों के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में पिछले हफ्ते सुनवाई के दौरान कई बेहद आपत्तिजनक बातें कहीं।

सजा पर अमल की समय सीमा जरूरी

सुशांत कुमार: निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में चार दोषियों को हुई फांसी की सजा पर अमल को लेकर चल रहे नाटकीय घटनाक्रम से कुछ जरूरी सवाल उठे हैं। सबसे पहला सवाल वहीं सनातन है कि आखिर हमारी...

निर्भया के दोषियों की फांसी टलने पर केंद्र को आपत्ति

केंद्र सरकार ने निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में चार दोषियों को फांसी की सजा में अनिश्चितकालीन रोक को 'कानूनी प्रक्रिया में रोक लगाने वाला जानबूझकर, सुनियोजित और सोचा-समझा काम' बताया।

‘हिरासत में भी गवाहों में डर पैदा कर रहे चिदंबरम’

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की तरफ से महाधिवक्ता तुषार मेहता ने आज सुप्रीम कोर्ट को बताया कि पी. चिदंबरम की उपस्थिति गवाहों में डर पैदा करती है।

प्रदूषण को नियंत्रित करने के उपाय खोजें केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

देश, खासकर राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों, में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर के मद्देनजर उच्चतम न्यायालय ने केंद्र सरकार को हाइड्रोजन आधारित ईंधन के इस्तेमाल की संभावना तलाशने को कहा है।
- Advertisement -spot_img

Latest News

चुनाव आयोग के लिए कैसे कैसे विशेषण!

हाल के दिनों में वैसे तो सभी संवैधानिक संस्थाओं की गरिमा और साख गिरी है लेकिन केंद्रीय चुनाव आयोग...
- Advertisement -spot_img